जानिए शरीर के लिए क्यों जरूरी है फोलिक एसिड

know-the-importance-and-benefits-of-folic-acid-in-hindi
मिताली जैन । Jun 21, 2019 6:04PM
आपको शायद पता न हो लेकिन फोलिक एसिड के जरिए कैंसर के खतरे को भी काफी हद तक कम किया जा सकता है। अमूमन कोलन कैंसर, गर्भाशय ग्रीवा कैंसर, स्किन कैंसर, स्तन कैंसर व एसोफैगल कैंसर के जोखिम को कम करने में सहायक है।

जब एक महिला गर्भवती होती है, तो उसे फोलिक एसिड की गोलियां खाने की सलाह दी जाती है ताकि उसके गर्भस्थ शिशु में मस्तिष्क या रीढ़ की हड्डी के जुड़ा कोई जन्मदोष न हो। गर्भवती स्त्रियों के लिए इसे बेहद महत्वपूर्ण माना जाता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि यह शरीर के लिए क्यों आवश्यक है। दरअसल, फोलिक एसिड एक सिंथेटिक संस्करण है, जो एक प्रकार का फोलेट या विटामिन बी 9 है। यह स्वाभाविक रूप से कुछ फलों, सब्जियों व नट्स में पाया जाता है। यह विटामिन बी 9 नई लाल रक्त कोशिकाओं का निर्माण करने में मदद करता है। यही लाल रक्त कोशिकाएं आपके शरीर के सभी हिस्सों में ऑक्सीजन ले जाती हैं। जब शरीर में विटामिन बी 9 की कमी हो जाती है तो उस कमी को पूरा करने के लिए व्यक्ति फोलिक एसिड की गोलियों का सेवन करता है। तो चलिए जानते हैं इसके बारे में−

इसे भी पढ़ें: राजमा खाने के इन फायदों से अब तक नावाकिफ होंगे आप

ह्दय रोगों से बचाव

फोलेट ह्दय रोग के जोखिम को कम करता है। वहीं अगर आहार में फोलेट की मात्रा कम हो तो फोलिक एसिड का सेवन किया जा सकता है। फोलिक एसिड भी धमनियों की मोटाई को कम करता है, एथेरोस्क्लेरोसिस को रोकता है।

कैंसर का जोखिम कम

आपको शायद पता न हो लेकिन फोलिक एसिड के जरिए कैंसर के खतरे को भी काफी हद तक कम किया जा सकता है। अमूमन कोलन कैंसर, गर्भाशय ग्रीवा कैंसर, स्किन कैंसर, स्तन कैंसर व एसोफैगल कैंसर के जोखिम को कम करने में सहायक है।

इसे भी पढ़ें: गर्मी में हीटस्ट्रोक का रहता है खतरा, ऐसे करें बचाव

गर्भस्थ शिशु के लिए आवश्यक 

भ्रूण की वृद्धि और विकास में फोलेट की अहम् भूमिका होती है और इसलिए एक गर्भवती स्त्री के शरीर में फोलेट की कमी न हो, उसे फोलिक एसिड की गोलियां दी जाती है। फोलेट की कमी के चलते कई बार शिशु कई प्रकार के जन्मजात दोषों से भी युक्त हो जाता है।

रोके बालों का झड़ना

आज के समय में लोगों को असमय बालों के झड़ने की समस्या का सामना करना पड़ता है। इसके पीछे का मुख्य कारण व्यक्ति का खानपान भी होता है। जब व्यक्ति के शरीर में फोलेट और विटामिन बी 12 की कमी होती है तो असमय ही बाल झड़ने लगते हैं। फोलेट लाल रक्त कोशिकाओं के उत्पादन में मदद करता है और जिससे शरीर में ऑक्सीजन का प्रवाह बेहतर होता है। जिससे बालों का असमय सफेद होना और बाल झड़ने जैसी समस्याओं से निजात मिलती है। 

इसे भी पढ़ें: गर्मी के मौसम में ककड़ी का सेवन बचाएगा इन परेशानियों से

रखें इसका ध्यान

फोलिक एसिड का इस्तेमाल शरीर में फोलेट की कमी के कारण होता है, लेकिन इसका इस्तेमाल हमेशा डॉक्टर की सलाह पर ही करना चाहिए। कोशिश करें कि आप नेचुरल चीजों से ही शरीर में विटामिन बी 12 की कमी को पूरा करें। 

मिताली जैन

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

अन्य न्यूज़