IPL 2020: सोशल मीडिया से लेकर मैदान तक के वो विवाद जो रहे सुर्खियों में...

IPL 2020
चेन्नई सुपर किंग्स और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच खेले जा रहे एक मैच में वाइड बॉल को लेकर विवाद हो गया। हैदराबाद की पारी के 19वें ओवर में चेन्नई के शार्दूल ठाकुर की एक बॉल ऑफ स्टम्प के काफी बाहर पिच हुई।

आईपीएल 2020 में वैसे तो कोई शानदार मैच देखने को मिल रहे है। लेकिन इस सीजन कई विवाद भी देखने को मिले इस सीजन पिछले सालों जैसे बड़े विवाद तो नहीं हुए लेकिन बॉयो सिक्योर बबल में भी जिस तरह से कुछ गहमागहमी देखने को मिली वो काफी रोचक थी। इस सीजन में अब तक कई कॉन्ट्रोवर्सी देखने को मिलीं। टूर्नामेंट में अंपायरों के कई फैसलों पर सवाल उठे, जिस पर लोगों ने नाराजगी जाहिर की। चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान धोनी के विरोध पर वाइड बॉल का फैसला पलटने से लेकर, राजस्थान के टॉम करन को डग आउट से वापस बुलाने तक अंपायरिंग कई बार विवादों में रही।

इसे भी पढ़ें: CSK कोच स्टीफन फ्लेमिंग ने रुतुराज गायकवाड़ को बताया ‘अच्छा खिलाड़ी’, की जमकर तारीफ

भारत के पूर्व दिग्गज खिलाड़ी सुनील गावस्कर और एक्ट्रेस अनुष्का शर्मा के बीच हुई सोशल मीडिया वॉर भी लोगों में चर्चा का विषय बनी रही। ऐसे में हम आपको आईपीएल 2020 से जुड़े कुछ बड़े विवादों के बारे में बताते है।

कोहली-अनुष्का पर विवादास्पद बयान देकर फंस गए थे गावस्कर

आईपीएल 2020 के शुरूआती दौर में पंजाब और बैंगलौर के बीच एक मैच खेला जा रहा था। मैच में बैंगलौर के कप्तान कोहली का प्रदर्शन खराब रहा था। उन्होंने दो कैच भी छोड़े थे। इसके बाद कमेंट्री करते वक्त गावस्कर ने कहा था कि कोहली ने लॉकडाउन में सिर्फ अनुष्का की बॉलिंग की प्रैक्टिस की। उससे तो कुछ नहीं बनना है। दरअसल कोहली और उनकी पत्नी अनुष्का का एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें लॉकडाउन के दौरान अनुष्का कोहली को बॉलिंग करती हुई दिखीं थीं। गावस्कर इसी वीडियो की बात कर रहे थे। जिसके बाद अनुष्का शर्मा ने सोशल मीडिया पर एक बड़ा पोस्ट लिखा था। अनुष्का के इस पोस्ट के बाद कई लोग उनके समर्थन में आएं तो कई लोगों ने गावस्कर का समर्थन किया। हालांकि बाद में कई जगह गावस्कर ने अपने बयान को लेकर साफ किया कि उन्होंने गलत नहीं कहा बल्कि इसे गलत तरीके से लिया जा रहा है।

धोनी के चलते अंपायर को बदलना पड़ा अपना फैसला

चेन्नई सुपर किंग्स और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच खेले जा रहे एक मैच में वाइड बॉल को लेकर विवाद हो गया। हैदराबाद की पारी के 19वें ओवर में चेन्नई के शार्दूल ठाकुर की एक बॉल ऑफ स्टम्प के काफी बाहर पिच हुई। अंपायर पॉल रफेल ने इसे वाइड देने के लिए हाथ उठाया लेकिन चेन्नई के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का रिएक्शन देखकर उन्होंने तुरंत अपने हाथ वापस खींच लिए। चेन्नई ने इस मैच में हैदराबाद को 20 रन से हराया था। जिसके बाद सोशल मीडिया पर इस विवाद को लेकर चर्चा हुई। कई लोग धोनी को ठीक ठहरा रहे थे तो कई कह रहे थे कि अंपायर को इस तरह से फैसला नहीं बदलना चाहिए।

शॉर्ट रन को लेकर खड़ा हो गया बड़ा विवाद

आईपीएल 2020 के दूसरे मैच में एक बड़ा विवाद सामने आया। मैच में दिल्ली ने पहले बैटिंग करते हुए 20 ओवर में 8 विकेट के नुकसान पर 157 रन बनाए। जिसके जवाब में पंजाब की टीम भी 157 रन ही बना पाई और मैच सुपर ओवर में चला गया। पंजाब की बैटिंग के दौरान 19वें ओवर की तीसरी बॉल पर मयंक अग्रवाल और क्रिस जॉर्डन ने 2 रन लिए थे।हालांकि अंपायर नितिन मेनन ने एक रन दिया। उनका मानना था कि जॉर्डन ने पहला रन लेने के दौरान बैट क्रीज के अंदर नहीं रखा था और रन पूरा नहीं किया। वहीं, टीवी रिप्ले में साफतौर पर बैट क्रीज के अंदर रखा दिखा। अंतिम ओवर में पंजाब को जीत के लिए 13 रन चाहिए थे और टीम सिर्फ 12 रन ही बना सकी और मैच सुपर ओवर में चला गया। सुपर ओवर में दिल्ली ने पंजाब को आसानी से हरा दिया। इसके बाद टीम की मालकिन प्रीत जिंटा ने भी सोशल मीडिया पर अपनी निराशा जाहिर की। पंजाब के लिए ये शार्ट रन हार की बड़ी वजह बना।

इसे भी पढ़ें: आईपीएल 2020 में कोलकाता-पंजाब में से कौन करेगा प्लेऑफ में जगह पक्की ?

डग आउट से बल्लेबाज को वापस बुला लिया गया

आईपीएल 2020 में एक और विवादित मामला चेन्नई के एक मैच में देखने को मिला। जहां चेन्नई के खिलाफ राजस्थान की पारी के 18वें ओवर में दीपक चाहर की 5वीं बॉल पर अंपायर सी. शमशुद्दीन ने टॉम करन को कैच आउट करार दिया। करन ने अंपायर के इस फैसले पर नाराजगी जाहिर की। राजस्थान के पास रिव्यू नहीं बचे थे, इसलिए करन डग आउट की तरफ जाने लगे। इस बीच अंपायर ने आपस में बातचीत कर निर्णय थर्ड अंपायर को रेफर कर दिया। रिव्यू न रहने के बावजूद भी डिसीजन थर्ड अंपायर को रेफर किए जाने पर धोनी ने अंपायरों से जाकर बातचीत भी की। थर्ड अंपायर ने जब वीडियो रिप्ले देखा, तो उसमें बॉल और बैट के बीच कोई संपर्क नहीं दिखा। वहीं, धोनी ने भी कैच ठीक से नहीं लपका था। अंपायर ने तुरंत अपना निर्णय वापस लिया और टॉम करन को वापस बैटिंग के लिए बुलाया। यह मामला भी आईपीएल 2020 के विवादित चीजों में शुमार हो गया।

डेविड वॉर्नर और खलील अहमद से भिड़ गए राहुल तेवतिया

आईपीएल 2020 में राहुल तेवतिया ने पंजाब के खिलाफ एक ओवर में पांच छक्के जड़ इतिहास रच दिया। तेवतिया इसके बाद भी राजस्थान के लिए अच्छा प्रदर्शन करते रहे। लेकिन एक मैच में तेवतिया प्रदर्शन की बजाय अपने गुस्से के लिए सबसे निगाहों में आ गए। दरअसल राजस्थान रॉयल्स ने सनराइजर्स हैदराबाद को रोमांचक मैच में 5 विकेट से शिकस्त दी। इस मैच में राजस्थान रॉयल्स और सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाड़ियों के बीच तीखी बहस देखने को मिली। राजस्थान के राहुल तेवतिया और हैदराबाद के खलील के बीच बहस हो चुकी थी, जो हैदराबाद के कप्तान डेविड वॉर्नर को ठीक नहीं लगी। इसके बाद तेवतिया, वॉर्नर और खलील तीनों के बीच बहस देखने को मिली। अंपायर और साथी खिलाड़ियों ने बीच-बचाव करके मामला संभाला।

- दीपक कुमार मिश्रा

अन्य न्यूज़