माइग्रेन पीड़ित भूलकर भी न खाएं यह चीजें, नहीं तो पड़ेगा पछताना

माइग्रेन पीड़ित भूलकर भी न खाएं यह चीजें, नहीं तो पड़ेगा पछताना

आमतौर पर लोग मानते हैं कि सिरदर्द होने पर चाय या कॉफी का सेवन आराम दिलाता है। लेकिन जो लोग नियमित रूप से कॉफी का सेवन करते हैं, उन्हें यह पता ही नहीं होता कि यह माइग्रेन के लिए एक ट्रिगर के रूप में काम करती है।

आधे सिर का दर्द अधिकतर लोगों को परेशान करता है। जब भी व्यक्ति को सिर में तेज दर्द होता है तो इसके लिए वह दवाई लेना ही पसंद करते हैं। लेकिन क्या कभी आपने अपने खानपान पर ध्यान दिया है। नहीं न, दरअसल, ऐसी बहुत सी चीजें होती है जो माइग्रेन पीडि़त व्यक्ति की समस्या को बढ़ाती हैं। हालांकि व्यक्ति को इस बारे में कोई जानकारी नहीं होती। तो चलिए जानते हैं ऐसे ही कुछ खाद्य पदार्थों के बारे में, जिसे एक माइग्रेन पीडि़त व्यक्ति को अवॉयड करना चाहिए−

इसे भी पढ़ें: मैंगनीज से होते हैं बेहद फायदें, जानिए शरीर के लिए क्यों है महत्वपूर्ण

कॉफी

आमतौर पर लोग मानते हैं कि सिरदर्द होने पर चाय या कॉफी का सेवन आराम दिलाता है। लेकिन जो लोग नियमित रूप से कॉफी का सेवन करते हैं, उन्हें यह पता ही नहीं होता कि यह माइग्रेन के लिए एक ट्रिगर के रूप में काम करती है। दरअसल, कॉफी में बेहद उच्च मात्रा में पाया जाने वाला कैफीन दिमाग की नसों के काम में रुकावट डालता है। इसकी वजह से दिमाग में ब्लड सर्कुलेशन धीमा हो जाता है और व्यक्ति को तेज सिरदर्द या आधे सिर में तेज दर्द का अहसास होता है। इसलिए बेहतर होगा कि आप अपने कॉफी इनटेक को धीरे−धीरे कम करने की कोशिश करें।


एल्कोहल

आपने कई बार नोटिस किया होगा कि एल्कोहल के सेवन के बाद अक्सर लोगों को हैंगओवर हो जाता है और उसके बाद उनके सिर में तेज दर्द होता है। एल्कोहॉलिक पेय पदार्थों के सेवन के तीन घंटे के भीतर ही वह माइग्रेन को ट्रिगर करते हैं। इसके कारण दिमाग में ब्लड सर्कुलेशन बहुत तेज हो जाता है जिसकी वजह से कई बार डिहाईड्रेशन के कारण सिरदर्द या माइग्रेन की समस्या बढ़ने लग जाती है।

इसे भी पढ़ें: जानिए कैसे शाम की सैर से सेहत को मिलते हैं यह लाभ

ठंडे खाद्य पदार्थ

अक्सर कुछ लोगों को एकदम ठंडी चीजें जैसे आईसक्रीम आदि खाने से भी माइग्रेन का दर्द हो सकता है। खासतौर से, अगर आप एक्सरसाइज के तुरंत बाद या किसी गर्म तापमान के बाद ठंडी चीजें खाते हैं तो यह समस्या काफी बढ़ सकती है। 

चॉकलेट

चॉकलेट खाना तो हर किसी को पसंद होता है, लेकिन कभी−कभी यह समस्या भी पैदा कर देता है, खासतौर से माइग्रेन पीडि़त व्यक्ति के लिए। चॉकलेट में पाया जाने कैफीन और बीटा−फेनीलेथाइलामीन नामक तत्व रक्त वाहिकाओं में खिंचाव पैदा करता है, जिसके कारण व्यक्ति को सिर में दर्द का अहसास होता है।

इसे भी पढ़ें: अनार के रस के सेवन से मिलते हैं यह जबरदस्त लाभ

नमक 

अत्यधिक नमक या बहुत अधिक नमक वाले फूड्स भी माइग्रेन की समस्या को बढ़ाते हैं। इस प्रकार के सॉल्टी व पैकेज्ड फूड में नमक के साथ−साथ कई तरह के हानिकारक प्रिजर्वेटिव्स भी मिलाए जाते हैं, जो माइग्रेन को ट्रिगर करते हैं। 

मिताली जैन





डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept