दक्षिण अफ्रीका श्रृंखला के लिये चयन की दावेदारी में शामिल मलिक, मोहसिन और कार्तिक

Dinesh Karthik
ANI Images.
आल राउंडर हार्दिक पंड्या ने भी आईपीएल में अच्छा करके अपनी फॉर्म और फिटनेस दिखायी है जिससे नौ जून से शुरू हो रही पांच मैचों की श्रृंखला के लिये उनका भी टीम में शामिल किया जाना तय है।

मुंबई|  दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ घरेलू श्रृंखला के लिये जब रविवार को भारतीय टीम का चयन किया जायेगा तो उभरते हुए स्टार जैसे उमरान मलिक और मोहसिन खान को उनके इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) प्रदर्शन के लिये पुरस्कृत किया जा सकता है जबकि अनुभवी शिखर धवन और दिनेश कार्तिक के टी20 टीम में वापसी की संभावना है।

आल राउंडर हार्दिक पंड्या ने भी आईपीएल में अच्छा करके अपनी फॉर्म और फिटनेस दिखायी है जिससे नौ जून से शुरू हो रही पांच मैचों की श्रृंखला के लिये उनका भी टीम में शामिल किया जाना तय है।

वह पिछले साल टी20 विश्व कप के बाद से भारत के लिये नहीं खेले हैं। पंड्या आखिरकार नियमित रूप से गेंदबाजी कर रहे हैं जो राष्ट्रीय टीम में उनकी वापसी की कोशिश के लिये अहम था।

दो महीने लंबे आईपीएल और टेस्ट टीम के 15 जून को रवानगी के कारण सभी प्रारूपों में खेलने वाले खिलाड़ियों को घरेलू श्रृंखला के लिये आराम दिया जा सकता है जिसमें रोहित शर्मा, विराट कोहली, ऋषभ पंत और जसप्रीत बुमराह शामिल हैं। जून के अंत में आयरलैंड में होने वाले दो टी20 के लिये भी ऐसी ही टीम चुने जाने की उम्मीद है। अगर ऐसा होता है तो कप्तानी की जिम्मेदारी या तो धवन या हार्दिक के कंधों पर आ सकती है। धवन ने पिछले साल श्रीलंका में टीम की अगुआई की थी जबकि पंड्या ने गुजरात टाइटन्स के लिये पदार्पण सत्र में कप्तान के तौर प्रभावित किया है। आईपीएल से भविष्य के स्टार खिलाड़ियों का मिलना जारी है और यह सत्र भी अलग नहीं रहा। उमरान ने सनराइजर्स हैदराबाद के लिये अपनी रफ्तार से तो मोहसिन खान ने अपनी रफ्तार और सटीक गेंदबाजी से प्रभावित किया।

जैसा कि लखनऊ सुपर जायंट्स के उनके कप्तान लोकेश राहुल ने कहा कि बायें हाथ के इस तेज गेंदबाज की शीर्ष स्तर के क्रिकेट में हमेशा मांग रहेगी तो मोहसिन को रविवार को बड़ा ब्रेक मिल सकता है।

बायें हाथ के तेज गेंदबाजों में एक और अर्शदीप सिंह भी दौड़ में हैं जिन्होंने फिर से पंजाब किंग्स के लिये अच्छा प्रदर्शन किया। डेथ ओवरों में उनका इकोनोमी रेट सर्वश्रेष्ठ में से एक रहा और उन्होंने इच्छानुसार यार्कर फेंकने की भी क्षमता दिखायी जो टी20 प्रारूप के लिये बेहद अच्छी है। बल्लेबाजी विभाग में तिलक वर्मा ने अपने पहले ही

आईपीएल सत्र में काफी अच्छा प्रदर्शन किया है और दक्षिण अफ्रीका श्रृंखला के लिये उन पर भी विचार किया जा सकता है क्योंकि उनके मुंबई इंडियंस कप्तान रोहित शर्मा (जो भारतीय टीम के कप्तान भी हैं) ने इस बायें हाथ के बल्लेबाज की काफी प्रशंसा की है। दीपक हुड्डा और वेंकटेश अय्यर को वेस्टइंडीज और श्रीलंका श्रृंखला में मध्यक्रम में आजमाया गया था और देखना होगा कि इनमें से कोई टीम में अपना स्थान बरकरार रखता है या फिर चयनकर्ता आईपीएल फॉर्म को तरजीह देंगे। दिनेश कार्तिक ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के लिये ‘फिनिशर’ की भूमिका के लिये मजबूत दावा पेश किया है और उनके भी भारतीय टीम में फिर से (कई बार) वापसी की उम्मीद है।

राहुल तेवतिया को भी इस स्थान पर मौका दिया जा सकता है जिन्होंने गुजरात को इस सत्र में मुश्किल परिस्थितियों में जीत दिलायी। युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव की फॉर्म भी आकर्षण का केंद्र रही और संभवत: ‘कुलचा’ (चहल) के लिये वापसी का रास्ता बन सकता है।

टी20 विश्व कप के लिये अभी यह शुरूआती दिन होंगे लेकिन टीम प्रबंधन को दक्षिण अफ्रीका श्रृंखला से आस्ट्रेलिया में अक्टूबर-नवंबर में होने वाले आईसीसी टूर्नामेंट के लिये अपने कोर ग्रुप के खिलाड़ियों पर फैसला करने के लिये आइडिया मिल जाना चाहिए।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़