कप्तानी में 'कोहली युग' के अंत के बाद कौन होगा उत्तराधिकारी ? रेस में रोहित-राहुल सबसे आगे

कप्तानी में 'कोहली युग' के अंत के बाद कौन होगा उत्तराधिकारी ? रेस में रोहित-राहुल सबसे आगे
प्रतिरूप फोटो

टी20 विश्व कप से पहले विराट कोहली ने क्रिकेट के सबसे छोटे फॉर्मेट की कप्तानी छोड़ी थी और फिर एकदिवसीय मुकाबले की। जिसके बाद बीसीसीआई ने रोहित शर्मा को व्हाइट बॉल क्रिकेट का कप्तान और केएल राहुल को उपकप्तान नियुक्त किया था। इस दौरान बीसीसीआई ने सीनियर खिलाड़ी रहाणे से टेस्ट की उपकप्तानी वापस लेकर रोहित को सौंप दी थी।

साउथ अफ्रीका के खिलाफ सीरीज गंवाने के बाद विराट कोहली ने शनिवार को टेस्ट क्रिकेट की कप्तानी छोड़ने का ऐलान किया। इस दौरान उन्होंने एक भावुक संदेश में पूर्व कोच रवि शास्त्री, टीम के सभी साथियों और पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का आभार जताया। दरअसल, भारतीय टीम 3 टेस्ट मैचों की सीरीज खेलने साउथ अफ्रीका गई। जहां पर उन्होंने सीरीज को 2-1 से गंवा दिया। इस दौरान टीम महज सेंचुरियन टेस्ट ही जीत पाने में कामयाब हो पाई। जिसके बाद विराट कोहली ने एक ट्वीट के माध्यम से कप्तानी छोड़ने का ऐलान करते हुए सभी को चौंका दिया। 

इसे भी पढ़ें: साउथ अफ्रीका सीरीज गंवाने के बाद विराट कोहली ने छोड़ी कप्तानी, बोले- मैंने पूरी ईमानदारी के साथ किया काम

अगला कप्तान कौन ?

टी20 विश्व कप से पहले विराट कोहली ने क्रिकेट के सबसे छोटे फॉर्मेट की कप्तानी छोड़ी थी और फिर एकदिवसीय मुकाबले की। जिसके बाद बीसीसीआई ने रोहित शर्मा को व्हाइट बॉल क्रिकेट का कप्तान और केएल राहुल को उपकप्तान नियुक्त किया था। इस दौरान बीसीसीआई ने सीनियर खिलाड़ी अजिंक्य रहाणे से टेस्ट की उपकप्तानी वापस लेकर रोहित शर्मा को सौंप दी थी। लेकिन अब विराट कोहली के बतौर टेस्ट कप्तान पीछे हटने के बाद अगला कप्तान कौन होगा ? इसकी चर्चा तेज हो गई है।

रोहित शर्मा:- विराट कोहली के टी20 और एकदिवसीय से कप्तानी छोड़ने के बाद बीसीसीआई ने रोहित शर्मा को कप्तानी सौंपी थी। इसके अलावा उन्हें टेस्ट टीम का उपकप्तान भी बनाया गया है। ऐसे में इस रेस में सबसे आगे रोहित शर्मा का नाम है। क्योंकि अभी तक विराट कोहली ही तीनों फॉर्मेट की कप्तानी संभाल रहे थे।

केएल राहुल:- बीसीसीआई के पास दूसरे विकल्प के तौर पर केएल राहुल हैं। फिटनेट की वजह से साउथ अफ्रीका का टूर नहीं करने वाले रोहित शर्मा की वजह से केएल राहुल को उपकप्तानी सौंपी गई थी और जोहान्सिबर्ग टेस्ट में विराट कोहली की गैरमौजूदगी में केएल राहुल ने ही कप्तान की भूमिका अदा की थी। हालांकि टीम दूसरा मुकाबला बुरी तरह से हार गई थी। हालांकि केएल राहुल की उम्र कप्तानी के लिए सबसे उत्तम है और वो लंबे रेस के घोड़े साबित हो सकते हैं। क्योंकि विराट कोहली ने 7 साल तक कप्तानी संभाली है। 

इसे भी पढ़ें: साउथ अफ्रीका में कोहली ब्रिगेड भी हुई नाकाम, 30 साल में 7 कप्तानों ने की जोर आजमाइश, नहीं हो पाया कोई भी सफल 

अजिंक्य रहाणे:- विराट कोहली के टी20 और एकदिवसीय कप्तानी छोड़ने के बाद बीसीसीआई ने अजिंक्य रहाणे से टेस्ट की उपकप्तानी वापस ले ली थी। लेकिन उन्हें भी टेस्ट कप्तान का दावेदार माना जा रहा है। हालांकि आगामी सीरीज में उन्हें टीम में जगह मिलेगी या नहीं, इसी पर संशय बना हुआ है। रहाणे ने 5 टेस्ट मुकाबलों में कप्तानी की है। जिनमें से 4 में टीम को जीत मिली है और एक मुकाबला ड्रॉ हुआ है। वहीं उनके टेस्ट करियर को देखें तो उन्होंने 82 टेस्ट की 140 पारियों में 38.52 के औसत से 4931 रन बनाए हैं। इस दौरान उन्होंने 12 शतक और 25 अर्धशतक जड़े हैं।

कैसा रहा विराट का टेस्ट करियर

बतौर कप्तान विराट कोहली के नाम सबसे ज्यादा टेस्ट मुकाबले जीतने का रिकॉर्ड दर्ज है। उन्होंने 68 मुकाबलों में से 40 पर जीत दर्ज की। जबकि 17 मुकाबलों में टीम को हार का सामना करना पड़ा और 11 मुकाबले ड्रॉ हुए। कोहली के बाद बतौर कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के नाम 27 मुकाबलों जीतने का रिकॉर्ड दर्ज है। वहीं, विराट कोहली ने अबतक कुल 99 टेस्ट मुकाबले खेले हैं, जिनमें उन्होंने 50.39 के औसत से 7962 महत्वपूर्ण रन बनाए हैं। इसमें 7 दोहरे शतक, 27 शतक और 28 अर्धशतकीय पारियां शामिल हैं।