PBKS vs RCB: पंजाब के लिए प्लेऑफ की संभावनाएं बरकरार, महत्वपूर्ण मुकाबले में बेंगलोर को 54 रनों से हराया

PBKS vs RCB: पंजाब के लिए प्लेऑफ की संभावनाएं बरकरार, महत्वपूर्ण मुकाबले में बेंगलोर को 54 रनों से हराया
ANI

आज एक बार फिर से बेंगलोर का ऊपरी क्रम फ्लॉप साबित हुआ। शुरुआत अच्छी मिलने के बावजूद विराट कोहली अपने 20 रन के स्कोर को बड़े स्कोर में तब्दील नहीं कर पाए। वहीं कप्तान फॉफ डुप्लेसी भी 10 रन बनाकर आउट हो गए। बेंगलुरु की ओर से ग्लेन मैक्सवेल ने सबसे ज्यादा 35 रन बनाए जबकि रजत पाटीदार ने 26 रनों की पारी खेली।

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के लिए करो या मरो मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा है। दिलचस्प और रोमांचक मुकाबले में पंजाब किंग्स ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर को 54 रनों से हरा दिया है। टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी पंजाब किंग्स की टीम ने बेंगलोर के सामने 209 रन बनाए थे। बेंगलोर को जीत के लिए 210 रन बनाने थे। लेकिन बेंगलोर की टीम 9 विकेट पर 155 रन ही बना सकी। आज एक बार फिर से बेंगलोर का ऊपरी क्रम फ्लॉप साबित हुआ। शुरुआत अच्छी मिलने के बावजूद विराट कोहली अपने 20 रन के स्कोर को बड़े स्कोर में तब्दील नहीं कर पाए। वहीं कप्तान फॉफ डुप्लेसी भी 10 रन बनाकर आउट हो गए। बेंगलुरु की ओर से ग्लेन मैक्सवेल ने सबसे ज्यादा 35 रन बनाए जबकि रजत पाटीदार ने 26 रनों की पारी खेली। पंजाब की ओर से अर्शदीप सिंह, रबाडा, ऋषि धवन और राहुल चहर ने अच्छी गेंदबाजी करते हुए बेंगलुरु के दिग्गज बल्लेबाजों को आउट किया। इसके साथ ही बेंगलुरु के लिए अपनी अपनी राह कठिन होती दिखाई दे रही है। बचे हुए मुकाबले में बेंगलुरु को हर हाल में जीत जरूरी होगी। वहीं, पंजाब किंग्स में प्लेऑफ की उम्मीदें खुद के लिए बरकरार रखा है।

इसे भी पढ़ें: कप्तानी से हार्दिक पांड्या के जीवन में आया है बड़ा परिवर्तन, मोहम्मद शमी ने किया खुलासा

इससे पहले पंजाब किंग्स ने जॉनी बेयरस्टो की 29 गेंद में सात छक्के और चार चौके जड़ित 66 रन की पारी द्वारा दिलायी गयी आक्रामक शुरूआत के बाद लियाम लिविंगस्टोन (70 रन) के अर्धशतक से रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) के खिलाफ नौ विकेट पर 209 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा किया था। पंजाब किंग्स की पारी में 14 छक्के और 16 चौके जड़े थे जिससे 148 रन सिर्फ बाउंड्री से ही बने। बेयरस्टो और लिविंगस्टोन (42 गेंद, पांच चौके, चार छक्के) की शानदार बल्लेबाजी के बावजूद आरसीबी के लिये वानिंदु हसारंगा ने बीच के ओवरों में और हर्षल पटेल ने डेथ ओवर में शानदार गेंदबाजी की। हसारंगा ने चार ओवर में महज 15 रन देकर दो विकेट झटके। इससे विकेट लेने के मामले में वह इस आईपीएल सत्र में युजवेंद्र चहल की बराबरी पर पहुंच गये, दोनों के 23-23 विकेट हैं। हर्षल पटेल ने अंतिम ओवर में दो विकेट से चार ओवर में 34 रन देकर चार विकेट झटके। जोश हेजलवुड आरसीबी के लिये सबसे ज्यादा महंगे साबित हुए जिन्होंने चार ओवर में 64 रन और मोहम्मद सिराज ने दो ओवर में 36 रन लुटा दिये। 

इसे भी पढ़ें: मुंबई इंडियन्स के खिलाड़ी और स्टाफ हो गये CSK के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के फैन, हार के बाद भी जीता दिल

बल्लेबाजी का न्यौता मिलने के बाद सलामी बल्लेबाज बेयरस्टो ने आते ही अपने इरादे जाहिर कर दिये थे। उन्होंने ग्लेन मैक्सवेल के पहले ओवर में ओवर पिच गेंद पर शानदार छक्का जड़कर हाथ खोले और फिर दूसरे ओवर में हेजलवुड पर दो छक्के और दो चौके लगाकर अपनी टीम के खाते में 22 रन जोड़ दिये। सलामी बल्लेबाज शिखर धवन (21 रन, 15 गेंद, दो चौके, एक छक्का) ने भी हाथ खोलने शुरू किये और अगले ओवर की पहली गेंद को चौके के लिये भेजा, जिसके बाद बेयरस्टो ने भी बैकवर्ड स्क्वायर लेग पर छक्का जड़ दिया। धवन ने फिर हेजलवुड की गेंद पर एक और चौका लगाया। इन दोनों की बदौलत पंजाब किंग्स ने चार ओवर पूरे होने से पहले ही 50 रन बना लिये थे। पांचवें ओवर में मैक्सवेल की पहली गेंद को धवन ने लांग आन पर छक्का लगाया। पर इसी ओवर में वह जोखिम भरा शॉट खेलने की कोशिश में बोल्ड हो गये और पहला विकेट 60 रन के स्कोर पर गिरा। बेयरस्टो की रन जुटाने की रफ्तार इसी तरह जारी रही जिन्होंने पावरप्ले के अंतिम ओवर में सिराज पर एक चौका और तीन छक्के जड़कर 23 रन जोड़े और अपना अर्धशतक भी पूरा किया। छह ओवर बाद टीम का स्कोर एक विकेट पर 83 रन था जो उनका पावरप्ले में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन भी रहा। भानुका राजपक्षे तीन गेंद खेलने के बाद हसारंगा की गेंद को हवा में उठा बैठे और पटेल ने आसान कैच लपक लिया। लिविंगस्टोन बेयरस्टो का अच्छा साथ निभा रहे थे जिससे टीम ने नौवें ओवर में 100 रन पूरे कर लिये थे। रनगति पर लगाम कसने के लिये आखिरकार आरसीबी को सफलता शाहबाज अहमद ने 10वें ओवर में दिलायी। बेयरस्टो ने बाहर आकर पहली गेंद को उठाने की कोशिश की लेकिन शार्ट थर्ड मैन पर सिराज ने उनका कैच लपक लिया। लिविंगस्टोन ने फिर जिम्मेदारी संभाली और कप्तान मयंक अग्रवाल (19 रन) के साथ रन गति को कम नहीं होने दिया।