GT vs LSG: प्लेऑफ में पहुंची गुजरात की टीम, लो स्कोरिंग मुकाबले में लखनऊ को 63 रनों से हराया

GT vs LSG: प्लेऑफ में पहुंची गुजरात की टीम, लो स्कोरिंग मुकाबले में लखनऊ को 63 रनों से हराया
ANI

कृणाल पंड्या ने चार ओवर में 24 रन दिए लेकिन उन्हें कोई विकेट नहीं मिला। जेसन होल्डर महंगे साबित हुए जिन्होंने चार ओवर में 41 रन देकर दो विकेट लिये। टाइटंस की ओर से गिल शीर्ष स्कोरर रहे। उन्होंने 49 गेंद की अपनी पारी में सात चौकों की मदद से नाबाद 63 रन बनाए।

प्लेऑफ की रेस में जो सबसे बड़ी टीमों के बीच रेस थी उसमें गुजरात टाइटंस ने बाजी मार ली है। रोमांचक और लो स्कोरिंग मुकाबले में गुजरात टाइटंस ने लखनऊ सुपरजाइंट्स को 63 रनों से हरा दिया। पहले बल्लेबाजी करते हुए गुजरात टाइटंस ने 144 रन बनाए थे। जीत के लिए लखनऊ को 145 रन बनाने थे। लेकिन लखनऊ की टीम 82 रन ही बना सकी। लखनऊ की ओर से सबसे ज्यादा रन दीपक हुडा ने बनाएं। बाकी के सभी बल्लेबाज फ्लॉप साबित हुए। गुजरात टाइटंस की ओर से मोहम्मद शमी, यश दयाल, साई किशोर और राशिद खान ने जबर्दस्त गेंदबाजी की। इस जीत के साथ ही गुजरात की टीम अब प्लेऑफ में पहुंच गई है। इससे पहले गुजरात की टीम 2 मुकाबले हार चुकी थी। लेकिन आज उसने जबरदस्त तरीके से वापसी की। इससे पहले सलामी बल्लेबाज शुभमन गिल के जुझारू अर्धशतक से गुजरात टाइटंस को चार विकेट पर 144 रन बनाए थे। आवेश सुपर जाइंट्स के सबसे सफल गेंदबाज रहे। उन्होंने 26 रन देकर दो विकेट चटकाए। मोहसिन खान ने बेहद किफायती गेंदबाजी करते हुए चार ओवर में 18 रन देकर एक विकेट हासिल किया। 

इसे भी पढ़ें: पहले बोला कबूल है-कबूल है, दहेज में कार नहीं मिली तो मिनटों में दिया तीन तलाक, शौहर पर मामला दर्ज

कृणाल पंड्या ने चार ओवर में 24 रन दिए लेकिन उन्हें कोई विकेट नहीं मिला। जेसन होल्डर महंगे साबित हुए जिन्होंने चार ओवर में 41 रन देकर दो विकेट लिये। टाइटंस की ओर से गिल शीर्ष स्कोरर रहे। उन्होंने 49 गेंद की अपनी पारी में सात चौकों की मदद से नाबाद 63 रन बनाए। गिल ने डेविड मिलर (26) के साथ चौथे विकेट के लिए 52 और राहुल तेवतिया (16 गेंद में नाबाद 22, चार चौके) के साथ पांचवें विकेट के लिए 41 रन की अटूट साझेदारी की। लखनऊ के गेंदबाजों के दबदबे का अंदाजा इस बात से लगता है कि टाइटंस की पूरी पारी में 16 बाउंड्री लगी जिसमें सिर्फ एक छक्का शामिल था। टाइटंस के कप्तान हार्दिक पंड्या ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी का फैसला किया लेकिन टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही। तेज गेंदबाज मोहसिन खान ने तीसरे ओवर में रिद्धिमान साहा (05) को आवेश खान के हाथों कैच कराया जबकि टीम का स्कोर सिर्फ आठ रन था। मैथ्यू वेड (10) ने दुष्मंता चमीरा पर लगातार दो चौके मारे लेकिन आवेश की गेंद पर विकेटकीपर क्विंटन डिकॉक को कैच दे बैठे। टाइटंस की टीम पावर प्ले में दो विकेट पर 35 रन ही बना सकी जो शुरुआती छह ओवरों में उसका सबसे कम स्कोर है। सलामी बल्लेबाज गिल ने एक छोर संभाले रखा। उन्होंने तीनों तेज गेंदबाजों मोहसिन, चमीरा और आवेश पर चौके मारे। उन्होंने हार्दिक के साथ मिलकर नौवें ओवर में टीम का स्कोर 50 रन के पार पहुंचाया। 

इसे भी पढ़ें: राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ जीत के साथ वापसी करना चाहेगी दिल्ली कैपिटल्स

लोकेश राहुल ने अगले ओवर में गेंद आवेश को थमाई और उन्होंने पहली गेंद पर ही हार्दिक (11) को पवेलियन भेज दिया जिन्होंने आफ साइड से बाहर की गेंद पर कड़ा प्रहार करने की कोशिश में विकेटकीपर को कैच थमाया। गिल ने आवेश पर चौके के साथ 26 गेंद में बाउंड्री के सूखे को खत्म किया और फिर कृणाल पंड्या पर भी चौका मारा। टाइटंस के बल्लेबाजों के बीच के ओवरों में बाउंड्री जड़ने के लिए जूझना पड़ा जिससे लखनऊ की टीम रन गति पर अंकुश लगाने में सफल रही। डेविड मिलर जैसे आक्रामक बल्लेबाज अपनी शुरुआती 21 गेंद पर सिर्फ एक बाउंड्री लगा पाए। मिलर ने होल्डर पर छक्के के साथ 16वें ओवर में टीम के रनों का शतक पूरा किया लेकिन इसी ओवर में डीप थर्ड मैन पर आयुष बडोनी को कैच दे बैठे। उन्होंने 24 गेंद की अपनी पारी में एक चौका और एक छक्का मारा। गिल ने चमीरा की गेंद पर एक रन के साथ 42 गेंद में सत्र का चौथा अर्धशतक पूरा किया और फिर इसी ओवर में लगातार दो चौके मारे। तेवतिया ने अंतिम ओवर में होल्डर पर तीन चौके जड़कर टीम का स्कोर 140 रन के पार पहुंचाया।