• बाजार नई ऊंचाई पर बंद, सेंसेक्स 54 हजार अंक के पार हुआ बंद, निफ्टी की लंबी छलांग

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 35.80 अंक यानी 0.22 प्रतिशत मजबूत होकर नये रिकार्ड स्तर 16,294.60 अंक (रिपीट 16,294.60 अंक) पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह 16,349.45 अंक के उच्चतम स्तर तक चला गया था।

मुंबई। शेयर बाजारों में बृहस्पतिवार को लगातार चौथे दिन तेजी रही और बीएसई सेंसेक्स 123.07 अंक की मजबूती के साथ नये रिकार्ड स्तर पर बंद हुआ। सूचकांक में मजबूत हिस्सेदारी रखने वाले रिलायंस इंडस्ट्रीज, एचडीएफसी बैंक और आईटीसी में तेजी के साथ बाजार चढ़ा। तीस शेयरों पर आधारित सेंसेक्स कारोबार के दौरान 54,717.24 अंक के अबतक के उच्चतम स्तर तक चला गया था। लेकिन अंत में यह 123.07 अंक यानी 0.23 प्रतिशत की बढ़त के साथ 54,492.84 अंक पर बंद हुआ। इसी प्रकार, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 35.80 अंक यानी 0.22 प्रतिशत मजबूत होकर नये रिकार्ड स्तर 16,294.60 अंक (रिपीट 16,294.60 अंक) पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह 16,349.45 अंक के उच्चतम स्तर तक चला गया था।

इसे भी पढ़ें: एयर इंडिया को 31 मार्च, 2020 तक लगभग 70,820 करोड़ रुपये का घाटा: सरकार

सेंसेक्स के शेयरों में करीब 4 प्रतिशत की तेजी के साथ सर्वाधिक लाभ में भारती एयरटेल का शेयर रहा। इसके अलावा, आईटीसी, टेक महिंद्रा, टाटा स्टील और एचसीएल टेक में भी अच्छी तेजी रही। दूसरी तरफ, गिरावट वाले शेयरों में भारतीय स्टेट बैंक, इंडसइंड बैंक, बजाज फाइनेंस और आईसीआईसीआई बैंक शामिल हैं। रिलायंस सिक्योरिटीज के रणनीति प्रमुख विनोद मोदी ने कहा, ‘‘आईटी और धातु शेयरों में तेजी से घरेलू मानक सूचकांकों में मजबूती बनी रही और वे नई ऊंचाई पर पहुंचे पहुंचे। इसके अलावा, दैनिक उपयोग का सामान बनाने वाली कंपनियों (एफएमसीजी) और रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयरों में तेजी से भी बाजार को समर्थन मिला।’’ उन्होंने कहा कि हालांकि तेजी कोई चौतरफा नहीं रही और मझोले तथा छोटी कंपनियों के शेयरों में मुनाफावसूली देखी गयी। एशिया के अन्य बाजारों में शंघाई, हांगकांग और सियोल नुकसान में रहे जबकि टोक्यो में तेजी रही। यूरोप के प्रमुख बाजारों में मध्याह्न कारोबार में सकारात्मक रुख रहा। इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.72 प्रतिशत की बढ़त के साथ 70.89 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया।