तीन सत्रों की गिरावट के बाद बाजार मजबूत, सेंसेक्स 373 अंक चढ़ा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 26, 2018   17:44
तीन सत्रों की गिरावट के बाद बाजार मजबूत, सेंसेक्स 373 अंक चढ़ा

इसके अलावा सकारात्मक वैश्विक संकेतों तथा वृहद आर्थिक परिदृश्य में सुधार से भी बाजार चढ़े। विश्लेषकों ने कहा कि बाजार सकारात्मक स्थिति पर अपनी प्रतिक्रिया देगा।

मुंबई। बंबई शेयर बाजार में तीन दिन से जारी गिरावट के सिलसिले पर सोमवार को ब्रेक लगा और सेंसेक्स 373 अंक की छलांग लगा गया। मुख्य रूप से वाहन, एफएमसीजी और बैंकिंग शेयरों में लिवाली उभरने, रुपये में सुधार और कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट से निवेशकों की धारणा को बल मिला। इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी करीब 102 अंक चढ़कर एक बार फिर 10,600 अंक के स्तर पर पहुंच गया। 

इसके अलावा सकारात्मक वैश्विक संकेतों तथा वृहद आर्थिक परिदृश्य में सुधार से भी बाजार चढ़े। विश्लेषकों ने कहा कि बाजार सकारात्मक स्थिति पर अपनी प्रतिक्रिया देगा। विशेषरूप से गैर बैंकिंग वित्तीय कंपनियों की नकदी संकट की स्थिति में सुधार पर। पिछले महीने हुए नुकसान के बाद अब भारतीय रुपये में कुछ सुधार हुआ है। इसके अलावा कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट तथा घरेलू अर्थव्यवस्था की संभावनाओं में सुधार से भी बाजार धारणा मजबूत हुई। 

बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स कारोबार के दौरान करीब 500 अंक ऊपर नीचे होने के बाद अंत में 373.06 अंक या 1.07 प्रतिशत की बढ़त के साथ 35,354.08 अंक पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 101.85 अंक या 0.97 प्रतिशत की बढ़त के साथ 10,628.60 अंक पर बंद हुआ। सरकार ने सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में मार्च अंत तक 42,000 करोड़ रुपये की पूंजी डालने की घोषणा की है। इससे बैंकों के शेयरों में सुधार हुआ। 

हीरो मोटोकॉर्प, हिंदुस्तान यूनिलीवर, विप्रो, एशियन पेंट्स, एक्सिस बैंक, इंडसइंड बैंक, बजाज आटो, एचडीएफसी बैंक, आईटीसी, भारती एयरटेल, टीसीएस और मारुति के शेयर 5.02 प्रतिशत तक चढ़ गए। वहीं यस बैंक, ओएनजीसी, सनफार्मा, वेदांता, कोल इंडिया, टाटा स्टील और एनटीपीसी के शेयरों में 3.89 प्रतिशत का नुकसान रहा। रुपया 70.68 प्रति डॉलर पर मजबूत चल रहा था। इस बीच, शेयर बाजारों के अस्थायी आंकड़ों के अनुसार विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने बृहस्पतिवार को 446 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे। वहीं घरेलू संस्थागत निवेशक 49.68 करोड़ रुपये के लिवाल रहे। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।