विराट कोहली के समर्थन में उतरे रवि शास्त्री, गांगुली और सचिन को लेकर कही यह बात

kohli ravi shastri
अंकित सिंह । Jan 25, 2022 3:15PM
शास्त्री ने लीजैंड्स लीग क्रिकेट से इतर बातचीत में कहा कि एक श्रृंखला हारने के बाद लोग आलोचना करने लगते हैं। आप हर मैच नहीं जीत सकते। जीत-हार चलती रहती है। पिछले साल टी20 विश्व कप के बाद शास्त्री का कार्यकाल समाप्त हो गया था।

टीम इंडिया के पूर्व कोच और अपने जमाने में दिग्गज खिलाड़ी रहे रवि शास्त्री लगातार विराट कोहली के समर्थन में खड़े नजर आ रहे हैं। रवि शास्त्री भारतीय क्रिकेट टीम के साथ बतौर कोच और डायरेक्टर काफी समय तक जुड़े रहे। रवि शास्त्री के लिए सबसे खास बात यह रही कि विराट कोहली के साथ उनकी ट्यूनिंग काफी अच्छी रहे। एक बार फिर से उन्होंने विराट कोहली के बचाव में बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि टीम इंडिया के कई दिग्गज खिलाड़ियों ने अब तक कोई विश्व कप नहीं जीता है। दरअसल, रवि शास्त्री विराट कोहली और टीम इंडिया की कप्तानी विवाद से जुड़े मसले पर अपना बयान दे रहे थे। तभी एक रिपोर्टर ने विराट कोहली के बतौर कप्तान एक भी आईसीसी ट्रॉफी ना जीतने पर सवाल कर लिया।

इसे भी पढ़ें: विराट की बेटी की दिखी पहली झलक, सोशल मीडिया पर फोटो वायरल, क्रिकेटर का आया यह रिएक्शन

इस सवाल के जवाब में रवि शास्त्री ने कहा कि टीम इंडिया के बड़े खिलाड़ियों ने भी विश्व कप में जीत हासिल नहीं की है। उन्होंने कहा कि सौरव गांगुली, राहुल द्रविड़, अनिल कुंबले ने भी कभी विश्वकप नहीं जीता, क्या उन्हें खराब खिलाडी कहेंगे? इतना ही नहीं, रवि शास्त्री ने यह भी कह दिया कि सचिन तेंदुलकर ने 6 विश्वकप खेलने के बाद एक खिताब जीता है। आखिर में आपका आकलन आपके खेल और खेल के दूत के रूप में भूमिका से होता है। आपने कितनी ईमानदारी से खेला और कितने लंबे समय तक खेला। कप्तानी के मसले पर बीसीसीआई से कोहली की ठनने के बारे में उन्होंने कहा कि संवाद महत्वपूर्ण है। मुझे नहीं पता कि उनके बीच क्या बात हुई। मैं उसका हिस्सा नहीं था। दोनों पक्षों से बात किये बिना मैं कुछ नहीं कह सकता। सूचना के अभाव में मुंह बंद रखना ही अच्छा होता है।

इसे भी पढ़ें: दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरे वनडे में धीमी ओवर गति के लिए भारत पर जुर्माना

शास्त्री ने लीजैंड्स लीग क्रिकेट से इतर बातचीत में कहा कि एक श्रृंखला हारने के बाद लोग आलोचना करने लगते हैं। आप हर मैच नहीं जीत सकते। जीत-हार चलती रहती है। पिछले साल टी20 विश्व कप के बाद शास्त्री का कार्यकाल समाप्त हो गया था। शास्त्री ने कहा कि उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ श्रृंखला की एक गेंद भी नहीं देखी लेकिन उन्होंने यह मानने से इनकार किया कि टीम के प्रदर्शन के स्तर में गिरावट आई है। उन्होंने कहा कि अचानक प्रदर्शन कैसे गिर सकता है। पांच साल तक आप दुनिया की नंबर एक टीम रहे हैं।

अन्य न्यूज़