अगर मधुमेह से पीड़ित हैं तो भूल कर भी न खाएं यह सब चीजें

food-that-should-be-avoid-in-diabetes-in-hindi
मिताली जैन । Feb 11, 2019 12:49PM
खान−पान में बरती गई लापरवाही स्थिति को और भी अधिक बिगाड़ सकती है। तो चलिए आज हम आपको ऐसे कुछ आहार के बारे में बता रहे हैं, जिसका सेवन मधुमेह से पीड़ित व्यक्ति को भूल कर भी नहीं करना चाहिए।

मधुमेह आज सिर्फ भारत ही नहीं, पूरे विश्व में अपने पैर पसारने लगा है। भारत को तो विश्व की डायबिटीक कैपिटल कहकर पुकारा जाता है। इस प्रकार भारत में मधुमेह से पीड़ित व्यक्तियों की संख्या काफी अधिक है। मधुमेह से पीड़ित व्यक्ति को अपने खान−पान पर अधिक ध्यान देना पड़ता है। खान−पान में बरती गई लापरवाही उसकी स्थिति को और भी अधिक बिगाड़ सकती है। तो चलिए आज हम आपको ऐसे कुछ आहार के बारे में बता रहे हैं, जिसका सेवन मधुमेह से पीड़ित व्यक्ति को भूल कर भी नहीं करना चाहिए−

इसे भी पढ़ेंः बढ़ती तोंद ने कर दिया है परेशान तो अवश्य करें यह योगासन

चीनी व मीठे पेय पदार्थ

सोडा व स्वीट ड्रिन्क में कार्ब्स काफी अधिक पाए जाते हैं, जो रक्त में शर्करा के स्तर को बढ़ाते हैं। इसके साथ ही इनकी उच्च फ्रुक्टोज कंटेट इंसुलिन रेसिसडेंस से जुड़ा है। जिससे व्यक्ति को मोटापे, फैटी लिवर और अन्य बीमारियां होने की संभावना कई गुना बढ़ जाती है। इसी तरह अनस्वीट फ्रूट जूस का भी सेवन नहीं करना चाहिए। भले ही इनमें शुगर कम हो लेकिन हाई फ्रुक्टोज इंसुलिन रेसिसडेंस को प्रभावित करता है और वजन बढ़ने के साथ−साथ हृदय रोग होने की आशंका भी बढ़ती है।

सफेद ब्रेड, पास्ता व चावल

सफेद ब्रेड, पास्ता और चावल कार्ब्स अधिक होते हैं, जबकि फाइबर काफी कम होता है। जिसके कारण शरीर में रक्त शर्करा का स्तर बढ़ता है। इसलिए इस तरह के भोजन से दूरी बनाकर रखनी चाहिए। कोशिश करें कि आपका आहार उच्च फाइबर युक्त हो।

इसे भी पढ़ेंः कंप्यूटर जैसे तेज दिमाग वाला बच्चा चाहती हैं तो प्रेग्नेंसी में खाएं ये चीज़ें

फ्लेवर्ड दही

यूं तो दही स्वास्थ्य के लिए कई मायनों में लाभदायक है, लेकिन मधुमेह रोगियों को फलों के फ्लेवर वाली दही का सेवन करने से बचना चाहिए क्योंकि इनमें शुगर की मात्रा काफी अधिक होती है। जिसके कारण रक्त में शर्करा व इंसुलिन का स्तर बढ़ने लगता है। बेहतर होगा कि आप सादा व घर में जमी हुई दही का सेवन करें।


इसे भी पढ़ेंः रोजाना एक कप ग्रीन टी पीने से शरीर में होते हैं यह बड़े बदलाव 

पैकेज्ड स्नैक्स

अक्सर हम देखते हैं कि लोग घरों में हल्की−फुल्की भूख को मिटाने के लिए पैकेज स्नैक्स का सेवन करते हैं। यह खाने में स्वादिष्ट होते हैं और इसलिए लोग इसे खाना अधिक पसंद करते हैं। लेकिन इस तरह के स्नैक्स का सेवन सेहत के लिए उचित नहीं होता। पैकेज्ड स्नैक्स रिफाइंड आटे से बने हाई प्रोसेस्ड फूड होते हैं जो एकदम से रक्त में शर्करा के स्तर को बढ़ाते हैं। इसलिए अगर दो मील के बीच आपको हल्की−फुल्की भूख लगे तो पैकेज स्नैक्स खाने की बजाय नट्स, लो−कार्ब्स सब्जियों का सलाद आदि बनाकर खाएं। 

-मिताली जैन

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

अन्य न्यूज़