भारतीय क्रिकेट टीम का अफ्रीका दौरा होगा छोटा, कार्यक्रम में हुए बदलाव

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 5, 2021   00:52
भारतीय क्रिकेट टीम का अफ्रीका दौरा होगा छोटा, कार्यक्रम में हुए बदलाव

टीम को चार टी20 मैच भी खेलने थे जो अब बाद में खेले जायेंगे। भारतीय टीम को पहले नौ दिसंबर को रवाना होना था लेकिन अब यात्रा के कार्यक्रम में बदलाव हुआ है जिसके मायने हैं कि पहला टेस्ट मूल कार्यक्रम के अनुसार 17 दिसंबर से जोहानिसबर्ग में नहीं हो सकेगा।

भारतीय क्रिकेट टीम का दक्षिण अफ्रीका दौरा हागा लेकिन कार्यक्रम में कुछ बदलाव किये गए हैं जिसके तहत टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच अभी नहीं खेले जायेंगे और टीम की रवानगी भी एक सप्ताह के लिये टाल दी गई है। दोनों बोर्ड ने कोरोना वायरस के नये वैरिएंट के आने के बाद इस दौरे को लेकर लग रही अटकलों पर विराम देते हुए शनिवार को यह घोषणा की। भारतीय टीम अब तीन टेस्ट और तीन वनडे खेलेगी और दक्षिण अफ्रीका नये कार्यक्रम के अनुसार स्थलों की घोषणा अगले 48 घंटे में करेगा।

 टीम को चार टी20 मैच भी खेलने थे जो अब बाद में खेले जायेंगे। भारतीय टीम को पहले नौ दिसंबर को रवाना होना था लेकिन अब यात्रा के कार्यक्रम में बदलाव हुआ है जिसके मायने हैं कि पहला टेस्ट मूल कार्यक्रम के अनुसार 17 दिसंबर से जोहानिसबर्ग में नहीं हो सकेगा। भारतीय क्रिकेट बोर्ड के अधिकारियों की सालाना आम सभा की बैठक के लिये हुई मुलाकात के बाद बीसीसीआई सचिव जय शाह और सीएसए ने यह बयान दिया। शाह ने बयान में कहा,भारतीय टीम का दक्षिण अफ्रीका दौरा नयी तारीखों और कार्यक्रम के तहत होगा। टीम तीन मैचों की टेस्ट श्रृंखला और तीन मैचों की वनडे श्रृंखला 26 दिसंबर से खेलेगी। उन्होंने कहा, चार टी20 मैच बाद में खेल जायेंगे। सीएसए ने कहा, क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका इसकी पुष्टि करता है कि भारतीय टीम का दौरा मूल कार्यक्रम के अनुसार ही होगा। थोड़े बहुत बदलाव किये गए है मसलन भारतीय टीम के आने का समय। 

अब भारतीय टीम एक सप्ताह विलंब से आयेगी। इसने आगे कहा यह दौरा कड़े कोरोना प्रोटोकॉल के साथ होगा। सीएसए ने साफ तौर पर कहा कि खिलाड़ियों की सुरक्षा को देखकर ही वेन्यू का चयन होगा। उन्होंने कहा, मैचों के आयोजन स्थलों का चयन जैव सुरक्षित माहौल को ध्यान में रखकर किया जायेगा। इसे लेकर फैसला खिलाड़ियों की सुरक्षा को सर्वोपरि रखकर ही होगा। हमारा मुख्य फोकस सुरक्षा पर रहेगा जिसके तहत प्रवेश के कड़े नियम और बायो बबल के बाहर सीमित गतिविधियां शामिल है। 

 कोरोना वायरस का नया वैरिएंट ओमीक्रोन दक्षिण अफ्रीका से ही निकला है और देश में इसके मामले बढते जा रहे हैं। दक्षिण अफ्रीका में प्रतिदिन 200 नये मामले आ रहे हैं और शुक्रवार को कुल 16000 मामले थे। नीदरलैंड टीम ने अपना दौरा हाल ही में बीच में छोड़ दिया था। सीएसए को अपने घरेलू मैच भी स्थगित करने पड़े क्योंकि कुछ खिलाड़ी पॉजिटिव पाये गए थे। भारत ए टीम हालांकि दक्षिण अफ्रीका में ही है जिससे सीनियर टीम का दौरा रद्द नहीं होने की उम्मीद बंधी थी। भारत ने दक्षिण अफ्रीका से उड़ानें भी बंद नहीं की है हालांकि उसे जोखिम वाली श्रेणी में रखा है। भारतीय टीम का दौरा रद्द होने पर दक्षिण अफ्रीका को भारी आर्थिक नुकसान होता। सीएसए के कार्यवाहक सीईओ फोलेत्सी मोसेकी ने कठिन समय में साथ खड़े होने के लिये बीसीसीआई को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा मैं क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका और भारतीय क्रिकेट बोर्ड दोनों को धन्यवाद देना चाहूंगा जिन्होंने इस दौरे को कराने के लिये अथक प्रयास किये। अनिश्चितता के इस दौर में भी दोनों बोर्ड ने उम्मीदें बनाय रखीं और हमें आश्वस्त किया कि यह दौरा होगा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।