जडेजा की अनुपस्थिति भारत के लिए बड़ा झटका, कोहली की फॉर्म में वापसी शुभ संकेत: माहेला

Mahela
ANI
श्रीलंका के अपने जमाने के दिग्गज बल्लेबाज माहेला जयवर्धने ने रविंद्र जडेजा के चोटिल होने को भारत के लिए करारा झटका बताया लेकिन विराट कोहली के आगामी टी20 विश्व कप से पहले फॉर्म में वापसी को शुभ संकेत करार दिया।

दुबई। श्रीलंका के अपने जमाने के दिग्गज बल्लेबाज माहेला जयवर्धने ने रविंद्र जडेजा के चोटिल होने को भारत के लिए करारा झटका बताया लेकिन विराट कोहली के आगामी टी20 विश्व कप से पहले फॉर्म में वापसी को शुभ संकेत करार दिया। जडेजा एशिया कप के दौरान चोटिल हो गए थे जिसके कारण वह ऑस्ट्रेलिया में अक्टूबर-नवंबर में होने वाले टी20 विश्वकप की 15 सदस्यीय भारतीय टीम में जगह नहीं बना पाए। जयवर्धने ने ‘आईसीसी रिव्यु’ में कहा,‘‘ यह एक चुनौती है।

इसे भी पढ़ें: टी-20 विश्व कप के लिए न चुने जाने के बाद आखिरकार संजू सैमसन ने कर दी टिप्पणी, बोले- 'मैं अपने देश को नीचा दिखा रहा हूं'

उन्होंने उन्हें (जडेजा को) नंबर पांच पर अच्छी तरह से फिट कर दिया था। वह वास्तव में अच्छी बल्लेबाजी कर रहा था तथा वह और हार्दिक पंड्या शीर्ष छह बल्लेबाजों में शामिल होकर ऑलराउंड विकल्प उपलब्ध करा रहे थे जिससे भारत के बल्लेबाजी क्रम में अधिक लचीलापन था।’’ उन्होंने कहा, ‘‘यह उनके लिए मुश्किल भरा होगा और संभव है उनके लिए बाएं हाथ के एक बल्लेबाज का नहीं होना चिंता का विषय होगा। उन्होंनेपांचवें या चौथे नंबर पर बाएं हाथ के बल्लेबाज को रखने के लिए दिनेश कार्तिक को बाहर करके ऋषभ पंत को यह जिम्मेदारी सौंपी। विश्वकप में जाने से पहले उन्हें इन चीजों से निपटना होगा।’’ जयवर्धने ने कहा,‘‘ लेकिन जडेजा का नहीं होना और उनकी फॉर्म को देखते हुए यह भारत के लिए बहुत बड़ा नुकसान है।’’

इसे भी पढ़ें: प्रधानमंत्री मोदी के जन्मदिन पर ‘रक्तदान अमृत महोत्सव’ शुरू, मांडविया ने किया रक्तदान

जयवर्धने ने हालांकि कहा कि भारत के लिए स्टार बल्लेबाज कोहली का फॉर्म में वापसी करना शुभ संकेत है। कोहली ने एशिया कप में अफगानिस्तान के खिलाफ नाबाद 122 रन बनाए जो उनका अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 71 वां शतक है। इस शतक के लिए उन्होंने 1020 दिन का इंतजार किया। उन्होंने कहा,‘‘ उनके पास आत्मविश्वास हासिल करने के लिए बड़ा स्कोर नहीं था। वह पिछले 12 महीनों में मामूली चोटों से भी परेशान रहे और उन्हें विश्राम दिया गया। भारत अपने खिलाड़ियों को विश्राम देता रहा है, ऐसे में प्रदर्शन में निरंतरता नहीं होना भी मुश्किलें पैदा करता है।’’

जयवर्धने ने कहा,‘‘ उन्हें (कोहली) इस तरह से बल्लेबाजी करते हुए देखना अच्छा लगा। हम सभी चाहते हैं कि विश्वकप में यह बेहतरीन खिलाड़ी अपनी सर्वश्रेष्ठ फॉर्म में रहे और विश्वकप इसका हकदार भी है। इस स्तर पर हर कोई एक दूसरे पर हावी होना चाहता है। आस्ट्रेलिया में विश्वकप रोमांचक होगा।’’ जयवर्धने ने कहा कि तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की वापसी से भी भारत को मजबूती मिली है। उन्होंने कहा,‘‘ निश्चित तौर पर एशिया कप में जसप्रीत की अनुपस्थिति भी एक कारक थी। उनकी उपस्थिति बड़ा अंतर पैदा करती है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़