उतार-चढ़ाव भरे कारोबार में सेंसेक्स 66 अंक की बढ़त के साथ हुआ मजबूत

today-sensex-rate-19-june-2019
नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी 11,691.45 अंक पर लगभग स्थिर बंद हुआ। सेंसेक्स के लाभ में रहने वाले प्रमुख शेयरों में टाटा स्टील, कोटक बैंक, एनटीपीसी, एचडीएफसी बैंक तथा एचडीएफसी, पावरग्रिड और ओएनजीसी शामिल हैं। इनमें 4.60 प्रतिशत तक की तेजी आयी।

मुंबई। बीएसई सेंसेक्स बुधवार को उतार-चढ़ाव भरे कारोबार में 66 अंक की बढ़त के साथ बंद हुआ। अमेरिकी फेडरल रिजर्व की बैठक का नतीजा आने से पहले ज्यादातर निवेशक बाजार से दूर रहे। सेंसेक्स में कारोबार के दौरान करीब 400 अंक की तेजी आयी लेकिन अंत में यह 66.40 अंक यानी 0.17 प्रतिशत की तेजी के साथ 39,112.74 अंक पर बंद हुआ। नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी 11,691.45 अंक पर लगभग स्थिर बंद हुआ। सेंसेक्स के लाभ में रहने वाले प्रमुख शेयरों में टाटा स्टील, कोटक बैंक, एनटीपीसी, एचडीएफसी बैंक तथा एचडीएफसी, पावरग्रिड और ओएनजीसी शामिल हैं। इनमें 4.60 प्रतिशत तक की तेजी आयी।

इसे भी पढ़ें: बंबई शेयर बाजार में गिरावट का सिलसिला रूका, सेंसेक्स 86 अंक चढ़ा

दूसरी तरफ येस बैंक, टाटा मोटर्स, हीरो मोटो कार्प, इंडस इंड बैंक, महिंद्रा एंड महिंद्रा, भारती एयरटेल और बजाज आटो 5.54 प्रतिशत तक टूट गये। आनंद राठी शेयर्स एंड स्टॉक ब्रोकर्स के प्रमुख बुनियादी शोध (निवेश सेवा)- एवीपी इक्विटी रिसर्च नरेंद्र सोलंकी ने कहा कि एशिया के अन्य बाजारों में तेजी के साथ घरेलू बाजार बढ़त के साथ खुला। इस उम्मीद में बाजार में तेजी आयी कि अमेरिकी फेडरल रिजर्व निकट भविष्य में दरों में कटौती कर सकता है। पुन: अगले सप्ताह अमेरिका-चीन के बीच व्यापार वार्ता की रिपोर्ट से वैश्विक बाजारों को बल मिला। हालांकि, बाद में सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों, वाहन, औषधि तथा आईटी कंपनियों के शेयरों में बिकवाली से बाजार ज्यादा तेजी को बरकरार नहीं रख पाया।

इसे भी पढ़ें: वैश्विक बाजार पड़ा नरम, सेंसेक्स में लगातार तीसरे दिन आई गिरावट

सोलंकी ने कहा कि बाजार को रिजर्व बैंक के बयान से भी राहत नहीं मिली। बयान में कहा गया था कि वह नकदी की स्थिति में सुधार को लेकर सरकारी बांड खरीदकर 12,500 करोड़ रुपये की नकदी उपलब्ध काराएगा। खंडवार सूचकांकों में बीएसई रीयल्टी, उपभोक्ता टिकाऊ, धातु, बिजली तथा रोजमर्रा के इस्तेमाल का सामान बनाने वाली कंपनियों का सूचकांक 1.20 प्रतिशत तक मजबूत हुए। हालांकि, स्वास्थ्य, वाहन, दूरसंचार, उद्योग, तेल एवं गैस तथा ऊर्जा सूचकांकों में 1.49 प्रतिशत तक की गिरावट आयी। इस बीच, शेयर बाजारों के पास उपलब्ध आंकड़े के अनुसार विदेशी संस्थागत निवेशकों ने मंगलवार कोशुद्ध रूप से 31.73 करेड़ रुपये मूल्य के शेयर खरीदे। एशिया के अन्य बाजारों में हांगकांग का हैंग सेंग 2.56 प्रतिशत, चीन का शंघाई कंपोजिट सूचकांक 0.96 प्रतिशत, जापान का निक्की 1.72 प्रतिशत तथा दक्षिण कोरिया का कोस्पी 1.24 प्रतिशत मजबूत हुए। वहीं यूरोप के प्रमुख बाजारों में शुरूआती कारोबार में मिला-जुला रुख देखने को मिला।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़