दुबई में होने वाले महामुकाबले से पहले बोले केएल राहुल, IND-PAK के बीच हमेशा रोमांचक होता है मैच, खुद को चुनौती देने का अच्छा अवसर

KL Rahul
ANI Image
भारतीय क्रिकेटर केएल राहुल ने बताया कि हम हमेशा भारत बनाम पाकिस्तान के बीच मुकाबले का इंतजार करते हैं क्योंकि हम एक-दूसरे के साथ कहीं और नहीं बल्कि इन बड़े टूर्नामेंटों में खेलते हैं। इसलिए यह हमेशा रोमांचक होता है और हम सभी के लिए पाकिस्तान जैसी टीम के खिलाफ खेलना एक बड़ी चुनौती होती है।

दुबई। एशिया कप 2022 का आगाज हो रहा है। इसी के साथ ही 28 अगस्त को भारत बनाम पाकिस्तान के बीच खेले जाने वाले महामुकाबला पर सभी की निगाहें हैं। यह मुकाबला 28 अगस्त दिन रविवार को शाम 7 बजकर 30 मिनट पर दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में खेला जाएगा। इसी बीच भारतीय क्रिकेटर केएल राहुल ने दुबई में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान 'महामुकाबले' को लेकर खुलकर बात की। उन्होंने कहा कि हम हमेशा भारत बनाम पाकिस्तान के बीच मुकाबले का इंतजार करते हैं।

इसे भी पढ़ें: Asia Cup 2022: वीवीएस लक्ष्मण को टीम इंडिया का कोच बनाया गया, BCCI ने ट्वीट कर दी जानकारी 

भारतीय क्रिकेटर ने बताया कि हम हमेशा भारत बनाम पाकिस्तान के बीच मुकाबले का इंतजार करते हैं क्योंकि हम एक-दूसरे के साथ कहीं और नहीं बल्कि इन बड़े टूर्नामेंटों में खेलते हैं। इसलिए यह हमेशा रोमांचक होता है और हम सभी के लिए पाकिस्तान जैसी टीम के खिलाफ खेलना एक बड़ी चुनौती होती है। यह सभी के लिए खुद को चुनौती देने का अच्छा अवसर है।

केएल राहुल ने बताया कि वर्ल्ड कप में कोई भी मैच हारना आपको आहत करता है। आप अच्छी शुरूआत करना चाहते हैं, जो हमारे साथ नहीं हो पाया था। हमें एक बार फिर पाकिस्तान के साथ खेलने का अवसर मिला है। जिसके लिए हम उत्साहित हैं। दरअसल, पिछले साल दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में खेले गए टी20 विश्व कप मुकाबले में पाकिस्तान ने पहली बार भारतीय क्रिकेट टीम को 10 विकेट से हराया था। इस दौरान मोहम्मद रिजवान ने नाबाद 79 जबकि बाबर आजम ने नाबाद 68 रनों की पारी खेली थी।

इसे भी पढ़ें: फिर चमका भारत, गिल और गेंदबाजों ने दिलाई जीत, जिंबाब्वे का 3-0 से सूपड़ा साफ 

शाहीन अफ्रीदी थे मैच के हीरो

टी20 विश्व कप 2021 के महामुकाबले में शाहीन अफ्रीदी को मैन ऑफ द मैच चुना गया था। उन्होंने भारतीय क्रिकेट टीम को शुरुआती झटके दिए थे। जिसके बाद टीम संभल नहीं पाई थी। इस मुकाबले में तत्कालीन कप्तान विराट कोहली और ऋषभ पंत का बल्ला चला था। जबकि सलामी बल्लेबाज केएल राहुल और रोहित शर्मा ने सभी को निराश किया और तो और बची कुची कसर भारतीय गेंदबाजों ने पूरी कर दी। भारतीय गेंदबाज चिर प्रतिद्वंद्वी टीम का एक भी विकेट नहीं चटका पाए थे।

अन्य न्यूज़