Prabhasakshi's Newsroom। गाबा, ओवल के बाद सेंचुरियन में भारत की 'विराट' जीत

Indian Test Team
प्रतिरूप फोटो
जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी और मोहम्मद सिराज की धारदार गेंदबाजी के दम पर भारतीय टीम ने साउथ अफ्रीका को पहले टेस्ट मैच के पांचवें और आखिरी दिन 113 रन से हराकर तीन मैचों की सीरीज में 1-0 से बढ़त बना ली है।

भारतीय टीम ने गाबा, ओवल के बाद साउथ अफ्रीका के सेंचुरियन में तिरंगा लहराया। भारतीय टीम ने पहले टेस्ट में साउथ अफ्रीका को 113 रन से हरा दिया है। सेंचुरियन के मैदान में भारत ने पहली जीत दर्ज की है। इस जीत के बाद सोशल मीडिया पर फैंस ने शानदार अंदाज में जश्न मनाया। किसी ने ऑस्ट्रेलिया का गाबा टेस्ट याद किया तो किसी को इंग्लैंड का लॉर्ड्स और ओवल टेस्ट याद आ गया। खैर यह दूसरी बात है लेकिन भारत ने साउथ अफ्रीका में चौथा टेस्ट मुकाबला जीता है। 

इसे भी पढ़ें: कप्तानी विवाद से टीम इंडिया के प्रदर्शन पर पड़ेगा असर, खिलाडि़यों में अहम का टकराव ठीक नहीं 

सेंचुरियन में लहराया तिरंगा

जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी और मोहम्मद सिराज की धारदार गेंदबाजी के दम पर भारतीय टीम ने साउथ अफ्रीका को पहले टेस्ट मैच के पांचवें और आखिरी दिन 113 रन से हराकर तीन मैचों की सीरीज में 1-0 से बढ़त बना ली है। साउथ अफ्रीका 305 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए पांचवें दिन के दूसरे सत्र में अपनी दूसरी पारी के दौरान 191 रन पर ऑलआउट हो गई।

भारतीय टीम की तरफ से पहली पारी में शतक लगाने वाले केएल राहुल को मैन ऑफ द मैच चुना गया है। उन्होंने अपने टेस्ट कॅरियर में अबतक 7 शतक जड़े हैं। जिनमें से 6 शतक विदेशी जमीं पर हैं।

भारतीय टीम ने सेंचुरियन में पहली बार जीत दर्ज की है। इससे पहले भारतीय टीम ने साल 2018 में जोहानिसबर्ग में 28 रन से जीत दर्ज की थी। आपको बता दें कि सेंचुरियन 56वां ऐसा मैदान बन गया है, जहां पर भारतीय टीम ने कोई टेस्ट मैच जीता है। इसके साथ ही भारत ने सबसे ज्यादा मैदान पर टेस्ट जीतने के मामले में ऑस्ट्रेलिया के वर्ल्ड रिकॉर्ड की बराबरी कर ली है। इस सीरीज का दूसरी मैच 3 जनवरी से जोहानिसबर्ग में खेला जाएगा। 

इसे भी पढ़ें: रॉस टेलर ने इंटरनेशनल क्रिकेट को कहा अलविदा, बांग्लादेश के खिलाफ होगा आखिरी मुकाबला  

फिर नहीं चला विराट का बल्ला

भले ही विराट कोहली लगातार टेस्ट मुकाबलों में अपने प्रतिद्वंद्वियों को मात दे रहे हों लेकिन उनका बल्ला करिश्मा दिखाने में असफल साबित हो रहा है। आपको बता दें कि विराट कोहली ने बांग्लादेश के खिलाफ अपना आखिरी शतक जड़ा था। इसके बाद उनके बल्ले से अभी तक कोई भी शतक नहीं निकल पाया है। जिसकी वजह से उनके फॉर्म को लेकर बहस छिड़ गई है।

साउथ अफ्रीका की खिलाफ खेले गए मुकाबले में विराट कोहली, चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे फ्लॉप साबित हुए हैं। हालांकि यह तीनों खिलाड़ी अपने फॉर्म वापस लाने में सक्षम हैं लेकिन उनका बल्ला नहीं चल रहा है। अजिंक्य रहाणे की बात की जाए तो उनका औसत विदेशी जमीं पर शानदार है। उन्हें उछालभरी पिच पसंद है लेकिन उनके अनुकूल पिच होने के बाद भी उन्होंने दूसरी पारी में आसान सा कैच थमा दिया।

क्रिकेट में अक्सर हम खिलाड़ियों को आउट ऑफ फॉर्म में जाते हुए देखते हैं लेकिन फिर उनकी शानदार वापसी भी होती है। वो कहते हैं ना क्रिकेट अनिश्चितताओं का खेल है, प्रिडिक्शन करना इसमें फेल है। उम्मीद  जल्द ही तीनों खिलाड़ी अपने फॉर्म में वापस लौटेंगे।

पंत से लेकर बुमराह तक ने बनाए कई रिकॉर्ड

इस मुकाबले के दौरान ऋषभ पंत पूर्व विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी को पीछे करने में सफल हुए। आपको बता दें कि ऋषभ पंत, तेंबा बावुमा का कैच पकड़कर टेस्ट क्रिकेट में सबसे तेज 100 शिकार करने वाले भारतीय विकेटकीपर बन गए हैं। ऋषभ पंत ने यह उपलब्धि 26वें टेस्ट की 50वी पारी में हासिल कर ली। जबकि महानतम विकेटकीपर कप्तान रहे महेंद्र सिंह धोनी को अपने 100 शिकार पूरे करने के लिए 36 टेस्ट मैच खेलने पड़े थे। इस मामले में ऋषभ पंत ने महेंद्र सिंह धोनी से 10 टेस्ट मैच कम खेले हैं।

इसके अलावा मोहम्मद शमी ने टेस्ट क्रिकेट में 200 शिकार पूरे कर लिए हैं। आपको बता दें कि मोहम्मद शमी ने 55 मुकाबलों में 27.01 के औसत से 203 विकेट चटकाए हैं। इसके अलावा पैर मुड़ जाने के बावजूद जसप्रीत बुमराह ने भी एक उपलब्धि हासिल की है। उन्होंने विदेश सरजमीं में खेले गए 22 मुकाबलों में शतकीय विकेट चटकाए हैं। 

इसे भी पढ़ें: अब कैसी है BCCI चीफ सौरव गांगुली की तबियत, अस्पताल ने जारी किया मेडिकल रिपोर्ट 

क्या बोले भारतीय कप्तान ?

जीत दर्ज करने के बाद कप्तान विराट कोहली ने कहा कि हम उस तरह की शुरुआत करने में सफल रहे जैसा चाहते थे। चार दिन में परिणाम मिलने से पता चलता है कि हमने कितना अच्छा खेल दिखाया। हमारे लिए साउथ अफ्रीका हमेशा मुश्किल जगह रहा है। हमने हालांकि बल्ले और गेंद से मैदान में शानदार प्रदर्शन किया। मैच का दूसरा दिन पूरी तरह से बारिश की भेट चढ़ गया था। इसके बाद भी भारतीय टीम 5वें दिन लगभग दो सत्र का खेल बाकी रहते जीत दर्ज करने में सफल रही।

अन्य न्यूज़