पीवी सिंधु संग बैंडमिटन खेलती नजर आईं दीपिका पादुकोण, जानिए यह खेल कैसे रखता है आपको फिट

पीवी सिंधु संग बैंडमिटन खेलती नजर आईं दीपिका पादुकोण, जानिए यह खेल कैसे रखता है आपको फिट

अगर आप वजन कम करने के साथ−साथ मसल्स को टोनअप भी करना चाहते हैं तो इस लिहाज से भी बैडमिंटन खेलना यकीनन एक अच्छा विचार है। बैडमिंटन खेलते समय आपकी पूरी बॉडी मूव होती है, जिसके कारण बॉडी के अलग−अलग पार्ट्स की मसल्स भी टोनअप होती हैं।

अभिनेत्री दीपिका पादुकोण का बैडमिंटन खेल के प्रति प्रेम किसी से छिपा नहीं है। बॉलीवुड में एंट्री लेने से पहले दीपिाक एक राष्ट्रीय स्तर की बैडमिंटन प्लेयर भी रह चुकी हैं। वहीं, उनके पिता प्रकाश पादुकोण भी एक बैंडमिटन प्लेयर रह चुके हैं। इस तरह, बचपन से ही दीपिका को बैडमिंटन खेलने का शौक रहा है। हाल ही में दीपिका ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट से स्टार बैंडमिटन खिलाड़ी पीवी सिंधु के साथ कोर्ट में बैंडमिटन खेलते हुए कुछ तस्वीरें व वीडियोज पोस्ट किए है। साथ ही उन्होंने कैप्शन में यह भी लिखा कि पीवी सिंधु के साथ कैलरीज बर्न कर रही हूं। ऐसे में अगर आपको भी एक्सरसाइज करना बोरिंग लगता है और आप एक मजेदार तरीके से खुद को फिट रखना चाहते हैं तो ऐसे में बैडमिंटन खेल सकते हैं। तो चलिए जानते हैं कि यह खेल किस तरह है आपके लिए फायदेमंद−

इसे भी पढ़ें: खुद को फिट रखने के लिए यह खास एक्सरसाइज करती हैं सोहा अली खान, देखिए फिटनेस वीडियो

वजन को मेंटेन करना

जिस समय आप बैडमिंटन खेल रहे होते हैं, उस समय आप अपनी अतिरिक्त कैलोरी बर्न करते हैं। यह एक बेहतरीन कार्डियो एक्सरसाइज है, जो आपके शरीर के अतिरिक्त फैट को आसानी से बर्न करती है। इसका अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि अगर आप दिन में महज एक घंटा भी बैडमिंटन खेलते हैं तो इससे आप करीबन 470−480 कैलोरी आसानी से बर्न कर सकते हैं।

मसल्स को करें टोन

अगर आप वजन कम करने के साथ−साथ मसल्स को टोनअप भी करना चाहते हैं तो इस लिहाज से भी बैडमिंटन खेलना यकीनन एक अच्छा विचार है। बैडमिंटन खेलते समय आपकी पूरी बॉडी मूव होती है, जिसके कारण बॉडी के अलग−अलग पार्ट्स की मसल्स भी टोनअप होती हैं।

इसे भी पढ़ें: खुद को फिट रखने के लिए शिल्पा शेट्टी की तरह करें वीरभद्रासन

टेंशन को कहें बाय−बाय

आज के समय में हर व्यक्ति किसी ना किसी बात को लेकर चिंतित रहता है या फिर मानसिक तनाव से गुजरता है। लेकिन जब आप बैडमिंटन खेलते हैं तो इससे आपकी बॉडी का स्टेस लेवल भी काफी कम हो जाता है। दरअसल, बैडमिंटन खेलते समय आपके भीतर हैप्पी हार्मोन रिलीज होते हैं और तनाव खुद ब खुद कम होता है।

हडि्डयों को मिलती है मजबूती

बैडमिंटन खेलना हडि्डयों के लिए भी काफी अच्छा माना गया है। दरअसल, जब आप नियमित रूप से बैडमिंटन खेलना शुरू करते हैं तो इससे आपकी हडि्डयों को सपोर्ट करने वाले और उनकी डेंटिसिटी को बढ़ाने वाले सेल्स तेजी से बनने शुरू हो जाते हैं और इस तरह आपकी हडि्डयां अधिक मजबूत बनती हैं।

मिताली जैन





डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।