चौथे टेस्ट में कैसे वापसी करेगा भारत, क्या सूर्यकुमार, अश्विन को देना चाहिए मौका ?

चौथे टेस्ट में कैसे वापसी करेगा भारत, क्या सूर्यकुमार, अश्विन को देना चाहिए मौका ?

इस सीरीज में चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे की बल्लेबाजी को लेकर काफी सवाल खड़े हुए हैं। लेकिन चेतेश्वर पुजारा ने हेडिंग्ले टेस्ट की दूसरी पारी में 91 रन बनाने के साथ ही अपने ऊपर खड़े हुए सभी सवालों का जवाब दे दिया है।

भारत और इंग्लैंड के बीच चौथा टेस्ट मैच लंदन के ओवल में खेला जाएगा। यह मुकाबला इस सीरीज के लिए काफी है मैं जो कि अभी तक इस सीरीज के तीन मैचों में मुकाबला 1-1 से बराबरी पर है। इंग्लैंड ने हेडिंग्ले टेस्ट मैच जीतकर बताया है कि भारतीय टीम की बल्लेबाजी में काफी कमजोरियां हैं। ऐसे में अब चौथे मुकाबले से पहले भारतीय बल्लेबाजों के ऊपर काफी सवाल खड़े हो गए है। भारतीय बल्लेबाजों के ऑफ स्टंप से बाहर जाती गेंदों पर आउट होने की कमजोरी इंग्लैंड को पता चल चुकी है। पिछले मुकाबले में इंग्लैंड के गेंदबाजों ने चेतेश्वर पुजारा विराट कोहली और अजिंक्य रहाणे जैसे दिग्गज बल्लेबाजों को बाहर जाती गेंदों पर आउट किया है। इसके साथ ही ऋषभ पंत का फ्लॉप शो भारत के लिए परेशानी का सबब बन रहा है। ओपनिंग में रोहित शर्मा और केएल राहुल की जोड़ी ने जरूर भारत के लिए मजबूती प्रदान की है। लेकिन लेकिन पिछले मुकाबले में गलत शॉट खेलकर आउट होने की वजह से भारत को परेशानी का सामना करना पड़ा था। ऐसे में अब सवाल यह है कि क्या चौथे टेस्ट मैच में भारत अपने प्लेइंग इलेवन में बदलाव करेगा या फिर हेडिंग्ले वाले वाले प्लेइंग इलेवन पर ही भरोसा जताकर वापस मैदान में उतरेगा।

इसे भी पढ़ें: आखिर क्यों बिखर जाती है टीम इंडिया की बल्लेबाजी। क्या अगले मैच में होंगे बड़े बदलाव ?

क्या चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे पर लिया जाएगा फैसला ?

इस सीरीज में चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे की बल्लेबाजी को लेकर काफी सवाल खड़े हुए हैं। लेकिन चेतेश्वर पुजारा ने हेडिंग्ले टेस्ट की दूसरी पारी में 91 रन बनाने के साथ ही अपने ऊपर खड़े हुए सभी सवालों का जवाब दे दिया है। ऐसे में अब शायद ही उनकी जगह टीम में तीसरे नंबर पर किसी और बल्लेबाज को शामिल किया जाए। चेतेश्वर पुजारा ने बताया है कि उनका अनुभव टीम के काम कभी भी आ सकता है ऐसे में भले ही वह खराब फॉर्म से गुजर रहे थे। लेकिन उनके पास अब भी दीवार वाला टेंपरामेंट है। अब सवाल अजिंक्य रहाणे की बल्लेबाजी को लेकर आता है रहाणे लॉर्ड्स टेस्ट की  दूसरी पारी में भले ही 61 रन बना कर बताया कि वह वह मुश्किल परिस्थितियों में भारत की नैया पार लगा सकते हैं। लेकिन हेडिंग्ले टेस्ट मैच में बुरी तरह से फ्लॉप होने के बाद भारतीय टीम के उप कप्तान अजिंक्य रहाणे के टेस्ट टीम में जगह को लेकर अब सवाल खड़े होने लगे हैं। दिग्गज मानने लगे हैं कि रहाणे इंग्लैंड की परिस्थितियों में सहज नजर नहीं आ रहे हैं। इसके साथ ही वह बाहर जाती गेंदों पर भी स्ट्रगल कर रहे हैं। ऐसे में आप सवाल यह है कि क्या अजिंक्य रहाणे की जगह चौथे टेस्ट मैच में सूर्यकुमार यादव या हनुमा विहारी को मौका दिया जा सकता है। या फिर अजिंक्य रहाणे के ऊपर ही टीम मैनेजमेंट फिर से दांव लगाएगी।

क्या अश्विन को मिलेगी प्लेइंग 11 में जगह ?

ओवल में होने वाले मैच से पहले भारतीय प्रशंसकों के लिए अच्छी खबर है कि रवींद्र जडेजा को टीम से नहीं हटाया गया है, जिसका मतलब है कि उनके घुटने में लगी चोट ज्यादा गंभीर नहीं है। ऐसे में अब जडेजा ओवल में होने वाले टेस्ट के लिए उपलब्ध होंगे। लेकिन अब सवाल यह है कि अब तक इस टेस्ट सीरीज के तीन मैचों में बल्ले से ठीक-ठाक पारी खेलने वाले और गेंद से अभी तक फ्लॉप रहने वाले जडेजा को चौथे टेस्ट मैच में भी मौका दिया जाता है या फिर अनुभवी ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन को अगले मैच की प्लेइंग इलेवन में शामिल किया जा सकता है। अश्विन का ना होना अभी तक इस सीरीज में भारत को काफी खला है। इंग्लैंड के टॉप ऑर्डर के विकेट गिरने के बाद जिस तरीके से उनके मिडिल ऑर्डर के बल्लेबाजों ने भारत को परेशान किया है। उसे देखते हुए अश्विन की जरूरत भारतीय टीम को हमेशा महसूस हुई है इसके अलावा जो रूट के खिलाफ रविचंद्रन अश्विन का रिकॉर्ड देखकर उन्हें प्लेइंग इलेवन में मौका दिया जा सकता है। हालांकि भारतीय कप्तान विराट कोहली ने हेडिंग्ले टेस्ट की हार के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह कंफर्म कर दिया था कि अश्विन या जडेजा में से किसी भी खिलाड़ी को किसी भी खिलाड़ी को मैच के पहले मौसम और हालात को देखते हुए ही टीम में मौका दिया जाएगा। भारतीय कप्तान विराट कोहली टीम में चार तेज गेंदबाजों को खिलाने के पक्ष में हमेशा दिखाई देते हैं।ऐसे में उनका अभी भी मानना है कि इंग्लैंड में टीम में चार तेज गेंदबाज हमेशा से फायदेमंद साबित होते हैं। तो अब यह देखना दिलचस्प होगा कि क्या ओवल में रविचंद्रन अश्विन को मौका मिलता है या फिर विराट कोहली एक बार फिर से रविंद्र जडेजा के साथ चार तेज गेंदबाजों को लेकर मैदान में उतरते हैं।

इसे भी पढ़ें: बंगाल टाइगर्स के कप्तान और आइकन बने दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कप्तान फाफ डु प्लेसी

शार्दुल फिट क्या इशांत होंगे बाहर ?

पिछले दिनों चोटिल हुए ऑलराउंडर शार्दुल ठाकुर भी खेलने के लिए फिट हो चुके हैं। शार्दुल के पास गेंद और बल्ले से बेहतर प्रदर्शन करने की क्षमता है। इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच में इशांत शर्मा एक भी विकेट हासिल नहीं कर पाए थे। दूसरी तरफ मोहम्मद शमी, मोहम्मद सिराज और जसप्रीत बुमराह शानदार गेंदबाजी कर लगातार विकेट हासिल कर रहे हैं। ऐसे में इशांत शर्मा को प्लेइंग इलेवन से बाहर किया जा सकता है। ऐसे में चौथे टेस्ट मैच में इशांत की जगह शार्दुल ठाकुर को मौका दिया जा सकता है। शार्दुल के टीम में रहने से निचले क्रम पर एक बल्लेबाज के रूप में भी विकल्प मिल जाता है।

ये है भारत की संभावित प्लेइंग 11

रोहित शर्मा, केएल राहुल, चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली (कप्तान), अजिंक्य रहाणे, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), आर अश्विन, शार्दुल ठाकुर, मोहम्मद सिराज, बुमराह, शमी

- आयशा आलम