World Hypertension Day 2022: हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने के लिए अपनाएं ये आदतें, नहीं लेनी पड़ेगी दवाई

World Hypertension Day
unsplash
प्रिया मिश्रा । May 16, 2022 11:29AM
हाई ब्लड प्रेशर के कई कारण हो सकते हैं जैसे सुस्त जीवनशैली, खाने में सोडियम की अधिक मात्रा, मोटापा, धूम्रपान आदि। हाई बीपी के कारण हार्ट अटैक और स्ट्रोक जैसी घातक बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। कई लोग हाई बीपी के लिए दवाइयों का सेवन करते हैं लेकिन इससे स्वास्थ्य पर कई दुष्प्रभाव भी होते हैं।

हर साल 17 मई को हाइपरटेंशन डे के रूप में मनाया जाता है। इस दिन को मनाने का उद्देश्य लोगों को रैपिड इंजन के बारे में जागरूक करना है। आजकल की तनावपूर्ण जीवनशैली के कारण कई बीमारियाँ आम हो गई हैं। बढ़ते स्ट्रेस और गलत खानपान के कारण बजुर्ग ही नहीं युवा भी हाई बीपी की समस्या से पीड़ित हैं। हाई ब्लड प्रेशर के कई कारण हो सकते हैं जैसे सुस्त जीवनशैली, खाने में सोडियम की अधिक मात्रा, मोटापा, धूम्रपान आदि। हाई बीपी के कारण हार्ट अटैक और स्ट्रोक जैसी घातक बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। कई लोग हाई बीपी के लिए दवाइयों का सेवन करते हैं लेकिन इससे स्वास्थ्य पर कई दुष्प्रभाव भी होते हैं। ऐसे में आप कुछ स्वस्थ आदतों को अपनाकर हाई बीपी को कंट्रोल कर सकते हैं - 

इसे भी पढ़ें: Black Garlic: औषधीय गुणों से भरपूर काले लहसुन से शरीर को मिलेंगे कई स्वास्थ्य लाभ, ऐसे करें इसका सेवन

हाई ब्लड प्रेशर के लक्षण 

दिल की धड़कने तेज होना

सांस लेने में दिक्कत महसूस होना

चक्कर आना

पेशाब में रक्त आना

हर वक्त सिर दर्द रहना

छाती में दर्द महसूस होना

नाक से खून आना

थकान

हाई ब्लड प्रेशर को कम करने के उपाय 

 

सही हो खानपान 

हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों को अपने खानपान का खास ख्याल रखना चाहिए। इस समस्या को कंट्रोल करने के लिए अपने आहार में हरी सब्जियों और ताजे फलों को शामिल करें। इसके अलावा लो फैट डेरी प्रोडक्ट, साबुत अनाज, नट्स और मछली जैसे खाद्य पदार्थों का सेवन करके भी आप हाई बीपी को कंट्रोल कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: शुगर के मरीज गर्मियों में करें इन 5 ड्रिंक्स, 5 सब्जी और 5 फलों का सेवन, कंट्रोल रहेगा ब्लड शुगर

एक्सरसाइज करें 

हाई बीपी की समस्या को कंट्रोल करने के लिए नियमित रूप से व्यायाम करें। हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक, रोजाना एक्सरसाइज या योग करने से हाई बीपी की समस्या से बचा जा सकता है।

स्मोकिंग या शराब का सेवन न करें 

स्मोकिंग या शराब का सेवन करने से हाई बीपी की समस्या और हार्ट अटैक का खतरा बढ़ सकता है। अल्कोहल के सेवन से आपका सिंपैथेटिक नर्वस सिस्टम एक्टिवेट होता है जिससे हाइपरटेंशन की समस्या बढ़ती है। हाई बीपी की समस्या से बचने के लिए सिगरेट और अल्कोहल का सेवन ना करें।


वजन कंट्रोल करें 

वजन अधिक बढ़ जाने के कारण भी हाई ब्लड प्रेशर की समस्या हो सकती है। इससे डायबिटीज, कोलेस्ट्रोल और दिल की बीमारियों का खतरा भी बढ़ जाता है। ऐसे में अपने वजन को नियंत्रित करें।

नमक का सेवन कम करें 

हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों को नमक का सेवन कम करना चाहिए। नमक में सोडियम की मात्रा ज्यादा होती है जिससे हाई बीपी की समस्या हो सकती है। इससे बचने के लिए अपने आहार में सोडियम की मात्रा को कम करें। जो लोग दिन में 1500 एमजी से कम नमक का सेवन करते हैं उनका बीपी जल्दी नियंत्रित होता है।

तनाव को करें कम 

आजकल की बदलती जीवनशैली में तनाव की समस्या अधिक बढ़ गई है। लेकिन इससे हाई बीपी, डायबिटीज और दिल की बीमारियों का खतरा बढ़ सकता है। इसलिए जिस चीज के कारण आपको तनाव हो रहा है, उसे ठीक करने की कोशिश करें।

- प्रिया मिश्रा

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

अन्य न्यूज़