स्टीव स्मिथ पर लगा चीटिंग करने का आरोप, कोच लेंगर बचाव में उतरे

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 13, 2021   12:40
  • Like
स्टीव स्मिथ पर लगा चीटिंग करने का आरोप, कोच लेंगर बचाव में उतरे

सिडनी में ड्रॉ रहे टेस्ट के आखिरी दिन पहले सत्र में ड्रिंक्स ब्रेक के दौरान स्मिथ बल्लेबाज का गार्ड मिटाने की कोशिश करते नजर आये। वीडियो वायरल होने के बाद सोशल मीडिया पर क्रिकेटप्रेमियों और माइकल वॉन समेत पूर्व खिलाड़ियों ने इसकी आलोचना की।

ब्रिसबेन। सिडनी टेस्ट में पंत के बल्लेबाजी गार्ड (क्रीज पर बनाये गए निशान) हटाने की कोशिश के कारण निंदा झेल रहे स्टीव स्मिथ का बचाव करते हुए ऑस्ट्रेलिया के कोच जस्टिन लैंगर ने इस आलोचना को ‘ बकवास, अनर्गल और सीमा के बाहर ’ बताया। सिडनी में ड्रॉ रहे टेस्ट के आखिरी दिन पहले सत्र में ड्रिंक्स ब्रेक के दौरान स्मिथ बल्लेबाज का गार्ड मिटाने की कोशिश करते नजर आये। वीडियो वायरल होने के बाद सोशल मीडिया पर क्रिकेटप्रेमियों और माइकल वॉन समेत पूर्व खिलाड़ियों ने इसकी आलोचना की। लैंगर ने सोनी नेटवर्क द्वारा आयोजित वर्चुअल प्रेस कांफ्रेंस में कहा ,‘‘ स्टीव स्मिथ के बारे में जो बकवास मैं पढ रहा हूं, मुझे यकीन नहीं हो रहा। सरासर बकवास। जो भी स्टीव को जानता है, उसे पता है कि वह कुछ ऊटपटांग हरकतें करता रहता है और हम उस पर हंसते हैं।’’ उन्होंने कहा ,‘‘ मैने इस पर निजी तौर पर और सार्वजनिक रूप से भी बात की है कि वह कितना अलग है। वह क्रीज पर जो भी करता है , वह इसलिये कि वह सिर्फ खेल के बारे में ही सोचता रहता है।’’

इसे भी पढ़ें: वापसी के साथ पहले ही दौर में हारी पीवी सिंधू,साइना नेहवाल टूर्नामेंट से बाहर

लैंगर ने कहा कि गेंद से छेड़खानी प्रकरण के बाद वापसी के साथ मैदान पर और मैदान से बाहर स्मिथ का आचरण अच्छा रहा है। उन्होंने कहा ,‘‘ कोई यह कहता है कि एक मिलीसेकंड के लिये भी वह कुछ गलत कर रहा था तो यह सीमा के बाहर है। वह विकेट सपाट था और कंक्रीट की तरह ठोस भी।इस पर कुछ करने के लिये 15 इंच स्पाइक्स चाहिये और वह क्रीज के पास भी नहीं गया।’’ कोच ने कहा कि गेंद से छेड़खानी प्रकरण के बाद वापसी होने पर स्मिथ ने काफी अपमान सहा है , खासकर इंग्लैंड दौरे पर लेकिन उसने कभी शिकायत नहीं की। उन्होंने कहा ,‘‘ प्रतिबंध से लौटने के बाद मैदान के भीतर और बाहर उसका आचरण मिसाल रहा है। वह अपने बल्ले से ही जवाब देता है।इंग्लैंड दौरे पर उसने इतना अपमान सहा , जैसा मैने तो कभी नहीं देखा लेकिन उसने बल्ले से जवाब दिया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




पाक क्रिकेटर मोहम्मद हफीज ने की टीम इंडिया की तारीफ, दिया ये बयान

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 21, 2021   11:20
  • Like
पाक क्रिकेटर मोहम्मद हफीज ने की टीम इंडिया की तारीफ, दिया ये बयान

पाकिस्तान के सीनियर क्रिकेटर मोहम्मद हफीज ने कहा कि भारत के पास प्रतिभा को निखारने की उचित व्यवस्था है इसलिए ऑस्ट्रेलिया में जीत पाए है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान में प्रतिभाशाली क्रिकेटरों को निखारने की अच्छी व्यवस्था नहीं है। हफीज ने पत्रकारों से कहा, ‘‘मैंने इस श्रृंखला का पूरा आनंद लिया।

कराची। पाकिस्तान के सीनियर क्रिकेटर मोहम्मद हफीज ने ऑस्ट्रेलिया में भारतीय टीम की टेस्ट श्रृंखला में जीत की सराहना करते हुए कहा कि प्रतिभा को निखारने की उचित व्यवस्था के कारण ही यह संभव हो पाया। हफीज ने कहा कि वर्तमान समय में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में बने रहने के लिये प्रतिभा ही पर्याप्त नहीं है तथा युवाओं के कौशल को उचित तरीके से निखारना अधिक महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान में प्रतिभाशाली क्रिकेटरों को निखारने की अच्छी व्यवस्था नहीं है। हफीज ने पत्रकारों से कहा, ‘‘मैंने इस श्रृंखला का पूरा आनंद लिया।

इसे भी पढ़ें: 11 महीने बाद टेनिस में वापसी करेगी विश्व की नंबर एक टेनिस खिलाड़ी एश बार्टी

भारतीय टीम का मनोबल गिरा हुआ था लेकिन उसने श्रृंखला में जिस तरह से शानदार वापसी की वह लाजवाब थी। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘भारत 36 रन पर आउट होने और अपने कप्तान की अनुपस्थिति के बावजूद भी इसलिए वापसी कर पाया क्योंकि उसके नये और युवा खिलाड़ियों को अच्छी तरह से तैयार किया गया है। ’’ हफीज ने कहा कि पाकिस्तान में केवल बल्लेबाजी और गेंदबाजी पर ध्यान दिया जाता है लेकिन प्रतिभाशाली युवा क्रिकेटरों को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की चुनौतियों के लिये उचित तरीके से तैयार नहीं किया जाता है। उन्होंने कहा, ‘‘दुर्भाग्य से हमारे पास ऐसी व्यवस्था नहीं है जो हम आधुनिक क्रिकेट की जरूरतों के हिसाब से खिलाड़ी तैयार कर पाएं। यही वजह है कि हमारे कई युवा खिलाड़ी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर असफल हो जाते हैं।’’ पाकिस्तान के दिग्गज क्रिकेटरों वसीम अकरम, शोएब अख्तर, वकार यूनिस, इंजमाम उल हक, राशिद लतीफ और मोइन खान ने भी भारतीय टीम की आस्ट्रेलिया में ऐतिहासिक जीत की सराहना की।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




स्मिथ की रवानगी, संजू सैमसन राजस्थान रॉयल्स के कप्तान, CSK ने रैना को बरकरार रखा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 20, 2021   19:29
  • Like
स्मिथ की रवानगी, संजू सैमसन राजस्थान रॉयल्स के कप्तान, CSK ने रैना को बरकरार रखा

आठों टीमों के लिये उन खिलाड़ियों की सूची देने की समय सीमा बुधवार तक की थी जिन्हें उन्होंने आईपीएल 14 में बरकरार रखा है या रवाना कर दिया है। सैमसन को राजस्थान रॉयल्स का कप्तान बनाया गया जबकि स्मिथ का अनुबंध बढाया नहीं गया है।

नयी दिल्ली। संजू सैमसन इंडियन प्रीमियर लीग के अगले सत्र में राजस्थान रॉयल्स के कप्तान होंगे जबकि आस्ट्रेलियाई बल्लेबाज स्टीव स्मिथ समेत कई खिलाड़ियों के अनुबंधों का नवीनीकरण नहीं किया गया है हालांकि चेन्नई सुपर किंग्स ने अनुभवी सुरेश रैना को टीम में बरकरार रखा है। आठों टीमों के लिये उन खिलाड़ियों की सूची देने की समय सीमा बुधवार तक की थी जिन्हें उन्होंने आईपीएल 14 में बरकरार रखा है या रवाना कर दिया है। सैमसन को राजस्थान रॉयल्स का कप्तान बनाया गया जबकि स्मिथ का अनुबंध बढाया नहीं गया है। रॉयल्स के मालिक मनोज बदाले ने एक बयान में कहा ,‘‘आईपीएल के विस्तार के साथ कप्तानी पूरे साल का जिम्मा हो गया है और ऐसे में सक्षम भारतीय कप्तान होना जरूरी है।’’ उन्होंने कहा ,‘‘संजू ने रॉयल्स के लिये ही पदार्पण किया था और पिछले आठ साल में उसकी प्रगति देखना सुखद रहा है।वह 2021 में टीम की कप्तानी के लिये सर्वश्रेष्ठ विकल्प है।’’ स्मिथ का करार अक्टूबर 2020 में खत्म हो गया था। आक्रामक बल्लेबाज ग्लेन मैक्सवेल का किंग्स इलेवन पंजाब और आरोन फिंच का रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के साथ करार भी खत्म हो गया है।

पंजाब ने वेस्टइंडीज के हरफनमौला शेल्डन कोटरेल, अफगानिस्तान के मुजीबुर रहमान और न्यूजीलैंड के जिम्मी नीशाम के साथ करार भी नहीं बढाया है। चेन्नई सुपर किंग्स से हरभजन सिंह और मुंबई इंडियंस से लसिथ मलिंगा की भी रवानगी हो गई है। हरभजन के अलावा केदार जाधव , पीयूष चावला और मुरली विजय के साथ करार भी नहीं बढाया गया है। मुंबई ने शेरफान रदरफोर्ड के साथ करार का विस्तार नहीं किया जबकि दिल्ली टीम से इंग्लैंड के जैसन रॉय, विकेटकीपर एलेक्स कारे, लेग स्पिनर संदीप लामिछाने और तेज गेंदबाज मोहित शर्मा की रवानगी हो गई। स्मिथ की कप्तानी में राजस्थान रॉयल्स यूएई में खेले गए पिछले आईपीएल में आखिरी स्थान पर रही थी। स्मिथ ने सभी 14 लीग मैच खेले और 311 रन बनाये। टीम के खराब प्रदर्शन के कारण उनकी कप्तानी की काफी आलोचना हुई। आईपीएल 2018 से पहले रॉयल्स ने सिर्फ स्मिथ को टीम में बरकरार रखा था और 12 . 5 करोड़ रूपये का करार किया था। उन्हें कप्तान भी बनाया गया था लेकिन दक्षिण अफ्रीका में गेंद से छेड़खानी विवाद के बाद उन्हें पद छोड़ना पड़ा था। 

इसे भी पढ़ें: इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट में 50 प्रतिशत दर्शकों को अनुमति दे सकता है बीसीसीआई

भारत के खिलाफ आस्ट्रेलिया में हाल ही में हुई श्रृंखला में स्मिथ अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सके। नये कप्तान सैमसन ने कहा,‘‘मैं इस चुनौती को लेकर काफी रोमांचित हूं।कई बेहतरीन खिलाड़ियों ने रॉयल्स की कप्तानी की है और मैने राहुल द्रविड़, शेन वाटसन, अजिंक्य रहाणे और स्टीव स्मिथ से काफी कुछ सीखा है।’’ महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली चेन्नई टीम में रैना को बरकरार रखा गया है जो पिछले सत्र में निजी कारणों से नहीं खेले थे। चेन्नई टीम 2008 के बाद पहली बार नॉकआउट चरण में जगह नहीं बना सकी। रैना चेन्नई के लिये सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं और बल्लेबाजी को मजबूत करने के लिये उन्हें बरकरार रखने का फैसला लिया गया। चेन्न्ई के पास पिछली नीलामी के बाद 15 लाख रूपये का बजट ही बचा था लेकिन अब अगले महीने होने वाली नीलामी से पहले उसके पास काफी पैसा हो गया है।पंजाब के पास 16 . 5 करोड़ रूपये हैं।रॉयल्स के पास 14 . 75 करोड़, सनराइजर्स हैदराबाद के पास 10 . 1 करोड़, दिल्ली कैपिटल्स के पास नौ करोड़, कोलकाता नाइट राइडर्स के पास 8 . 5 करोड़, रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के पास 6 . 4 करोड़ और मुंबई इंडियंस के पास 1 . 95 करोड़ रूपये हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट में 50 प्रतिशत दर्शकों को अनुमति दे सकता है बीसीसीआई

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 20, 2021   18:21
  • Like
इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट में 50 प्रतिशत दर्शकों को अनुमति दे सकता है बीसीसीआई

पहली बार खिलाड़ियों के कार्यभार को ध्यान में रखकर पूरी श्रृंखला के लिये टीम का ऐलान नहीं किया गया है। चेन्नई और अहमदाबाद में दो अलग अलग बायो बबल बनाये जायेंगे और टीमें चार्टर्ड फ्लाइट से यात्रा करेंगी।

नयी दिल्ली। भारतीय क्रिकेट बोर्ड के शीर्ष अधिकारी इंग्लैंड के खिलाफ चेपॉक और मोटेरा स्टेडियम में होने वाले टेस्ट मैचों में स्टेडियम की कुल क्षमता का 50 प्रतिशत दर्शकों को प्रवेश की अनुमति देने पर सोच रहे है। पहले दो टेस्ट चेन्नई में होंगे जबकि बाकी दो टेस्ट अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम पर खेले जायेंगे। इससे पहले क्रिकेट आस्ट्रेलिया ने भारत के खिलाफ मंगलवार को खत्म हुई श्रृंखला के दौरान दर्शकों को मैदान में प्रवेश की अनुमति दी थी। बोर्ड के एक सीनियर सूत्र ने कहा ,‘‘ फिलहाल हम टेस्ट मैचों के लिये 50 प्रतिशत दर्शकों को अनुमति दे सकते हैं। बीसीसीआई दोनों प्रदेश संघों और स्वास्थ्य अधिकारियों से बात कर रहा है।’’ 

इसे भी पढ़ें: BCCI भारतीय टीम को देगा बोनस, खिलाड़ियों को मिलेंगे इतने करोड़ रूपये

बीसीसीआई कोरोना मामलों पर भी नजर रखे हुए है और चेन्नई या अहमदाबाद में मामले बढने पर फैसला बदला भी जा सकता है। सूत्र ने कहा ,‘‘ अगर जरूरी सावधानियों के साथ 50 प्रतिशत दर्शकों को अनुमति दी जाती है जो यह संकेत होगा कि आईपीएल के दौरान दर्शकों को प्रवेश दिया जा सकता है।’’ इस बीच इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड पहले दो टेस्ट के लिये टीम का चयन गुरूवार को करेगा। पहली बार खिलाड़ियों के कार्यभार को ध्यान में रखकर पूरी श्रृंखला के लिये टीम का ऐलान नहीं किया गया है। चेन्नई और अहमदाबाद में दो अलग अलग बायो बबल बनाये जायेंगे और टीमें चार्टर्ड फ्लाइट से यात्रा करेंगी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept