वोडाफोन आइडिया ने कहा, उद्योग को नियमित अंतराल पर टैरिफ बढ़ाने की जरूरत

Vodafone
Google Free License
दूरसंचार परिचालक वोडाफोन आइडिया लिमिटेड ने कहा कि उद्योग को नियमित अंतराल पर मोबाइल टैरिफ बढ़ाने की जरूरत है। कंपनी का कहना है कि टैरिफ अभी भी काफी कम हैं और बढ़ोतरी से इसे उचित प्रतिफल पाने तथा भविष्य में निवेश करने में मदद मिलेगी।

नयी दिल्ली। दूरसंचार परिचालक वोडाफोन आइडिया लिमिटेड ने कहा कि उद्योग को नियमित अंतराल पर मोबाइल टैरिफ बढ़ाने की जरूरत है। कंपनी का कहना है कि टैरिफ अभी भी काफी कम हैं और बढ़ोतरी से इसे उचित प्रतिफल पाने तथा भविष्य में निवेश करने में मदद मिलेगी। आदित्य बिड़ला समूह और वोडाफोन समूह के संयुक्त उद्यम ने कहा कि प्रति उपयोगकर्ता राजस्व ऐतिहासिक रुझानों की तुलना में कम है। पिछले साल सरकार द्वारा इस क्षेत्र को राहत पैकेज देने के बाद कंपनी को नयी जिंदगी मिली थी।

इसे भी पढ़ें: बाटला हाउस में ISIS का आतंकी, सीरिया भेजता था पैसे, एक दिन की रिमांड पर भेजा गया

सभी तीन निजी दूरसंचार परिचालकों - रिलायंस जियो, भारती एयरटेल और वोडाफोन-आइडिया लिमिटेड (वीआईएल) ने पिछले साल में डेटा के लिए शुल्क बढ़ाया है। इन कंपनियों के प्रति उपयोगकर्ता औसत राजस्व (एआरपीयू) में भी बढ़ोतरी हुई है। वीआईएल ने अपनी नवीनतम वार्षिक रिपोर्ट में कहा, ‘‘उद्योग अभी भी अनिश्चित रूप से कम टैरिफ पर चल रहा है।’’

इसे भी पढ़ें: CWG 2022: भारत ने पुरुष त्रिकूद में ऐतिहासिक स्वर्ण और रजत पदक जीता

कंपनी ने आगे कहा, ‘‘भारत में आज भी वैश्विक स्तर पर सबसे कम टैरिफ है, जबकि असीमित डेटा पैक के चलते भारत दुनिया में सबसे अधिक डेटा उपयोग (प्रति ग्राहक) करने वाले देशों में शामिल है।’’ वीआईएल ने कहा, ‘‘इस प्रकार कंपनी का मानना ​​​​है कि उद्योग को नियमित अंतराल पर टैरिफ बढ़ाना होगा, जो परिचालकों के लिए अपनी पूंजी पर उचित प्रतिफल पाने और नयी प्रौद्योगिकियों सहित भविष्य के निवेश का समर्थन करने के लिए जरूरी है।’’ वीआईएल के 31 मार्च 2022 तक 24.38 करोड़ ग्राहक थे, जिनमें से 11.81 करोड़ 4जी उपयोगकर्ता थे।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़