विटामिन सी की कमी होने पर हो सकते हैं यह गंभीर रोग

know-about-vitamin-c-deficiency-diseases-in-hindi
मिताली जैन । Jun 22, 2019 2:04PM
विटामिन सी की कमी व्यक्ति में खून की कमी का कारण भी बनती है। दरअसल, विटामिन सी लाल रक्त कोशिकाओं में पाए जाने वाले हीमोग्लोबिन के लिए आवश्यक आयरन के अवशोषण को सहायता करता है। इसलिए अगर शरीर में विटामिन सी की कमी होती है तो इससे आयरन के अवशोषण में परेशानी होती है और व्यक्ति को खून की कमी की समस्या का सामना करना पड़ता है।

अमूमन खट्टे पदार्थों में पाया जाने वाला विटामिन सी बेहतर स्वास्थ्य के लिए बेहद आवश्यक है। यह वास्तव में एक एंटीऑक्सीडेंट है जो हमारे शरीर में मुक्त कणों से होने वाले नुकसान को रोकता है। अमूमन एक व्यस्क को 90 मिलीग्राम तथा महिला को 75 मिलीग्राम प्रतिदिन विटामिन सी लेना चाहिए। जब इसकी कमी हो जाती है तो मसूड़ों की सूजन, जोड़ों का दर्द, एनीमिया, दांत टूटना, मसूड़ों से खून आना, चोट लगना, बालों और त्वचा में बदलाव और अवसाद जैसे लक्षण नजर आते हैं। इतना ही नहीं, विटामिन सी की कमी कई गंभीर रोगों को कारण भी बन सकती है। तो चलिए जानते हैं इसके बारे में−

इसे भी पढ़ें: जानिए शरीर के लिए क्यों जरूरी है फोलिक एसिड

कैंसर

चूंकि विटामिन सी एक एंटीऑक्सिडेंट है जो मुक्त कणों को नष्ट करता है। यह फ्री रेडिकल्स शरीर में कोशिकाओं को नुकसान पहुंचाते हैं। इसलिए विटामिन सी की कमी से कैंसर हो सकता है। विटामिन सी त्वचा, गर्भाशय ग्रीवा और स्तन कैंसर जैसे कैंसर को रोकने में उपयोगी हो सकता है।

ह्दय संबंधी समस्याएं

विटामिन सी की कमी से ह्दय संबंधी समस्याओं जैसे कमजोर रक्त वाहिकाएं या ह्दय की कार्यप्रणाली भी कमजोर हो सकती है। इसलिए अगर आप अपने ह्दय को लंबे समय तक स्वस्थ बनाए रखना चाहते हैं तो डाइट में विटामिन सी युक्त आहार को अवश्य शामिल करें।

इसे भी पढ़ें: राजमा खाने के इन फायदों से अब तक नावाकिफ होंगे आप

अनीमिया

विटामिन सी की कमी व्यक्ति में खून की कमी का कारण भी बनती है। दरअसल, विटामिन सी लाल रक्त कोशिकाओं में पाए जाने वाले हीमोग्लोबिन के लिए आवश्यक आयरन के अवशोषण को सहायता करता है। इसलिए अगर शरीर में विटामिन सी की कमी होती है तो इससे आयरन के अवशोषण में परेशानी होती है और व्यक्ति को खून की कमी की समस्या का सामना करना पड़ता है।

संक्रमण का खतरा 

विटामिन सी की कमी से शरीर में संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है। दरअसल, विटामिन सी बॉडी के नेचुरल हीलिंग प्रोसेस में मददगार है और जब शरीर में इस विटामिन की कमी हो जाती है तो व्यक्ति का घाव, जलन या अन्य चोटें जल्द ठीक नहीं हो पातीं।

इसे भी पढ़ें: गर्मी के मौसम में ककड़ी का सेवन बचाएगा इन परेशानियों से

ब्लीडिंग गम या सूजन की परेशानी

त्वचा की तरह, हमारे मसूड़े भी कोलेजन से बने होते हैं। यह कोलेजन शरीर द्वारा विटामिन सी के का उपयोग करके उत्पादित किया जाता है। विटामिन सी की कमी होने पर व्यक्ति को मसूडे़ फूलना या ब्रश करने पर खून बहने की समस्या बढ़ सकती है। इतना ही नहीं, विटामिन सी की कमी के कारण दांत गिरना या मसूड़ों के घाव में बैक्टीरिया संक्रमण भी हो सकता है।

मिताली जैन

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

अन्य न्यूज़