लेजर ट्रीटमेंट हो या ब्रेस्ट इंप्लांटेशन, जानें कॉस्मेटिक सर्जरी के सकारात्मक पहलू

लेजर ट्रीटमेंट हो या ब्रेस्ट इंप्लांटेशन, जानें कॉस्मेटिक सर्जरी के सकारात्मक पहलू

कॉस्मेटिक सर्जरी से होने वाले लाभों के बारे में बात करने से पहले आपको इसके बारे में पता होना चाहिए। कॉस्मेटिक सर्जन बताते हैं कि कॉस्मेटिक सर्जरी का मुख्य उद्देश्य किसी व्यक्ति की अपीयरेंस को बेहतर बनाना होता है।

अधिकतर लोग खुद में कुछ हद तक बदलाव करने के लिए कॉस्मेटिक सर्जरी पर विचार करते हैं। लेकिन उसकी पूरी तरह से जानकारी ना होने के कारण अक्सर वह दुविधा में ही रहते हैं। यकीनन कॉस्मेटिक सर्जरी करवाना एक बड़ा निर्णय है और इस निर्णय पर पहुंचने से पहले आपको इसे सभी पहलुओं पर गौर करना चाहिए। आमतौर पर लोग कॉस्मेटिक सर्जरी से होने वाले नुकसानों पर ही बात करते हैं। लेकिन आज इस लेख में हम आपको कॉस्मेटिक सर्जरी के कुछ सकारात्मक पहलुओं से अवगत कराएंगे−

इसे भी पढ़ें: मल्टीविटामिन नहीं, इन फूड्स के जरिए शरीर को दें पर्याप्त पोषण

क्या है कॉस्मेटिक सर्जरी

कॉस्मेटिक सर्जरी से होने वाले लाभों के बारे में बात करने से पहले आपको इसके बारे में पता होना चाहिए। कॉस्मेटिक सर्जन बताते हैं कि कॉस्मेटिक सर्जरी का मुख्य उद्देश्य किसी व्यक्ति की अपीयरेंस को बेहतर बनाना होता है। इसमें चेहरे की कंटूरिंग से लेकर ब्रेस्ट इंप्लांटेशन, बॉडी कंटूरिंग, स्किन व फेस रिजुविनेशन आदि किया जाता है।

खूबसूरती बढ़ना 

कॉस्मेटिक सर्जन के अनुसार, कॉस्मेटिक सर्जरी का यह सबसे पहला और महत्वपूर्ण लाभ है। चूंकि कॉस्मेटिक सर्जरी करवाने का मुख्य उद्देश्य ही यही होता है कि यह आपकी फिजिकल अपीयरेंस को बेहतर बनाता है। हालांकि बाद में रिजल्ट से आप नाखुश ना हो, इसलिए पहले सर्जन से सर्जरी के बाद अपने लुक्स पर चर्चा अवश्य करें।

शारीरिक स्वास्थ्य में सुधार

कॉस्मेटिक सर्जन बताते हैं कि कॉस्मेटिक सर्जरी प्रक्रिया का यह भी एक फायदा है। कुछ मामलों में यह आपके शारीरिक स्वास्थ्य को बेहतर बना सकती है। उदाहरण के लिए, एक राइनोप्लास्टी सर्जरी, न केवल आपकी नाक के लुक और शेप को बढ़ाएगी, बल्कि श्वसन संबंधी समस्याओं में भी मदद कर सकती है।

इसे भी पढ़ें: इन लक्षणों के जरिए करें ब्लड कैंसर के शुरूआती स्टेज की पहचान

मिलते हैं मनोवैज्ञानिक लाभ भी

कॉस्मेटिक सर्जन के अनुसार, कॉस्मेटिक सर्जरी सिर्फ आपकी फिजिकल अपीयरेंस पर ही सकारात्मक असर नहीं डालती। बल्कि इससे आपको कई मनोवैज्ञानिक लाभ भी मिलते हैं। मसलन, आज के समय में व्यक्ति भीतर ही नहीं, बाहरी सुंदरता पर भी उतना ही ध्यान देता है। ऐसे में जब आप बाहरी तौर पर भी अधिक खूबसूरत दिखते हैं तो इससे कहीं ना कहीं आपका आत्मविश्वास मजबूत होता है। इसके अलावा, जो लोग अपने लुक्स के कारण तनाव या अवसाद जैसी स्थितियों से गुजर रहे होते हैं, उनका मानसिक स्वास्थ्य भी काफी हद तक बेहतर होता है।

मिताली जैन





डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।