भूख ना लगने से हैं परेशान तो अपनाएं यह आसान उपाय

भूख ना लगने से हैं परेशान तो अपनाएं यह आसान उपाय

अदरक अपच की समस्या को दूर करने के साथ−साथ भूख ना लगने की परेशानी से भी निजात दिलाता है। इसके अलावा, अदरक पेट के दर्द को दूर करने में भी सहायक है। इसके लिए आप अदरक को बारीक काट लें और इसमें एक चुटकी सेंधा नमक मिलाएं।

यह तो हम सभी जानते हैं कि हेल्दी रहने से पौष्टिक व संतुलित आहार लेना बेहद आवश्यक है। जिस तरह ओवरईटिंग स्वास्थ्य के लिए उचित नहीं मानी जाती, ठीक उसी प्रकार कम मात्रा में भोजन करना भी सेहत के लिए हानिकारक है। लेकिन ऐसे कई लोग होते हैं, जिन्हें सही ढंग से भूख ही नहीं लगती, जिसके कारण वह अपने शरीर की पोषक संबंधी आवश्यकताओं को पूरा नहीं कर पाते और उन्हें कई तरह की स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। अगर आप भी इनमें से ही एक हैं तो इन आसान उपायों को अपनाकर आप भूख ना लगने की समस्या से मुक्ति पा सकते हैं−

इसे भी पढ़ें: काम के चलते नाश्ते में न करें लापरवाही वरना पड़ेगा भारी

आंवला

अमूमन लोगों को गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल समस्याओं के कारण भूख कम लगती है। आंवला उन समस्याओं को दूर करके भूख बढ़ाने का काम करता है। इतना ही नहीं, यह पाचनतंत्र को बेहतर बनाता है और लिवर को डिटॉक्सिफाई करता है। इसके सेवन के लिए एक कप पानी में दो चम्मच आंवले का रस, नींबू का रस और शहद मिलाएं। इसे रोजाना सुबह खाली पेट, कम से कम तीन से चार महीने तक पिएं। इसके अलावा आप एक चम्मच आंवले के पाउडर को एक कप पानी में डालें और रातभर के लिए ऐसे ही रहने दें। अगली सुबह, आप पानी में दो चम्मच नींबू का रस और एक चुटकी काली मिर्च डालकर नियमित रूप से खाली पेट पीएं।

अदरक

अदरक अपच की समस्या को दूर करने के साथ−साथ भूख ना लगने की परेशानी से भी निजात दिलाता है। इसके अलावा, अदरक पेट के दर्द को दूर करने में भी सहायक है। इसके लिए आप अदरक को बारीक काट लें और इसमें एक चुटकी सेंधा नमक मिलाएं। आठ से दस दिनों तक हर दिन भोजन से आधे घंटे पहले इसका सेवन करें। इसके अलावा आप अदरक की चाय का सेवन भी कर सकते हैं।

काली मिर्च

काली मिर्च का उपयोग अक्सर पाचन में सुधार, भूख बढ़ाने और गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल समस्याओं के इलाज के लिए एक आयुर्वेदिक उपचार के रूप में किया जाता है। यह पेट और आंतों की गैस से भी छुटकारा दिलाता है। इसके सेवन के लिए एक चम्मच गुड़ पाउडर और एक−आधा चम्मच पिसी हुई काली मिर्च मिलाएं। इसका नियमित रूप से कुछ दिनों तक सेवन करें।

इसे भी पढ़ें: जानिए उन कारणों को जिसकी वजह से होती है थकान

इलायची

इलायची एक पाचक टॉनिक के रूप में काम करती है। यह अपच, पेट फूलना और अम्लता से राहत देने और पाचन रस के स्राव को उत्तेजित करके भूख में सुधार करने में मदद करती है। इसके सेवन के लिए आप बस इसे नियमित रूप से अपनी चाय में मिलाएं।

मिताली जैन





डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।