हरभजन सिंह ने क्रिकेट से लिया संन्यास, 23 साल की लंबी यात्रा को बताया सुंदर और यादगार

Harbhajan Singh
अंकित सिंह । Dec 24, 2021 3:15PM
हरभजन सिंह के इस ऐलान के साथ ही उनका 23 साल का क्रिकेटिंग करियर समाप्त हो गया है। अपने ट्वीट में हरभजन सिंह ने लिखा कि सभी अच्छी चीज से खत्म होती है और आज मैं उस खेल से विदा ले रहा हूं जिसने मुझे जीवन में सब कुछ दिया।

भारत के स्टार ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास का ऐलान कर दिया है। सोशल मीडिया ट्विटर के जरिए हरभजन सिंह ने अपने संन्यास का ऐलान किया। हरभजन सिंह के इस ऐलान के साथ ही उनका 23 साल का क्रिकेटिंग करियर समाप्त हो गया है। अपने ट्वीट में हरभजन सिंह ने लिखा कि सभी अच्छी चीज से खत्म होती है और आज मैं उस खेल से विदा ले रहा हूं जिसने मुझे जीवन में सब कुछ दिया।

इसके साथ ही हरभजन सिंह ने लिखा कि मैं उन सभी को धन्यवाद देना चाहता हूं जिन्होंने इस 23 साल की लंबी यात्रा को सुंदर और यादगार बनाया। आप सभी का तहे दिल से शुक्रिया, आभार। भले ही हरभजन सिंह अब क्रिकेटर के तौर पर मैदान पर खेलते हुए दिखाई ना दे। लेकिन जानकारी के मुताबिक आईपीएल में किसी टीम के साथ बतौर कोच या फिर मेंटर के तौर पर वह जुड़ सकते हैं। हरभजन सिंह ने अपना आखिरी अंतरराष्ट्रीय मुकाबला साल 2016 में खेला था। आईपीएल में कोलकाता नाइट राइडर्स जुड़े थे लेकिन इस सीजन में उन्हें तीन ही मुकाबले खेलने को मिले थे। 

इसे भी पढ़ें: क्या पंजाब चुनाव से पहले कांग्रेस में शामिल होंगे हरभजन सिंह? सिद्धू ने साझा की 'संभावनाओं से भरी तस्वीर'

हरभजन सिंह भारत के सबसे सफलतम गेंदबाजों में से एक रहे हैं। हरभजन सिंह ने 103 टेस्ट मुकाबलों में 417 विकेट चटकाए हैं जबकि 236 एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय में 269 विकेट लिए हैं। हरभजन सिंह 2007 और 2011 के विश्व कप विजेता टीम के भी हिस्सा रहे हैं। हरभजन सिंह ने 28 टी20 मुकाबले खेले हैं जिसमें उन्होंने 25 विकेट चटकाए। महान लेग स्पिनर अनिल कुंबले के साथ उनकी जोड़ी ने टीम इंडिया को कई ऐतिहासिक मुकाबलों में जीत दिलाई है। 2001 में कोलकाता के ईडन गार्डंस में खेले गए ऐतिहासिक टेस्ट मुकाबले में हरभजन सिंह ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हैट्रिक झटके थे।

अन्य न्यूज़