कोरोना ने बढ़ाई मेकअप आर्टिस्ट की मुश्किलें! त्यौहार में भी नहीं हो रही कमाई

कोरोना ने बढ़ाई मेकअप आर्टिस्ट की मुश्किलें! त्यौहार में भी नहीं हो रही कमाई

मास्क के कारण मेकअप का ट्रेंड काफी बदल रहा है। आरजे स्टूडियो की मेकअप आर्टिस्ट रशिम जानी के मुताबिक सरकार ने जैसे ही अनलॉक की प्रक्रिया शुरू की तब से ही काम शुरू हो गया लेकिन पहले जैसी बात नहीं रही।कारोबार में अनलॉक के बाद कोई तेजी नहीं आई है।इस दौरान जिन-जिन की शादियां हुई उससे थोड़ा बहुत मुनाफा हुआ।

फैस्टिवल सीजन शुरू हो गया है लेकिन बाजार में पहले जैसी रौनक नहीं रही। कोरोना महामारी के कारण सारे त्यौहार भी फिके पड़ गए है। मेकअप आर्टिस्ट का काम रूक गया है और अगर काम हो भी हो रहा है तो पहले जैसी कमाई नहीं हो रही है। पिछले साल तीज में जिस मेकअप स्टूडियों में बैठने तक की जगह नहीं होती थी आज उसी स्टूडियों में महज 20 फीसदी लोग ही नजर आ रहे है। इस महामारी ने एक तरफ खर्चे बढ़ाए है तो दूसरी और इन्ही पार्लर वालों को अपनी रोजी-रोटी चलाने के लिए कम रेट में ही कई ऑफर शुरू करना पड़ रहा है। बता दें कि मास्क के कारण मेकअप का ट्रेंड काफी बदल रहा है। आरजे स्टूडियो की मेकअप आर्टिस्ट रशिम जानी के मुताबिक सरकार ने जैसे ही अनलॉक की प्रक्रिया शुरू की तब से ही काम शुरू हो गया लेकिन पहले जैसी बात नहीं रही। कारोबार में अनलॉक के बाद कोई तेजी नहीं आई है। इस दौरान जिन-जिन की शादियां हुई उससे थोड़ा बहुत मुनाफा हुआ लेकिन कस्टमर अब नए डिमांड करने लगे है। कस्टमर अब पार्लर में गैंदरिंग के हिसाब से पैसे चार्ज करते है। त्यौहार शुरू होने से इन मेकअप आर्टिस्ट को थोडी राहत मिली है। जिनकी शादियां अभी-अभी हुई है उनकी पहली तीज होने के कारण कई कस्टमर लाइट मेकअप कराने पार्लर जा रहे है।

कोरोना महामारी के बीच ये भी उम्मीद लगाई जा रही है कि इस साल के अंत तक इन सेक्टरों में मजबूती आएगी। एक और मेकअप आर्टिस्ट ने बताया कि लोग अब घरों में रहकर मेकअप करवा रहे है। इस वक्त सिर्फ लाइट मेकअप ही ज्यादा करवाया जा रहा है। मेकअप आर्टिस्ट के मुताबिक पार्लर को पूरी तरह सैनिटाइज किया जाता है। कोई अगर मेकअप कराने आता भी है तो उसे भी पूरा सैनिटाइज किया जाता है।

मास्क पहनकर मेकअप करना पड़ रहा है इन आर्टिस्ट को मुश्किल

रश्मि जानी ने बताया कि मास्क इस वक्त हमारी परेशानी बनी हुई है कयोंकि मास्क पहनकर मेकअप करना मुशिकल होता है इससे काफी परेशानी आती है। सांस लेने के लिए हमे दूर जाना पड़ता है। जहां एक मेकअप में सिर्फ 45 मिनट लगते थे आज इसमें दोगुना वक्त लग रहा है। हर चीज को सैनिटाइज करना और काफी वक्त लेकर मेकअप करना थोड़ी मुश्किलें बढ़ा रहा है। मेकअप प्रोडक्टस के साथ सौनिटाइजर, मास्क हर एक चीजों का दाम काफी बढ़ गया है। तीज के बाद, राखी, दिवाली, करवाचौथ पर भी इसका असर ऐसा ही रहेगा। पहले एक मेकअप के 20 हजार तक लिए जाते थे लेकिन अब केवल 12 से 15 हजार में ही मेकअप हो रहा है।