• टाइफाइड होने पर इन चीजों का करें सेवन, जल्दी ठीक होंगे आप

मिताली जैन Jun 22, 2021 12:48

टाइफाइड के रोगियों को पर्याप्त मात्रा में तरल पदार्थ का सेवन करना चाहिए। ये तरल पदार्थ नारियल पानी, ताजे फलों के रस, खीरा और सेब का रस, छाछ, जौ का पानी, इलेक्ट्रोलाइट फोर्टिफाइड पानी, सब्जी का शोरबा और नींबू का सेवन करें।

टाइफाइड बुखार एक तीव्र जीवाणु रोग है जो टाइफाइड साल्मोनेला टाइफी (एस टाइफी) नामक बैक्टीरिया के कारण होता है। आमतौर पर यह दूषित भोजन या पानी के कारण होता है। यह एक ऐसा रोग है, जो संक्रमित व्यक्ति से स्वस्थ व्यक्ति में बहुत तेजी से फैलता है। टाइफाइड बुखार की शुरुआत पसीना, ठंड लगना, सिरदर्द, शरीर में दर्द, गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल समस्याओं के कारण पेट में दर्द और सूखी खांसी के साथ होती है। फिर, एक तेज और आवर्ती बुखार विकसित हो सकता है और कब्ज या दस्त और भूख न लगने की भी संभावना होती है। इसके बाद, आप कमजोरी और वजन घटाने का अनुभव करते हैं जो कभी−कभी महीनों तक रह सकता है। टाइफाइड से जुड़े इन लक्षणों में से किसी एक का अनुभव करने वाले व्यक्ति को तत्काल चिकित्सा सहायता लेनी चाहिए। यूं तो चिकित्सीय मदद की वजह से आप अपनी समस्या से राहत पा सकते हैं, लेकिन अगर खान−पान पर पूरा ध्यान दिया जाए तो इससे हीलिंग प्रोसेस काफी तेज हो जाता है। तो चलिए जानते हैं टाइफाइड होने पर क्या खाया जाए−

इसे भी पढ़ें: तनाव के कारण पुरूषों को आ सकता है हार्ट अटैक, जानिए कैसे बचें इससे

हाई कैलोरी डाइट लें

हेल्थ एक्सपर्ट बताते हैं कि टाइफाइड से पीडि़त प्रत्येक रोगी को हाई कैलोरी डाइट लेनी चाहिए। कैलोरी की उच्च मात्रा कमजोर रोगी को ऊर्जा और शक्ति प्रदान करती है, जिसमें टाइफाइड बुखार के कारण होने वाले वजन में कमी भी शामिल है। उच्च कैलोरी वाले खाद्य पदार्थ जैसे उबले हुए आलू, सफेद ब्रेड, फल−कस्टर्ड, सूजी इडली आदि हैं। 

हाई कार्बोहाइड्रेट कंटेंट फूड लें

हेल्थ एक्सपर्ट के अनुसार, टाइफाइड के रोगी को आहार में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा अधिक लेनी चाहिए। सेमी सॉलिड भोजन एक ऐसी चीज है जिसे टाइफाइड के रोगी के लिए आसानी से पचाया जा सकता है। इसलिए, टाइफाइड बुखार से पीडि़त होने पर बेक्ड आलू, बेक्ड सेब, पके हुए या उबले अंडे, उबले हुए चावल या मूंग−दाल खिचड़ी या मूंग−दाल डोसा जैसे खाद्य पदार्थ शरीर के लिए फायदेमंद होते हैं।

हाई वाटर कंटेंट फूड को करें शामिल

टाइफाइड के रोगियों को पर्याप्त मात्रा में तरल पदार्थ का सेवन करना चाहिए। ये तरल पदार्थ नारियल पानी, ताजे फलों के रस, खीरा और सेब का रस, छाछ, जौ का पानी, इलेक्ट्रोलाइट फोर्टिफाइड पानी, सब्जी का शोरबा और नींबू का सेवन करें। इसके अलावा, आपको अंगूर, तरबूज, खुबानी आदि को भी अपने आहार में शामिल करना चाहिए। हेल्थ एक्सपर्ट के अनुसार, टाइफाइड बुखार के दौरान शरीर में पानी की मात्रा कम हो जाती है, जिससे डिहाइड्रेशन हो जाता है। इस तरह, फल और तरल पदार्थ लेने से शरीर में पानी की मात्रा को मेंटेंन करने में मदद करते हैं।

इसे भी पढ़ें: जिंक सप्लीमेंट का जरूरत से ज्यादा करेंगे सेवन तो होंगे यह बड़े नुकसान

डेयरी उत्पादों का सेवन करें

टाइफाइड बुखार के दौरान खाने वाले खाद्य पदार्थों की सूची में डेयरी उत्पाद भी अपना नाम पाते हैं। जब कोई व्यक्ति इस बीमारी से पीडि़त हो तो इनका अधिक मात्रा में सेवन करना चाहिए। हालांकि, अधिकांश लोग दूध के प्रति इनटॉरलरेंट हो जाते हैं, क्योंकि इससे बुखार में मतली हो सकती है। लेकिन पनीर और दही जैसे डेयरी उत्पाद पचाने में आसान होते हैं और शरीर में प्रोटीन की कमी को पूरा कर सकते हैं। 

सूप का सेवन करें

हेल्थ एक्सपर्ट बताते हैं कि सूप पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं, आसानी से पचने योग्य और घर पर तैयार करने में बेहद आसान होते हैं। टाइफाइड के दौरान खाने वाले खाद्य पदार्थों की सूची में वेजिटेबल सूप, पालक का सूप, हल्का चिकन सूप, मशरूम सूप और गाजर का सूप आदि शामिल हैं।

ओमेगा−3 फैटी एसिड से भरपूर खाद्य पदार्थ लें

टाइफाइड के रोगी को ओमेगा−3 फैटी एसिड से भरपूर खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए। सोयाबीन, मेवा और बीज, साथ ही अंडे, कुछ ऐसी चीजें हैं जो रोगी खा सकते हैं। ये शरीर में सूजन को कम करते हैं और इसलिए टाइफाइड में खाने वाले खाद्य पदार्थों में से एक के रूप में सिफारिश की जाती है।

मिताली जैन