शेयर बाजार में तेजी का सिलसिला टूटा, सेंसेक्स 180 अंक गिरा

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Apr 3 2019 5:18PM
शेयर बाजार में तेजी का सिलसिला टूटा, सेंसेक्स 180 अंक गिरा
Image Source: Google

सेंकटम वेल्थ मैनेजमेंट के मुख्य निवेश अधिकारी सुनील शर्मा ने कहा कि मानक सूचकांकों में शुरूआती तेजी बरकरार नहीं रह पायी और ये स्काईमेट के मानसून सामान्य से कमजोर रहने के अनुमान के बाद गिरावट के साथ बंद हुए।

मुंबई। शेयर बाजारों में पिछले चार दिन से जारी तेजी पर बुधवार को विराम लग गया। मुनाफावसूली तथा इस साल मानसून सामान्य से कमजोर रहने के अनुमान से बीएसई सेंसेक्स करीब 180 अंक गिरकर बंद हुआ। दुनिया के अन्य प्रमुख शेयर बाजारों में तेजी के बावजूद घरेलू बाजार रिकार्ड ऊंचाई को कायम नहीं रख सका।तेल एवं गैस, दूरसंचार, धातु एवं स्वास्थ्य से जुड़ी कंपनियों के शेयर नुकसान में रहे। तीस शेयरों वाला सेंसेक्स 179.53 अंक यानी 0.46 प्रतिशत की गिरावट के साथ 38,877.12 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान सेंसेक्स में करीब 450 अंक का उतार-चढ़ाव आया। नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी भी शुरूआती बढ़त को बरकरार नहीं रख सका और 69.25 अंक यानी 0.59 प्रतिशत की गिरावट के साथ 11,643.95 अंक पर बंद हुआ। सेंकटम वेल्थ मैनेजमेंट के मुख्य निवेश अधिकारी सुनील शर्मा ने कहा कि मानक सूचकांकों में शुरूआती तेजी बरकरार नहीं रह पायी और ये स्काईमेट के मानसून सामान्य से कमजोर रहने के अनुमान के बाद गिरावट के साथ बंद हुए।


उन्होंने कहा, ‘‘रिजर्व बैंक की बृहस्पतिवार को होने वाली मौद्रिक नीति समीक्षा की घोषणा से पहले यह गिरावट आयी। रिजर्व बैंक की ओर से आर्थिक वृद्धि को गति देने के इरादे से नीतिगत दर में 0.25 प्रतिशत की कटौती की उम्मीद की जा रही है। हालांकि, यह भी माना जा रहा है कि मानसून के कमजोर रहने तथा पहले से धीमी आर्थिक वृद्धि के साथ मुद्रास्फीति में नरमी को देखते हुए आरबीआई नीतिगत दर में ऊंची कटौती कर सकता है...।’’ आरबीआई की मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) की तीन दिवसीय बैठक दो अप्रैल को शुरू हुई और चार अप्रैल तक चलेगी। चालू वित्त वर्ष की पहली द्विमासिक मौद्रिक नीति समीक्षा के परिणाम की घोषणा कल की जायेगी।
सेंसेक्स के शेयरों में एसबीआई सर्वाधिक नुकसान में रहा। इसमें 2.40 प्रतिशत की गिरावट आयी। इसके अलावा यस बैंक, भारती एयरटेल, एल एंड टी, सन फार्मा, महिंद्रा एंड महिंद्रा, आईसीआईसीआई बैंक, ओएनजीसी, आरआईएल, एशियन पेंट्स, वेदांमता तथा एचयूएल में 2.37 प्रतिशत तक की गिरावट दर्ज की गयी। वहीं दूसरी तरफ मारुति, एचसीएल टेक, एचडीएफसी, टाटा स्टील, पावर ग्रिड, हीरो मोटो कार्प तथा टीसीएस 2.78 प्रतिशत तक लाभ में रहे।


 
इस बीच, अस्थायी आंकड़ों के अनुसार विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) पूंजी बाजार में शुद्ध रूप से लिवाल रहे। उन्होंने मंगलवार को 543.36 करोड़ रुपये की पूंजी डाली। वहीं घरेलू संस्थागत निवेशकों ने 437.70 करोड़ रुपये के शेयर बेचे। एशिया के अन्य बाजारों में हांगकांग का हैंग सेंग 1.22 प्रतिशत, कोरिया का कोस्पी 1.20 प्रतिशत, जापान का निक्की 0.97 प्रतिशत तथा शंघाई कंपोजिट सूवकांक 1.24 प्रतिशत मजबूत हुए। यूरोप के प्रमुख बाजारों में शुरूआती कारोबार में फ्रैंकफर्ट का डीएएक्स 1.33 प्रतिशत तथा पेरिस सीएसी40-0.74 प्रतिशत मजबूत हुए जबकि लंदन का एफटीएसई 0.04 प्रतिशत नीचे आया। 
 
 


रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video