JEE Main 2019: आजमाइए यह बहुमूल्य टिप्स, मिलेगी परीक्षा में कामयाबी

By करन ठाकुर | Publish Date: Sep 28 2018 2:37PM
JEE Main 2019: आजमाइए यह बहुमूल्य टिप्स, मिलेगी परीक्षा में कामयाबी

JEE Main 2019 के पहले सत्र की परीक्षा 6 जनवरी से 20 जनवरी के बीच होगी। परीक्षा में अब मात्र चार महीने का समय बचा है। लाखों छात्रों कई महीनों से जी जान से इसकी तैयारी कर रहे हैं, ताकि IIT जैसे संस्थान में उनका दाखिला हो सके।

JEE Main 2019 के पहले सत्र की परीक्षा 6 जनवरी से 20 जनवरी के बीच होगी। परीक्षा में अब मात्र चार महीने का समय बचा है। लाखों छात्रों कई महीनों से जी जान से इसकी तैयारी कर रहे हैं, ताकि IIT जैसे संस्थान में उनका दाखिला हो सके। ज्यादतर स्टूडेंट्स की तैयारी अब अंतिम चरण में है। कई छात्रों का कहना होता है कि वह हर परीक्षा में मन लगाकर और पूरी मेहनत से तैयारी करते हैं। लेकिन तैयारी के मुताबिक रिजल्ट नहीं मिलता है। 

 
आज हम आपको इसी प्रॉब्लम का हल देंगे। आपकी रणनीति क्या होनी चाहिए और आपको कैसे पढ़ाई करनी है, जिससे आप टॉप कर सके। नीचे पढ़ें अंतिम पलों के लिए कुछ बहुमूल्य के टिप्स जो आपको परीक्षा में पास होने के साथ अच्छी रैंकिग हासिल करने में मदद करेगा।
 


अंतिम पलों के टिप्स
 
रिविजन बिन सब सून- परीक्षा चाहे कोई भी हो अगर आपने रिविजन नहीं किया तो आपकी सारी मेहनत बेकार जा सकती है। चाहे आपको कॉन्सेप्ट कितना ही मज़बूत क्यों ना हो, जितनी भी तैयारी अब तक आपने की है उसे एक बार दोहरा लीजिए। आपने जो शॉर्ट नोट बनाए हैं उन्हें भी एक बार जरूर देखें। आखिरी समय में नया नहीं पढ़े उससे आप कन्फ्यूज हो सकते हैं। और इस चक्कर में दूसरे प्रश्नों को भी गलत कर सकते हैं।
 
फॉर्मूलों को दिमाग में बसा लें- गणित, भौतिकी और रसायण विज्ञानं के फॉर्मूले आपके जुबां पर होने चाहिए। इसके लिए आपको सभी फॉर्मूले को एक जगह पर नोट करना चाहिए। और इस नोट को टेबल पर रख दीजिए या अपने कमरे में लगा दीजिए। जिससे हर बार उस पर आपकी नजर पड़ती रहे।
 


पुराने सालों के पेपर सॉल्व करें- जितनी प्रैक्टिस आप पुराने सालों के पेपर्स हल करने की करेंगे। परीक्षा में सफल होने के उतने ही चांसेज बढ़ जाएंगे। कम से कम आपको हर रोज एक पेपर सॉल्व करना चाहिए। इससे आपको पेपर का पैटर्न, क्वैश्चन, किस सेक्शन से कितने प्रश्न आते हैं और उनका डिफिकल्टी लेवल का पता लग जाएगा। साथ ही आपको टाइम मैनेजमेंट के बारे में भी अनुभव हो जाएगा।
 
मॉक टेस्ट से होगा बेस्ट- एनटीए ने छात्रों की सुविधा के लिए मॉक टेस्ट शुरू किया है। इसका आपको ज्यादा से ज्यादा फायदा उठाना चाहिए। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने देश के 662 के जिलों में करीब 3400 टेस्ट प्रैक्टिस सेंटर बनाए हैं। यहां परीक्षार्थियों को रजिस्टर करने और कंप्यूटर आधारित परीक्षा के लिए प्रैक्टिस करने में मदद मिलेगी। 
 
सिलेक्टेड टॉपिक्स पर फोकस रहे- वैसे तो JEE Mains परीक्षा में पास होने के लिए पूरा सिलेबस पढ़ना जरूरी है। सफलता का कोई शॉर्टकट नहीं होता है। लेकिन अंतिम समय में आपको चयनित टॉपिक्स पर ही ज्यादा ध्यान देना चाहिए। साथ ही आपको पढ़ाई के बीच में ब्रेक जरूर लेना चाहिए। परीक्षा से पहले लगातार कई घंटे पढ़ने से आपको थकान महसूस हो सकती है। और इसका सीधा असर पेपर पर पड़ेगा


 
एग्‍जाम के लिए स्‍ट्रेटेजी बनाएं-परीक्षा के लिए आपको पहले से ही रणनीति बना लेने चाहिए। आपका कौन-सा सेक्शन मजबूत है। कौन-सा कमजोर इस पर ध्यान रहना चाहिए। पेपर हल करने से पहले उसे ध्यान पूर्वक पढ़ लें।
 
गेस करने से बचें– परीक्षा नेगेटिव मार्किंग का प्रावधान है। इसलिए जिस प्रश्न के लिए आप पूरी तरह कॉन्फिडेंट हो उसी का जवाब दें। उस प्रश्न पर अपना टाइम बर्बाद ना करें। जो आपको आ नहीं रहा है। इसके चक्कर में वो प्रश्न ना छूट जाए जो आपको आते हैं।
 
स्पीड, एक्यूरेसी और टाइम मैनजमेंट-पेपर देते वक्त आपको स्पीड एक्यूरेसी और टाइम का ध्यान रखना चाहिए। क्योंकि आपको परीक्षा में सिर्फ तीन घंटे का ही समय मिलता है। आप अपने कुल समय और प्रश्नों का विभाजन कर लें।
 
कोई भी व्यक्ति तब तक सफल नहीं हो सकता जब तक वह आत्म मंथन या विश्लेषण ना करें। आपको अपने स्ट्रॉग और वीक प्वाइंट पर फोकस करना चाहिए। और फिर उसी आधार पर उसमें सुधार करें। फिर कामयाबी आपके कदम चूमेगी। और परीक्षा के लिए आपको ढेर सारी शुभकामनाएं।
 
-करन ठाकुर

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप



Disclaimer: The views expressed here are solely those of the author in his/her private capacity and do not necessarily reflect the opinions, beliefs and viewpoints of Prabhasakshi and do not in any way represent the views of Prabhasakshi.