'स्टूडेंट ऑफ द ईयर 2' बनाकर करण जौहर ने लोगों को टॉर्चर किया!

By रेनू तिवारी | Publish Date: May 10 2019 4:47PM
'स्टूडेंट ऑफ द ईयर 2' बनाकर करण जौहर ने लोगों को टॉर्चर किया!
Image Source: Google

वो क्यों हमे लगातार टार्चर कर रहे है? इसका जवाब तो शायद करण जौहर खुद न दे पाएं। खैर हम तो टॉर्चर हो गये है कहीं आप भी अगर ''स्टूडेंट ऑफ द ईयर'' 2 देखने जा रहे हैं तो पहले फिल्म के रिव्यू पढ़ ले-

करण जौहर के लिए साल 2019 शायद ठीक नहीं चल रहा। पहले कलंक का बॉक्स ऑफिस पर कलंक बन जाना और 'स्टूडेंट ऑफ द ईयर' का सीक्वल बना कर तो करण जौहर ने तबाही मचा दी। साल 2012 में करण ने एक फिल्म बनाई थी 'स्टूडेंट ऑफ द ईयर' जो करण की सबसे बकवास फिल्मों में से एक थी। बकवास फिल्म बनाने में करण जौहर शायद रिकॉर्ड कायम करना चाहते हैं इसी लिए शायद करण के दिमाग में 'स्टूडेंट ऑफ द ईयर' 2 बनाने का ख्वाब आया। चलो ख्वाब आना तो ठीक था लेकिन फिल्म में टाइगर श्रॉफ को क्यों ले लिया?? आखिर करण की हमसे क्या दुश्मनी है। वो क्यों हमे लगातार टार्चर कर रहे है? इसका जवाब तो शायद करण जौहर खुद न दे पाएं। खैर हम तो टॉर्चर हो गये है। आप भी अगर 'स्टूडेंट ऑफ द ईयर' 2 देखने जा रहे हैं तो पहले फिल्म के रिव्यू पढ़ ले-



कहानी
कहानी की शुरूआत कहां से शुरू करू समझ नहीं आ रहा, क्योंकि कहानी तो कुछ है ही नहीं लेकिन आपको बताना तो पड़ेगा ही... 2 घंटा 26 मिनट की इस फिल्म में एक  मधयमवर्गीय लड़का है रोहन (टाइगर श्रॉफ) जो स्कूल में एक लड़की मृदुला उर्फ मिया (तारा सुतारिया) से प्यार करता हैं इसे पाने के लिए वो एक छोटे से स्कूल से निकल कर एक बड़े स्कूट (सेंट टेरेसा) में पहुंच जाता हैं। स्कूल मे रोहन की मुलाकात दूसरी लड़की (अनन्या पांडे) से होती हैं और फिर शुरू हो जाता है लव ट्रॉयंगल। फिल्म में 2 घंटे और 26 मिनट में भी बहुत कुछ होता है जो बिलकुल नहीं होना चाहिए था। करण की इस फिल्म में स्कूल की लड़कियों को केवल छोटे कपड़े पहनाकर नाचने के लिए रखा गया हैं वो इस फिल्म में कही किसी भी कॉम्पटिशन में भाग नहीं लेती दिखाई दे रही, लेकिन जैसी ही नाचने की बारी आती है तो हीरो की पर्सनालिटी को बढ़ने के लिए छोटे कपड़े पहनकर आगे पीछे डांस करने आ जाती हैं क्यों करण के इस खयाली स्कूल में हमेशा लड़के ही 'स्टूडेंट ऑफ द ईयर' हो सकते हैं। लड़कियां सिर्फ एक लड़के के लिए आपस में लड़ती हैं स्टूडेंट ऑफ द ईयर की ट्रॉफी के लिए नहीं। सच्चाई से परे इस फिल्म की कहानी आपके सिर के उपर से निकल जाएगी।


 
स्टूडेंट ऑफ द ईयर मूवी रिव्यू
पहले बात करके है एक्टिंग की तो हमने आपको पहले ही बता दिया की इस फिल्म में करण जौहर ने टाइगर श्रॉफ को लेकर सबसे बड़ी गलती की। अगर टाइगर श्रॉफ की जगह कोई और हीरो होता तो शायद आप फिल्म को थोड़ा सा झेल सकते थे। लेकिन जिमनास्टिक और डांस में माहिर टाइगर श्रॉफ इस फिल्म के किरदार के अनुसार बिलकुल भी फिट नहीं हैं। इमोशन और एक्सप्रेशन तो टाइगर श्रॉफ को बिलकुल भी करने के लिए न ही कहो इस फिल्म में वरना आप के गुस्से का लेवल और भी बढ़ जाएगा। चंकी पांडे की बेटी अनन्या पांडे को अभी एक्टिंग की क्लास ओर भी लेनी पड़ेगी। लेकिन अनन्या पांडे को ये जरूर ध्यान रखना होगा की उनका स्कूल करण जौहर की फिल्मों की तरह बिलकुल न हो। तारा सुतारिया की बात करे तो फिल्म में उनके लिए कुछ खास नहीं थी करने के लिए लेकिन जो कुछ भी उन्होंने किया वो वाहियात था। फिल्म का ऐसा एक भी गाना नहीं है जो अपको सिनेमाघर से निकल कर याद आए यहां तक की यूट्ब पर सुनने के बाद भी आप उसे दुबारा नहीं सुनना चाहेंगे। केवल हर्ष बेनीवाल के लिए आप ये फिल्म देख सकते हैं। 
 


कलाकार- टाइगर श्रॉफ,अनन्या पांडे,तारा सुतारिया,आदित्य सील, समीर सोनी
निर्देशक- पुनीत मल्होत्रा
मूवी टाइप- Romance,Drama,Sport
अवधि-2 घंटा 26 मिनट
स्टार - 1.5*

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   



Disclaimer: The views expressed here are solely those of the author in his/her private capacity and do not necessarily reflect the opinions, beliefs and viewpoints of Prabhasakshi and do not in any way represent the views of Prabhasakshi.

Related Video