आँतों में जमा गंदगी हो सकती है खतरनाक, इसे साफ करने के लिए डाइट में जरूर शामिल करें ये फूड्स

आँतों में जमा गंदगी हो सकती है खतरनाक, इसे साफ करने के लिए डाइट में जरूर शामिल करें ये फूड्स

पेट के साथ साथ आंतों का साफ होना भी बहुत जरूरी है। अगर आंतों में टॉक्सिंस जमा होंगे तो इससे कई तरह की स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं। ऐसे में आपको खानपान पर विशेष ध्यान देने की जरूरत होती है। कोलन के साफ रहने से आपका मेटाबॉलिज्म बूस्ट होगा और आप स्वस्थ रहेंगे।

खानपान की गलत आदतों के कारण अक्सर पेट से जुड़ी समस्याएं हो सकती हैं। कई बार जब पेट सही तरीके से साफ नहीं हो पाता है तो कोलन में गांधी जमा हो जाती है। ऐसे में पेट के साथ साथ आंतों का साफ होना भी बहुत जरूरी है। अगर आंतों में टॉक्सिंस जमा होंगे तो इससे कई तरह की स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं। ऐसे में आपको खानपान पर विशेष ध्यान देने की जरूरत होती है। कोलन के साफ रहने से आपका मेटाबॉलिज्म बूस्ट होगा और आप स्वस्थ रहेंगे। आज के इस लेख में हम आपको कुछ ऐसी टिप्स देंगे जिनकी मदद से आपको कोलन की सफाई में मदद मिलेगी -

इसे भी पढ़ें: शरीर में आयरन की कमी होने पर नजर आते हैं यह संकेत, हो जाएं सतर्क

सेब

सेब में मौजूद पेक्टिन से कोलन की सफाई में मदद मिलती है। इसके सेवन से शरीर की गन्दगी और मल को बाहर निकालने में मदद मिलती है। इसके साथ ही, सेब के सेवन से पेट में कैंसर की कोशिकाओं के विकास को रोकने में मदद मिलती है। इसके लिए आप रोजाना सेब के जूस का सेवन करें।

कच्ची सब्जियों का जूस 

कोलन को डिटॉक्स करने के लिए कच्ची सब्जियों का सेवन करें। इसमें भरपूर मात्रा के फाइबर मौजूद होता है जिससे शरीर को डिटॉक्स करने में मदद मिलती है। इसके लिए पालक, गाजर, चुकुंदर, टमाटर और ककड़ी का जूस अपनी डाइट में जरूर शामिल करें।

नींबू 

नींबू में भरपूर मात्रा में विटामिन सी मौजूद होता है। यह शरीर को डिटॉक्स करने में मदद करता है और मेटाबॉलिज्म को बूस्ट करता है। इसके साथ ही, नींबू के सेवन से शरीर को फ्री रेडिकल्स से होने वाले नुकसान से बचाने में मदद मिलती है। इसके लिए रोजाना सुबह खाली पेट एक गिलास गुनगुने पानी में एक नींबू का रस और एक चम्मच शहद मिलाकर पिएं।

इसे भी पढ़ें: ऐसे करें टीबी की बीमारी की पहचान, रोकथाम के लिए इन बातों का रखें खास ध्यान

दही 

दही हमारे पेट के लिए बहुत फायदेमंद है। यह एक नेचुरल प्रोबायोटिक है, जो आंतों में हेल्दी बैक्टीरिया को बनाए रखता है। रोजाना दही खाने से पाचन तंत्र दुरुस्त रहता है और आंतों की सफाई में मदद मिलती है। रोजाना एक से दो कप दही का सेवन करने से गट क्लींजिंग में मदद मिलती है।

एप्पल साइडर विनेगर 

एप्पल साइडर विनेगर यानी सेब का सिरका आंत के लिए फायदेमंद होता है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट और एंटीबायोटिक गुण मौजूद होते हैं जो कोलन की सफाई में मदद करते हैं। इसमें मौजूद एसिटोबैक्टर नामक बैक्टीरिया से पाचन तंत्र दुरुस्त रहता है। इसके सेवन से वजन घटाने में भी मदद मिलती है।

- प्रिया मिश्रा 





डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।