आर्थराइटिस होने पर नजर आते हैं यह लक्षण, पहचानिए कुछ इस तरह

आर्थराइटिस होने पर नजर आते हैं यह लक्षण, पहचानिए कुछ इस तरह

एक या एक से अधिक जोड़ों में कठोरता भी आर्थराइटिस का एक सामान्य प्रारंभिक संकेत है। यह दिन के किसी भी समय हो सकता है, चाहे आप सक्रिय हों या नहीं। इसमें, आमतौर पर हाथों के जोड़ों में अकड़न शुरू हो जाती है। यह एक या दो दिनों के दौरान कई जोड़ों को प्रभावित कर सकता है।

आर्थराइटिस जिसे गठिया भी कहा जाता है, वास्तव में जोड़ों की सूजन है। यह एक ज्वाइंट या कई ज्वाइंट्स को प्रभावित कर सकता है। गठिया के लक्षण आमतौर पर समय के साथ विकसित होते हैं, लेकिन वे अचानक भी प्रकट हो सकते हैं। गठिया आमतौर पर 65 वर्ष से अधिक उम्र के वयस्कों में देखा जाता है, लेकिन यह बच्चों, किशोर और छोटे वयस्कों में भी विकसित हो सकता है। हालांकि कई बार लोग इसके लक्षणों के जरिए इसकी पहचान नहीं कर पाते हैं। तो चलिए आज हम आपको आर्थराइटिस के कुछ लक्षणों के बारे में बता रहे हैं, जिसकी मदद से आप यह जान सकते हैं कि वास्तव में आपको आर्थराइटिस है या नहीं−

इसे भी पढ़ें: जानिए क्या है ल्यूकोडर्मा और कैसे करें इसका उपचार

थकान

हेल्थ एक्सपर्ट कहते हैं कि आर्थराइटिस होने पर व्यक्ति स्वयं को असामान्य रूप से थका हुआ महसूस करता है। हफ्तों या महीनों तक थकान अन्य लक्षणों की शुरुआत से पहले आ सकती है। कभी−कभी व्यक्ति थकान के साथ−साथ खुद को बीमार या अवसादग्रस्त भी महसूस कर सकता है।

मार्निंग स्टिफनेस

हेल्थ एक्सपर्ट के अनुसार, मार्निंग स्टिफनेस अक्सर गठिया के एक प्रारंभिक संकेत के रूप में नजर आती है। यह मार्निंग स्टिफनेस जो कुछ मिनटों तक रहती है, आमतौर पर गठिया के एक लक्षण का एक लक्षण है। अगर इसका सही तरह से उपचार ना किया जाए तो इससे स्थिति काफी बिगड़ सकती है।

जोड़ों मे अकड़न

एक या एक से अधिक जोड़ों में कठोरता भी आर्थराइटिस का एक सामान्य प्रारंभिक संकेत है। यह दिन के किसी भी समय हो सकता है, चाहे आप सक्रिय हों या नहीं। इसमें, आमतौर पर हाथों के जोड़ों में अकड़न शुरू हो जाती है। यह एक या दो दिनों के दौरान कई जोड़ों को प्रभावित कर सकता है।

इसे भी पढ़ें: जानिए क्या है सिस्टिक फाइब्रोसिस और कैसे पाएं इससे छुटकारा

जोड़ो में दर्द

आर्थराइटिस होने पर जोड़ों में अकड़न के अलावा आपको दर्द का अहसास भी हो सकता है। यह आपके शरीर के किसी भी ज्वाइंट में हो सकता है। इससे आपको चलने−फिरने या फिर काम करने में परेशानी हो सकती है। दर्द के लिए सबसे आम बॉडी पार्ट उंगलियां और कलाई हैं। इसके अलावा, आप अपने घुटनों, पैरों, टखनों या कंधों में दर्द का अनुभव कर सकते हैं।

बुखार

जब जोड़ों के दर्द और सूजन जैसे अन्य लक्षणों के साथ, एक निम्न−श्रेणी का बुखार एक प्रारंभिक चेतावनी संकेत हो सकता है कि आपको रूमेटाइट आर्थराइटिस है। हालांकि, 100 डिग्री या उससे अधिक बुखार किसी अन्य बीमारी या संक्रमण की ओर इशारा करता है।

मिताली जैन





डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।