• हीमोग्लोबिन क्या है और इसकी कमी को कैसे दूर किया जा सकता है?

कंचन सिंह May 12, 2021 14:01

हीमोग्लोबिन बढ़ाने के लिए अनार, बीटरूट, केला, गाजर, अमरूद, सेब, अंगूर, संतरा, टमाटर आदि का सेवन बहुत फायदेमंद होता है। इसके अलावा हरी सब्जियां खाना भी लाभदायक होता है। विटामिन सी से भरपूर फल व सब्ज़ियां हीमोग्लोबिन के लिए बहुत कारगर होते हैं।

इस कोरोना काल में सुरक्षित रहने और संक्रमण से लड़ने के लिए बार-बार इम्यूनिटी बढ़ाने की बात कही जा रही है। ऐसे में आपके लिए यह जानना जरूरी है कि हीमोग्लोबिन की सही मात्रा भी इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए ज़रूरी है। हीमोग्लोबिन की कमी से न सिर्फ कमजोरी महसूस होती है, बल्कि शरीर में मौजूद रक्त में ऑक्सीजन की मात्रा भी कम हो सकती है। इसलिए हेल्थ एक्सपर्ट्स का मानना है कि सही खानपान से हीमोग्लोबिन के स्तर को बढ़ाया जाए।

इसे भी पढ़ें: आंतों में जाकर अच्छे बैक्टीरिया की संख्या बढ़ाता है फर्मेंटेड फूड

हीमोग्लोबिन क्या है?

हीमोग्लोबिन रेड ब्लड सेल्स में मौजूद एक तरह का प्रोटीन है जो शरीर के सभी अंगों और कोशिकाओं तक ऑक्सीजन पहुंचाने का काम करता है और कार्बनडाइऑक्साइड को शरीर के बाकी अंगों से फेफड़ों तक पहुंचाता है। स्वस्थ रहने के लिए किसी भी व्यक्ति का हीमोग्लोबिन सामान्य स्तर पर होना जरूरी है, सामान्य से कम होने का मतलब है कि उसकी इम्यूनिटी कमजोर पड़ रही है। हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार, आमतौर पर किसी महिला के शरीर में हीमोग्लोबिन का स्तर 12 से 16 और पुरुषों के शरीर में यह 14 से 18 के बीच सामान्य माना जाता है।

हीमोग्लोबिन की कमी से होती हैं ये समस्याएं

- सिर, सीने के साथ ही पूरे शरीर में दर्द होना

- आयरन की कमी से एनीमिया यानी खून की कमी होना

- किडनी और लिवर की बीमारियां होना

- दिल से जुड़ी बीमारियां होना

- त्वचा के रंग में बदलाव और उसका कमजोर होना

- पीरियड्स के दौरान ज्यादा दर्द होना

- ज़्यादा ठंडी लगना, तलवे और हथेलियां ठंडी हो जाती है।

हीमोग्लोबिन बढ़ाने के डायट में शामिल करें ये चीज़ें

स्वास्थ्य विशेषज्ञ दवाओं की बजाय हमेशा कुदरती तरीके से हीमोग्लोबिन बढ़ाने की सलाह देते हैं। इसके लिए डायट में कुछ खास चीज़ों को शामिल करना ज़रूरी है।

सब्ज़ियां और फल

हीमोग्लोबिन बढ़ाने के लिए अनार, बीटरूट, केला, गाजर, अमरूद, सेब, अंगूर, संतरा, टमाटर आदि का सेवन बहुत फायदेमंद होता है। इसके अलावा हरी सब्जियां खाना भी लाभदायक होता है। विटामिन सी से भरपूर फल व सब्ज़ियां हीमोग्लोबिन के लिए बहुत कारगर होते हैं।

इसे भी पढ़ें: क्या आप भी रहती हैं कमर दर्द की समस्या से परेशान? जानिए इसके होने का कारण...

गुड़

हीमोग्लोबिन बढ़ाने के लिए हेल्थ एक्सपर्ट्स गुड़ खाने की भी सलाह देते हैं। गुड़ की तासीर गर्म होती है आप गुड़ का इस्तेमाल चीनी की जगह कर सकते हैं। गुड़ की चाय भी पी सकते हैं। हालांकि इसका सेवन सीमित मात्रा में ही किया जाना चाहिए।

ड्राई फ्रूट्स

यदि आपका हीमोग्लोबिन कम है जो खजूर, बादाम और किशमिश खाना शुरू कर दीजिए। इनमें पर्याप्त मात्रा में आयरन होता है। बादाम और किशमिश को भीगोकर खाना ज्यादा फायदेमंद होता है।

फॉलिक एसिड

शरीर में हीमोग्लोबिन का स्तर सामान्य बनाए रखने के लिए फॉलिक एसिड से भरपूर चीजों का सेवन भी जरूरी है, क्योंकि इसकी कमी से हीमोग्लोबिन का स्तर गिरने लगता है। इसलिए डायट में फॉलिक एसिड से भरपूर दाल, पत्तागोभी, ब्रोकली, बादाम, मटर, केले आदि को शामिल करें।

विटामिन बी कॉम्प्लेक्स

शरीर में खून बनाने में विटामिन बी कॉम्प्लेक्स की अहम भूमिका होती है, इसकी कमी को आप किशमिश खाकर पूरी कर सकते हैं। सूखी काली किशमिश आयरन से भरपूर होती है जिसे खाने से हीमोग्लोबिन बढ़ता है।

इन चीजों से करें परहेज

यदि आपके खून में हीमोग्लोबिन की कमी है तो आपको ऐसे पदार्थों के सेवन से परहेज करना चाहिए जो शरीर में आयरन को खत्म कर देते हैं या शरीर को इसे अवशोषित नहीं करने देते। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक आयरन और कैल्शियम का एकसाथ सेवन नहीं करना चाहिए। साथ ही चाय, कॉफी,  सोडा, वाइन, बीयर आदि का सेवन भी कम करें।

- कंचन सिंह