बुमराह की चोट पर नजर, टीम इंडिया की प्लेइंग XI पर हो सकता है बड़ा बदलाव

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 14, 2021   16:12
  • Like
बुमराह की चोट पर नजर, टीम इंडिया की प्लेइंग XI पर हो सकता है बड़ा बदलाव

भारतीय बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौड़ ने कहा कि बुमराह की चोट पर नजर रखी जा रही है। अंतिम एकादश में जो खेलेगा वो भारत का प्रतिनिधित्व करने का हकदार होगा।ये सभी टेस्ट क्रिकेट खेलने का मौका पाने के हकदार हैं और अगर वे अपनी काबिलियत के हिसाब से खेलते हैं तो मुझे नहीं दिखता कि वे अच्छा क्यों नहीं करेंगे।

ब्रिसबेन। भारतीय बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौड़ ने कहा कि जसप्रीत बुमराह की पेट की मांसपेशियों में खिंचाव पर नजर रखी जा रही है लेकिन दौरा करने वाली टीम में चोटिल खिलाड़ियों की बढ़ती संख्या के बाद ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अंतिम टेस्ट के लिये उन्होंने बड़े बदलाव का संकेत दिया। भारतीय टीम प्रबंधन आधे फिट बुमराह को भी खिलाकर जोखिम नहीं लेगा क्योंकि वह इस तेज गेंदबाज को विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप की निर्णायक पांच फरवरी से इंग्लैंड के खिलाफ शुरू होने वाली घरेलू श्रृंखला में खिलाना चाहता है।

इसे भी पढ़ें: फुटबॉल खिलाड़ियों से परेशान ब्रिटिश सरकार, कोरोना प्रोटोकॉल फॉलो करने की दी चेतावनी

राठौड़ ने श्रृंखला के अंतिम मैच की पूर्व संध्या पर कहा, ‘‘चोटों की अब भी निगरानी की जा रही है। हमारा मेडिकल स्टॉफ खिलाड़ियों के साथ काम कर रहा है। मैं अभी इस स्थिति में नहीं हूं कि इस समय टिप्पणी कर सकूं। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम उन्हें उतना समय देना चाहेंगे जितना दे सकते हैं और कल सुबह ही आपको पता चल पायेगा कि अंतिम एकादश में कौन खेलेगा। ’’ स्टार स्पिनर आर अश्विन और सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल भी पूरी तरह फिट नहीं हैं। दिलचस्प बात है कि राठौड़ की अंतिम एकादश पर एक अन्य टिप्पणी में उन्होंने कहा था कि मैदान पर जो भी खिलाड़ी उतरेंगे, वे भारत के लिये खेलने के हकदार होंगे। उन्होंने कहा, ‘‘चोट के साथ या बिना चोटों के, भारत जो अंतिम एकादश मैदान पर उतारेगा, वे सभी इसमें होने के हकदार होंगे।

इसे भी पढ़ें: कोविड टेस्ट के बाद किदाम्बी श्रीकांत के नाक से बहा खून, BWF ने की थाईलैंड ओपन के आयोजकों से बात

ये सभी टेस्ट क्रिकेट खेलने का मौका पाने के हकदार हैं और अगर वे अपनी काबिलियत के हिसाब से खेलते हैं तो मुझे नहीं दिखता कि वे अच्छा क्यों नहीं करेंगे। ’’ पूर्व सलामी बल्लेबाज ने संकेत दिया कि वाशिंगटन सुंदर और शारदुल ठाकुर दोनों खेलने की दौड़ में है, उन्होंने कहा, ‘‘इसलिये हम फिर से अपनी प्रक्रिया और अपने खिलाड़ियों का समर्थन कर रहे हैं। ’’ जहां तक बुमराह पर सही जानकारी मुहैया करने का संबंध है तो ऐसा लगता है कि टीम प्रबंधन की मिलकर रणनीति यही है कि आस्ट्रेलिया खिलाड़ियों को यह महसूस नहीं कराया जाये कि उनके लिये सबसे खतरनाक खिलाड़ी दौड़ से पहले ही बाहर है। राठौड़ ने एक अन्य सवाल पर कहा, ‘‘मेडिकल टीम उसकी देखरेख कर रही है इसलिये हम कल सुबह तक का इंतजार करेंगे कि वह खेलने के लिये फिट है या नहीं। ’’ जब उनसे घुमाकर पूछा गया तो क्या भारत आधे फिट गेंदबाज को मैदान पर उतारने का खतरा ले सकता है तो राठौड़ ने जवाब दिया, वह तभी खेलेगा जब वह फिट होगा।

इसे भी पढ़ें: कोरोना से दोबारा संक्रमित हुए बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल और एचएस प्रणय, 10 दिन तक रहेंगे पृथक

राठौड़ ने भी इस सवाल पर कहा, ‘‘मेडिकल टीम से मिली सलाह पर निर्भर करता है कि हम उसे खिलाने पर फैसला करेंगे या नहीं। अगर वह खेल सकता है तो वह खेलेगा और वह नहीं खेल सकता तो वह नहीं खेलेगा। ’’ यह पूछने पर कि क्या ऋषभ पंत और रिद्धिमान साहा दोनों को खेलने का मौका मिलेगा तो उन्होंने कहा, ‘‘अब भी चोटों की काफी चिंतायें हैं। उन पर नजर रखे हुए हैं और रिहैब प्रक्रिया में वे कैसा करते हैं, इन सभी सवालों का जवाब कल सुबह ही मिल सकता है जब हमें पता चलेगा कि इस मैच में अंतिम एकादश में कौन खेलने जा रहा है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




Syed Mushtaq Ali T20: घरेलू क्रिकेटरों के पास नीलामी से पहले प्रभावित करने का आखिरी मौका

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 25, 2021   16:07
  • Like
Syed Mushtaq Ali T20: घरेलू क्रिकेटरों के पास नीलामी से पहले प्रभावित करने का आखिरी मौका

घरेलू क्रिकेटरों के पास आईपीएल नीलामी से पहले प्रभाव छोड़ने का आखिरी मौका है।पंजाब ने एलीट ग्रुप ए में अपने सभी पांचों मैच जीतकर नॉकआउट में जगह बनायी जबकि कर्नाटक इस ग्रुप से दूसरे स्थान पर रहने के बावजूद अंतिम आठ में प्रवेश करने में सफल रहा।

अहमदाबाद।इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की महत्वपूर्ण नीलामी से पहले भारत के घरेलू क्रिकेटरों को मंगलवार से शुरू होने वाले सैयद मुश्ताक अली ट्राफी टी20 टूर्नामेंट के नॉकआउट मैच में प्रभाव छोड़ने का आखिरी मौका मिलेगा। कर्नाटक की निगाह जहां खिताब बचाये रखने पर होगी वहीं क्वार्टर फाइनल में जगह बनाने वाली सात अन्य टीमें भी अपनी तरफ से कोई कसर नहीं छोड़ना चाहेंगी। इस टूर्नामेंट के जरिये भारत में 2020-21 के घरेलू सत्र की शुरुआत भी हुई थी। कर्नाटक की राह में पंजाब की मजबूत टीम बड़ी बाधा है। ये दोनों टीमें पहले क्वार्टर फाइनल में आमने सामने होंगी जिसमें कड़ा मुकाबला होने की संभावना है। पंजाब ने एलीट ग्रुप ए में अपने सभी पांचों मैच जीतकर नॉकआउट में जगह बनायी जबकि कर्नाटक इस ग्रुप से दूसरे स्थान पर रहने के बावजूद अंतिम आठ में प्रवेश करने में सफल रहा।

इसे भी पढ़ें: भारतीय जूनियर महिला हॉकी टीम ने चिली की सीनियर टीम को 2-0 से हराया

इस मैच में दोनों टीमों के सलामी बल्लेबाजों पर निगाह टिकी रहेगी। पंजाब के युवा सलामी बल्लेबाज प्रभसिमरन सिंह शानदार फार्म में चल रहे हैं और उन्होंने अभी तक 277 रन बनाये हैं जबकि कर्नाटक के देवदत्त पडिक्कल के नाम पर पांच मैचों में 207 रन दर्ज हैं। दोनों टीमों का मध्यक्रम भी मजबूत है। पंजाब के पास हालांकि सिद्धार्थ कौल और संदीप शर्मा जैसे अनुभवी गेंदबाज है जिससे वह थोड़ा बेहतर स्थिति में दिख रहा है। कर्नाटक् में अभिमन्यु मिथुन और प्रसिद्ध कृष्णा के दम पर चुनौती पेश करेगा। दूसरा क्वार्टर फाइनल पिछले सत्र के उप विजेता तमिलनाडु और हिमाचल प्रदेश के बीच होगा। तमिलनाडु के सलामी बल्लेबाज एन जगदीशन ने अब तक टूर्नामेंट में सर्वाधिक 315 रन बनाये हैं। कप्तान दिनेश कार्तिक पर भी काफी दारोमदार होगा।

इसे भी पढ़ें: जब अजिंक्य ने सैनी से पूछा था- 'चोट के साथ गेंदबाजी कर सकोगे'? नवदीप सैनी ने दिया था यह जवाब

तमिलनाडु के गेंदबाजों ने स्टार स्पिनर आर अश्विन, यार्कर विशेषज्ञ टी नटराजन और आलराउंडर वाशिंगटन सुंदर की अनुपस्थिति में भी शानदार प्रदर्शन किया। लेग स्पिनर एम अश्विन और बायें हाथ के स्पिनर आर साई किशोर ने अपनी भूमिका अच्छी तरह से निभायी लेकिन वह बाबा अपराजित थे जिन्होंने नयी गेंद से काफी सफलता हासिल की। बड़ौदा और हरियाणा तीसरे क्वार्टर फाइनल में आमने सामने होंगे। बड़ौदा को इस मैच में पंड्या बंधुओं हार्दिक और क्रुणाल की सेवाएं नहीं मिलेंगी। हार्दिक इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला की तैयारियों में जुटे हैं जबकि क्रुणाल अपने पिता के निधन के कारण टूर्नामेंट के बीच से हट गये थे। हरियाणा के पास युजवेंद्र चहल, जयंत यादव और राहुल तेवतिया जैसे खिलाड़ी हैं जिससे उसकी टीम बेहतर स्थिति में दिख रही है।

इसे भी पढ़ें: बड़ौदा ने अनुशासनहीनता के लिए दीपक हुड्डा को मौजूदा घरेलू सत्र के लिए निलंबित किया

चौथा क्वार्टर फाइनल ग्रुप डी से क्वालीफाई करने वाले राजस्थान और प्लेट ग्रुप से शीर्ष पर रहे बिहार के बीच खेला जाएगा। तीसरा और चौथा क्वार्टर फाइनल 27 जनवरी को खेले जाएंगे। मुश्ताक नॉकआउट के मैच सरदार पटेल मोटेरा स्टेडियम में खेले जाएंगे जिसको नये सिरे से तैयार किया गया है। यह देखना भी दिलचस्प होगा कि यहां की पिच कैसा व्यवहार करती है क्योंकि भारत और इंग्लैंड के बीच आखिरी दो टेस्ट मैच इसी मैदान पर खेले जाएंगे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




पूर्व अंतरराष्ट्रीय अंपायर पीलू रिपोर्टर सम्मानित, 14 टेस्ट और 22 वन-डे में कर चुके है अंपायरिंग

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 25, 2021   14:59
  • Like
पूर्व अंतरराष्ट्रीय अंपायर पीलू रिपोर्टर सम्मानित, 14 टेस्ट और 22 वन-डे में कर चुके है अंपायरिंग

पूर्व अंतरराष्ट्रीय अंपायर पीलू रिपोर्टर सम्मानित किया गया है।पाकिस्तान के पूर्व कप्तान इमरान खान ने 1986 में रिपोर्टर और एक अन्य भारतीय वी के रामास्वामी को पाकिस्तान बनाम वेस्टइंडीज श्रृंखला में अंपायरिंग करने के लिये आमंत्रित किया था। इस तरह से वे विश्व में तटस्थ अंपायरों की पहली जोड़ी बनी थी।

मुंबई। पूर्व अंतरराष्ट्रीय अंपायर पीलू रिपोर्टर को भारतीय क्रिकेट में उनकी सेवाओं के लिये सोमवार को क्रिकेटर्स फाउंडेशन ने सम्मानित किया। रिपोर्टर ने अपने 28 साल के करियर में 14 टेस्ट और 22 एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में अंपायरिंग की। फाउंडेशन ने 82 वर्षीय पूर्व अंपायर को 75,000 रुपये की धनराशि देकर सम्मानित किया।

इसे भी पढ़ें: भारतीय जूनियर महिला हॉकी टीम ने चिली की सीनियर टीम को 2-0 से हराया

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान इमरान खान ने 1986 में रिपोर्टर और एक अन्य भारतीय वी के रामास्वामी को पाकिस्तान बनाम वेस्टइंडीज श्रृंखला में अंपायरिंग करने के लिये आमंत्रित किया था। इस तरह से वे विश्व में तटस्थ अंपायरों की पहली जोड़ी बनी थी। क्रिकेटर्स फाउंडेशन ने मुंबई क्रिकेट से जुड़े कई गुमनाम नायकों की मदद की है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




SLvENG: जो रूट ने जड़ा कॅरियर का 19वां टेस्ट शतक, लंच तक इंग्लैंड का स्कोर 181/4

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 24, 2021   13:42
  • Like
SLvENG: जो रूट ने जड़ा कॅरियर का 19वां टेस्ट शतक, लंच तक इंग्लैंड का स्कोर 181/4

श्रीलंका ने अपनी पहली पारी में 381 रन बनाये थे और इस तरह से इंग्लैंड अभी उससे 200 रन पीछे है। लंच के समय रूट 105 रन पर खेल रहे थे। उन्होंने अब तक 153 गेंदें खेली हैं और 14 चौके लगाये हैं।

गॉल। कप्तान जो रूट ने अपने करियर का 19वां टेस्ट शतक जमाया जिससे इंग्लैंड ने श्रीलंका के खिलाफ दूसरे टेस्ट क्रिकेट मैच के तीसरे दिन रविवार को यहां लंच तक चार विकेट पर 181 रन बनाये। श्रीलंका ने अपनी पहली पारी में 381 रन बनाये थे और इस तरह से इंग्लैंड अभी उससे 200 रन पीछे है। लंच के समय रूट 105 रन पर खेल रहे थे। उन्होंने अब तक 153 गेंदें खेली हैं और 14 चौके लगाये हैं। उनके साथ दूसरे छोर पर जोस बटलर 30 रन बनाकर खेल रहे हैं। इन दोनों ने पांचवें विकेट के लिये अभी तक 49 रन जोड़े हैं। रूट ने तब क्रीज पर कदम रखा था जबकि इंग्लैंड के दोनों सलामी बल्लेबाज पवेलियन लौट गये थे और स्कोर दो विकेट पर पांच रन था। इंग्लैंड ने शनिवार को दूसरे दिन का खेल समाप्त होने तक दो विकेट पर 98 रन बनाये थे और तब रूट 67 रन बनाकर खेल रहे थे। विकेट से काफी टर्न मिल रहा था और इसलिए रूट ने रविवार को सुबह अधिक सतर्कता बरती। 

इसे भी पढ़ें: अंगूठे में फ्रेक्चर के तैयार थे रविंद्र जडेजा, बोले- मैंने पैड पहन लिये थे और इंजेक्शन भी ले लिया था 

इंग्लैंड ने पहले सत्र में दो विकेट गंवाये। ये दोनों विकेट बायें हाथ के स्पिनर लेसिथ एम्बुलडेनिया ने लिया। अभी तक इंग्लैंड के चारों विकेट इस स्पिनर ने ही लिये हैं। एम्बुलडेनिया ने सुबह एक छोर से लगातार डेढ़ घंटे तक गेंदबाजी की तथाइस बीच कल के अविजित बल्लेबाज जॉनी बेयरस्टॉ (28) और डेनियल लॉरेन्स (तीन) को आउट किया। एम्बुलडेनिया ने सुबह छठे ओवर में ही बेयरस्टॉ को दूसरी स्लिप में ओशादा फर्नांडो के हाथों कैच कराया। अंपायर ने अपील ठुकरा दी लेकिन श्रीलंका ने डीआरएस का सहारा लिया और उसका यह फैसला सही साबित हुआ। रूट और बेयरस्टॉ ने तीसरे विकेट के लिये 111 रन की साझेदारी की। लॉरेन्स शुरू से स्पिन गेंदों के सामने जूझते नजर आये। उन्होंने पहली स्लिप में लाहिरू तिरिमाने को कैच दिया। अपना 99वां टेस्ट मैच खेल रहे रूट को स्पिन के सामने कोई परेशानी नहीं हुई। उन्होंने दिलरूवान परेरा पर एक रन लेकर लगातार दूसरे टेस्ट मैच में शतक पूरा किया। इंग्लैंड ने पहला टेस्ट मैच सात विकेट से जीता था।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept