कंपनियों के तिमाही परिणाम से पहले शेयर बाजार में नरमी, सेंसेक्स 106 अंक गिरा

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jan 10 2019 5:55PM
कंपनियों के तिमाही परिणाम से पहले शेयर बाजार में नरमी, सेंसेक्स 106 अंक गिरा
Image Source: Google

बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स उथल-पुथल भरे कारोबार के बाद 106.41 अंक यानी 0.29 प्रतिशत गिरकर 36,106.50 अंक रह गया। इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 33.55 अंक यानी 0.31 प्रतिशत लुढ़ककर 10,821.60 अंक पर आ गया।

मुंबई। बड़ी कंपनियों के तिमाही परिणाम आने से पहले निवेशकों के सतर्कता बरतने तथा बैंक शेयरों में बिकवाली से बृहस्पतिवार को घरेलू शेयर बाजारों में लगातार चार दिन से जारी तेजी पर विराम लग गया। बिकवाली से सेंसेक्स 106 अंक नीचे आ गया। कारोबारियों ने कहा कि नरम वैश्विक संकेतों तथा रुपये की गिरावट से भी निवेशकों की धारणा पर असर पड़ा।
 
बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स उथल-पुथल भरे कारोबार के बाद 106.41 अंक यानी 0.29 प्रतिशत गिरकर 36,106.50 अंक रह गया। इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 33.55 अंक यानी 0.31 प्रतिशत लुढ़ककर 10,821.60 अंक पर आ गया। बैंक शेयरों में बिकवाली सेइंडसइंड बैंक, कोटक बैंक, फेडरल बैंक, एक्सिस बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, एचडीएफसी बैंक और भारतीय स्टेट बैंक के शेयर 2.36 प्रतिशत तक गिर गये।
 
इसे भी पढ़ें- आंध्र प्रदेश सरकार ने अडाणी समूह के साथ किया 70,000 करोड़ डाटा सेंटर समझोता


 
नुकसान में रहने वाली अन्य कंपनियों में ओएनजीसी, मारुति सुजुकी, सन फार्मा, एचडीएफसी, हीरो मोटो कॉर्प, आईटीसी और एचसीएल टेक के शेयर 1.31 प्रतिशत तक की गिरावट में रहे। टीसीएस का तिमाही परिणाम आने से पहले इसका शेयर 0.25 प्रतिशत टूटकर 1,883 रुपये रह गया। टाटा मोटर्स, एनटीपीसी, इंफोसिस, येस बैंक, महिंद्रा एंड महिंद्रा, एलएंडटी, भारती एयरटेल और हिंदुस्तान यूनीलिवर्स 1.34 प्रतिशत तक लाभ में रहे। प्राथमिक आंकड़ों के अनुसार, बुधवार को विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने 276.14 करोड़ रुपये की शुद्ध लिवाली की जबकि घरेलू संस्थागत निवेशकों ने भी 439.67 करोड़ रुपये की शुद्ध लिवाली की।


सैंक्टम वेल्थ मैनेजमेंट के मुख्य निवेश अधिकारी सुनील शर्मा ने कहा, ‘‘तिमाही परिणामों से इस बात के संकेत मिलेंगे कि चीजें कैसी होंगी ... स्पष्ट रूप से सूचकांक स्तर पर कारोबार वृद्धि के चार साल के नीरस प्रदर्शन के बाद निवेशकों का ध्यान अब तीसरी तिमाही परिणाम पर होगा और वह इसमें कंपनियों के आगे के बारे में व्यक्त अनुमानों पर गौर करेंगे।’’ वृहद आर्थिक मोर्चे पर रुपया 10 पैसे गिरकर 70.56 रुपये प्रति डॉलर पर रहा। कच्चा तेल 60 डॉलर प्रति बैरल के स्तर को पार कर गया।
 
एशियाई बाजारों में जापान का निक्की 1.29 प्रतिशत, दक्षिण कोरिया का कोस्पी 0.06 प्रतिशत और चीन का शंघाई कंपोजिट 0.36 प्रतिशत की गिरावट में रहा। हालांकि, हांग कांग का हैंग सेंग 0.22 प्रतिशत की बढ़त में रहा।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video