क्रिस हेम्सवर्थ की Extraction को बिना ज्यादा उम्मीद लगाए बस देखों, सच में मजा आएगा

क्रिस हेम्सवर्थ की Extraction को बिना ज्यादा उम्मीद लगाए बस देखों, सच में मजा आएगा

फिल्म की कहानी को ज्यादा कॉम्प्लिकेटेड न करते हुए दिखाया गया है कि भारत के एक बड़े माफिया ( पंकज त्रिपाठी) के स्कूल में बढ़ने वाले बेटे ओवी (रुद्राक्ष जायसवाल) को बांग्लादेश का माफिया (प्रियांशु पेनयुली) किडनैप कर लेता है।

ऑस्ट्रेलियाई एक्टर क्रिस हेम्सवर्थ (Chris Hemsworth) रणदीप हुड्डा और पंकज त्रिपाठी जैसे कलाकारों के साथ भारत और बांग्लादेश के बैकग्राउंड पर आधारित फिल्म एक्सट्रैक्शन (Extraction) लेकर आये हैं। क्रिस हेम्सवर्थ इससे पहले मार्वल  स्टूडियो की सुपरहिट सीरीज थॉर (Thor) और एवेंजर्स में काम कर चुके हैं। क्रिस हेम्सवर्थ को दुनिया में थॉर के नाम से लोकप्रियता मिली है। फिल्म एक्सट्रैक्शन में एक्टर को एकदम अलग अवतार में देखा जा रहा है। एक्सट्रैक्शन में भी हेम्सवर्थ एक्शन मोड में ही नजर आ रहे हैं लेकिन इस बार वह किसी शक्तिशाली एवेंजर की तरह नहीं बल्कि एक फाइटर की तरह लड़ते है। फिल्म एक्सट्रैक्शन नेटफ्लिक्स पर रिलीज हो चुकी है। इस फिल्म में आपको हेम्सवर्थ के साथ कई भारतीय कलाकर भी देखने को मिलेंगे। फिल्म के बारे में अगर एक लाइन कहें तो लंबा अरसा होने वाला था कोई दमदार फिल्म देखने को नहीं मिल रही थी। उस शिकायत को हेम्सवर्थ की एक्सट्रैक्शन दूर कर देगी। फिल्म का नाम एक्सट्रैक्शन है एक्सट्रैक्शन  का मतलब होता है किसी चीज़ को बाहर निकालना। फिल्म की कहानी भी एक किडनैप बच्चे को बाहर निकालने की है। 

फिल्म की कहानी  

फिल्म की कहानी को ज्यादा कॉम्प्लिकेटेड न करते हुए दिखाया गया है कि भारत के एक बड़े माफिया ( पंकज त्रिपाठी) के स्कूल में बढ़ने वाले बेटे ओवी (रुद्राक्ष जायसवाल) को बांग्लादेश का माफिया (प्रियांशु पेनयुली) किडनैप कर लेता है। बांग्लादेश का माफिया बच्चा लौटाने के लिए बहुत बड़ी रकम की मांग करता है लेकिन भारत के ड्रग माफिया जेल में होने के कारण इतना पैसा नहीं दे सकता। पंकज त्रिपाठी के बेटे की सिक्योरिटी संजू यानी की रणदीप हुड्डा के पास होती है। जब बेटे के किडनैप होने की खबर पता चलती है तो माफिया संजू से बांग्लादेश आर्मी ले जाकर अपने बच्चे को वापस लाने के लिए कहता है और साथ में ये भी धमकी देता है कि अगर मेरा बेटा जिंदा नहीं मिलला तो वो उसकी फैमिली को खत्म कर देगा।

संजू पैसे लेकर काम करने वाले जासूसों को कॉन्टेक्ट करता है और उन्हें बहुत पैसे देकर बच्चे को बांग्लादेश के छुडाने की डील करता है। बांग्लादेश से माफिया से बच्चा केवल एक ही शख्स छुड़ा सकता था वो है टाइलर यानि की क्रिस हेम्सवर्थ। जान पर खेल कर टाइलर, ओवी को बचाता है। ये काम वो केलव पैसों के लिए करता है। टाइलर को बच्चा मिल जाता है और वो उसे लेकर बॉर्डर पार करने निकलता है। इसके बाद ही फिल्म में एक नया मोड़ आता है जो पूरी फिल्म को पलट कर रख देता है। इस मोड़ को देखने के लिए आरको फिल्म देखनी पड़ेगी। 

डायरेक्शन

फिल्म के निर्माता क्रिस हेम्सवर्थ है और फिल्म का डायरेक्शन सैम हैराग्वे ने किया है। सैम हैग्राव एक अमेरिकी स्टंटमैन और निर्देशक हैं। वह रुसो ब्रोद्रस के साथ अपने सहयोग के लिए जाने जाते हैं। सैम ने मार्वल सिनेमैटिक यूनिवर्स की फिल्मों के लिए स्टंट सीन का प्लान करते हैं। फिल्म एक्सट्रैक्शन (2020) में भी आपको मार्वल फिल्म्स की तरह ही स्टंट देखने को मिलेंगे। मार्वल की फिल्मों को पसंद करने वालों को ये फिल्म काफी पसंद आने वाली है। फिल्म में एक्शन के साथ इमोशन्स को भी जोड़ा गया है। टायइल और ओवी के बीच बिना किसी रिश्ते के एक बॉन्ड बनता दिखाई देता है। जहां ओवी को अपने पिता का प्यार नहीं मिला वहीं टाइलर अपने बेटे को प्यार नहीं कर पाया। हजारों जान लेने वाले टाइलर ओपी से इमोशनलि कनेक्ट हो जाता है। फिल्म की सबसे अच्छी बात ये है कि एक्शन फिल्म में डवलप किया गया ये इमोशनल एंगल फेक नहीं लगता। फिल्म की स्टोरी टाइमिंग काफी अच्छी है। फिल्म के एक्शन देखकर एक बार आप जरूर सोचेंगे कि ये फिल्म काश हॉल में रिलीज हुई होती। कुल मिलाकर डायरेक्शन कमाल का है। 

फिल्म की लॉकेशन काफी रियल है। फिल्म के कुछ हिस्सों की शूटिंग मुंबई की गलियों में हुई है। ज्यादातर फिल्म बांग्लादेश में शूट की गई हैं।

कलाकार

फिल्म में लीड रोल क्रिस हेम्सवर्थ जो कि पैसे लेकर जासूसी का काम करते है। क्रिस हेम्सवर्थ एक ऐसे अभिनेता है जिनके नाम से ही लोग फिल्में देख लेते है। क्रिस हेम्सवर्थ की एक्टिंग बाकि फिल्मों की तरह शानदार है। उनके अंदर जहां एक एग्रेसिव मैन है वहीं एक लाचार पिता भी है। इस दोनों भाव को क्रिस हेम्सवर्थ के चेहरे पर देखा जा सकता है। रणदीप हुड्डा के हॉलीवुड डेब्यू के बात करें तो रणदीप ने ये साबित कर दिया है कि वह लंबी रेस के खिलाड़ी हैं। पंकज त्रिपाठी का रोल बहुत कम है। पूरी फिल्म रणदीप हुड्डा, रूद्राक्ष जयसवाल, हेम्सवर्थ  के इर्दगिर्द है।