योगी सरकार ने पेश किया 8054 करोड रूपये का अनुपूरक बजट

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Dec 19 2018 5:15PM
योगी सरकार ने पेश किया 8054 करोड रूपये का अनुपूरक बजट
Image Source: Google

बजट के मुख्य बिन्दुओं को समझाते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बाद में संवाददाताओं से कहा, ''हमारी सरकार ने 2018—19 में जब अपना बजट पेश किया था

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने आज विधानसभा में 8054 करोड रूपये का दूसरा अनुपूरक बजट पेश किया । बजट में बुनियादी ढांचा सुविधाओं, स्वास्थ्य, सडक निर्माण, शौचालय, आवास निर्माण के अलावा अयोध्या में हवाई अडडा निर्माण से लेकर जेवर में नए अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे के लिए प्रावधान है। वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने शीतकालीन सत्र के दूसरे दिन सदन में दूसरा अनुपूरक बजट पेश किया । अनुपूरक बजट में अयोध्या और जेवर के हवाई अडडों, स्वच्छ भारत मिशन :ग्रामीण:, कुंभ मेला और अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर बनने वाले चिकित्सा विश्वविद्यालय के लिए प्रावधान किया गया है ।
 


बजट के मुख्य बिन्दुओं को समझाते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बाद में संवाददाताओं से कहा, 'हमारी सरकार ने 2018—19 में जब अपना बजट पेश किया था तो प्रयास था कि देश का सबसे बडा राज्य होने के नाते 23 करोड आबादी को बिना भेदभाव के शासन की योजनाओं का लाभ मिले । बजट के आकार को हम लोगों ने बढाया था ।'

इसे भी पढ़ें- निवेश-बैंक आईपीओ में शेयर की कीमतें ठीक रखने पर ध्यान दें : सेबी



उन्होंने कहा, 'सबसे बडी बात ये है कि 30 नवंबर तक हमारी सरकार और विभिन्न विभागों ने जो बजट विधान मंडल से मंजूर हुए थे उसकी एक बडी राशि को खर्च कर लिया है । दो लाख 63 हजार करोड रूपये से अधिक राशि विभिन्न विभागों ने खर्च कर ली है । प्रदेश भर में कार्य युद्धस्तर पर चल रहे हैं ।' योगी ने बताया कि इस दौरान प्रदेश ने राजस्व में भी काफी वृद्धि की है । जीएसटी में प्रदेश ने 9970 करोड रूपये अधिक अर्जित किया है । आबकारी में लक्ष्य से 4895 करोड रूपये की अधिक प्राप्ति गत वर्ष की तुलना में हुई है । इसी तरह स्टांप एवं रजिस्ट्रेशन से 1594 करोड रूपये, परिवहन विभाग से 400 करोड रूपये, खनन में 658 करोड रूपये से अधिक की राशि राजस्व के मद में प्राप्त की है । 
 
उन्होंने बताया कि मंडी समिति किसानों की दृष्टि से काफी महत्वपूर्ण होती है जो प्रदेश में 12—15 वर्षों से उपेक्षित थी और कुछ लोगों के लिए मंडी समिति किसानों के शोषण का एक जरिया बन चुकी थी । योगी ने कहा कि उनकी सरकार ने इन मंडियों के आधुनिकीकरण की प्रक्रिया को आगे बढाया । विगत वर्ष इसकी आय में काफी वृद्धि हुई है । इस वर्ष 30 नवंबर तक 218 करोड रूपये की अतिरिक्त आय मंडी समिति ने की। मंडी समिति ने 2000 किलोमीटर से अधिक सडकों के सुदृढीकरण और चौडीकरण का कार्य अपने संसाधनों से किया। प्रदेश की 234 से अधिक मंडियों के आधुनिकीकरण, सौन्दर्यीकरण और विस्तारीकरण की कार्ययोजना शुरू की गयी। 
 


उन्होंने बताया कि अनुपूरक बजट में केन्द्र सरकार की मुख्य स्कीमों को प्राथमिकता दी गयी है । खासकर प्रदेश की अंतिम पायदान पर बैठे व्यक्ति के लिए जो योजनाएं हैं, उसको ध्यान में रखकर हमने इन योजनाओं को आगे बढाया है । मुख्यमंत्री ने कहा कि पहले प्रदेश में केवल दो हवाई अडडे लखनऊ और वाराणसी में थे लेकिन आज छह हवाई अडडे :जिनमें गोरखपुर, कानपुर, प्रयागराज और आगरा जुडे: हैं । नौ हवाई अड्डों पर कार्य चल रहा है जहां आने वाले समय में पुरानी हवाई पटटी को हवाई अडडे के रूप में बदलेंगे । जेवर में अंतरराष्ट्रीय ग्रीनफील्ड हवाई अडडा बन रहा है ।अनुपूरक बजट में उसके लिए व्यवस्था की गयी है । अयोध्या में भी एयरपोर्ट के लिए धनराशि की व्यवस्था इस बजट में की है ।
 
 
मुख्यमंत्री ने बताया कि स्वच्छ भारत मिशन में प्रदेश ने पूरे देश में सबसे अच्छी छलांग लगायी है । जब यह मिशन शुरू हुआ था, तब उत्तर प्रदेश का कवरेज केवल 23 प्रतिशत था । उस समय राष्ट्रीय कवरेज 66 प्रतिशत था । 'मुझे बताते हुए प्रसन्नता है कि दो करोड 49 लाख से अधिक शौचालय गरीबों के लिए बनाकर प्रदेश ने लंबी छलांग लगायी है । देश में बेस लाइन सर्वे के अनुरूप पूरे प्रदेश को ओडीएफ घोषित किया जा चुका है । लेकिन बेस लाइन सर्वे के बाहर भी एक बडी संख्या छूटी है । ऐसे करीब 44 लाख परिवार हैं । उनके लिए शौचालय बनाने की प्रक्रिया शुरू की गयी है । इसके लिए भारत सरकार के सहयोग से अनुपूरक बजट में प्राथमिकता दी गयी है ।'
 
उन्होंने बताया कि पूरे देश में सर्वाधिक आवास उत्तर प्रदेश में यानी ग्रामीण क्षेत्र में 11 लाख से अधिक आवास तथा शहरी क्षेत्र में सवा सात लाख से अधिक आवास बन रहे हैं । इसके लिए भी पर्याप्त धनराशि का प्रावधान अनुपूरक बजट में करने का प्रयास किया है । 
 
योगी ने बताया कि लोक निर्माण विभाग यानी पीडब्ल्यूडी को पर्याप्त धनराशि दी गयी है। आज के अनुपूरक बजट को मिलकर देखेंगे तो पीडब्ल्यूडी के हिस्से में पूरे बजट की लगभग 24 हजार करोड रूपये की राशि सडकों के उन्नयन, चौडीकरण सुदृढीकरण करने और पुल बनाने के लिए दी गयी है । 
 
चिकित्सा और स्वास्थ्य क्षेत्र की चर्चा करते हुए योगी ने बताया कि गोरखपुर में एम्स का निर्माण युद्धस्तर पर चल रहा है रायबरेली एम्स में जुलाई में ओपीडी शुरू कर दिया है । वाराणसी में अत्याधुनिक कैंसर संस्थान के लिए युद्धस्तर पर कार्य चल रहा है । उन्होंने बताया कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर चिकित्सा विश्वविद्यालयच बनाने का निर्णय लिया गया है । इस अनुपूरक में इसके लिए भी धनराशि का प्रावधान किया गया है ।
 
 
योगी ने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी ने अपना सार्वजनिक जीवन बलरामपुर से शुरू किया था इसलिए वहां केजीएमयू का सेटेलाइट सेंटर वाजपेयी के नाम पर खोलने और उसे मेडिकल कालेज के रूप में विकसित करने के लिए हमने अनुपूरक बजट में धनराशि की व्यवस्था की है । उन्होंने बताया कि विगत पौने दो वर्ष के दौरान प्रदेश में एक लाख करोड रूपये का निवेश हुआ है । हमने सेकण्ड ग्राउण्ड ब्रेकिंग सेरेमनी की तैयारी की है । जिसमें एक लाख करोड रूपये का नया निवेश प्रदेश में होगा ।
 
योगी ने कहा कि निवेशक अब उत्तर प्रदेश को निवेश का अच्छा गंतव्य मान रहे हैं क्योंकि उन्हें लगता है कि प्रदेश में सपा—बसपा ने जो गुंडागर्दी, अराजकता और भ्रष्टाचार पैदा किया, हमने उसे खत्म कर सुरक्षा, सुशासन और विकास का वातावरण दिया है। उससे निवेश और पर्यटन की संभावनाएं बढी हैं । आज देश और दुनिया का हर निवेशक प्रदेश में निवेश का इच्छुक है।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video