सेंसेक्स 232 अंक चढ़कर 36,000 अंक के पार, निफ्टी भी मजबूत

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jan 9 2019 6:04PM
सेंसेक्स 232 अंक चढ़कर 36,000 अंक के पार, निफ्टी भी मजबूत

सेंसेक्स की कंपनियों में एक्सिस बैंक, आईटीसी, टाटा मोटर्स, भारती एयरटेल, एचडीएफसी, इंडसइंड बैंक, हिंदुस्तान यूनिलीवर, इन्फोसिस, एचडीएफसी बैंक, मारुति, आईसीआईसीआई बैंक 2.94 प्रतिशत तक चढ़ गए।

मुंबई। शेयर बाजारों में बुधवार को लगातार चौथे कारोबारी सत्र में तेजी का सिलसिला जारी रहा और सेंसेक्स 232 अंक की बढ़त के साथ 36,000 अंक के स्तर को पार कर गया। अमेरिका और चीन के बीच चल रही व्यापार वार्ताओं में विवादों के समाधान की उम्मीद से वैश्विक शेयर बाजारों में सकारात्मक रुझान का स्थानीय बाजार पर भी अनुकूल असर दिखा। कंपनियों के तिमाही नतीजों से पहले निवेशकों की लिवाली से भी तेजी के रुख को समर्थन मिला।
 
बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 36,181.37 अंक पर बढ़त के साथ खुला और यह दिन के उच्चस्तर 36,250.54 अंक पर पहुंचा। अंत में सेंसेक्स 231.98 अंक या 0.64 प्रतिशत की बढ़त के साथ 36,212.91 अंक पर बंद हुआ। इससे पिछले तीन सत्रों में सेंसेक्स 467 अंक चढ़ा था। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 53 अंक या 0.49 प्रतिशत की बढ़त के साथ 10,855.15 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह 10,870.40 से 10,749.40 अंक के दायरे में रहा।
 
 
सेंसेक्स की कंपनियों में एक्सिस बैंक, आईटीसी, टाटा मोटर्स, भारती एयरटेल, एचडीएफसी, इंडसइंड बैंक, हिंदुस्तान यूनिलीवर, इन्फोसिस, एचडीएफसी बैंक, मारुति, आईसीआईसीआई बैंक 2.94 प्रतिशत तक चढ़ गए। वहीं दूसरी ओर यस बैंक, टाटा स्टील, हीरो मोटोकॉर्प, ओएनजीसी, बजाज फाइनेंस, एनटीपीसी, एचसीएल टेक और टीसीएस के शेयरों में 3.07 प्रतिशत तक का नुकसान रहा। 


विश्वबैंक का अनुमान है कि चालू वित्त वर्ष में भारत की सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की वृद्धि दर 7.3 प्रतिशत रहेगी। अगले दो वित्त वर्षों में यह 7.5 प्रतिशत रहेगी। कारोबारियों ने कहा कि इससे भी बाजार की धारणा में सुधार हुआ। इस बीच, शेयर बाजारों के अस्थायी आंकड़ों के अनुसार घरेलू संस्थागत निवेशकों ने मंगलवार को 698.17 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे। वहीं विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने 553.78 करोड़ रुपये के शेयर बेचे। 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप


Related Story