इन स्थितियों में अलसी का सेवन सेहत पर पड़ सकता है भारी

flaxseed
मिताली जैन । Mar 22, 2021 5:11PM
आंतों में रुकावट तरल पदार्थ की कमी के कारण होता है। विशेषज्ञों का कहना है कि यदि आंतों को स्वस्थ रखना है कि तरल पदार्थों का सेवन करते रहें। अगर आप तरल पदार्थ के बिना अलसी बीज का सेवन करते हैं, तो यह आपके स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचा सकता है।

जब हेल्दी फूड की बात होती है तो उसमें अलसी के बीजों का नाम भी लिया जाता है। इसमें कई तरह के पोषक तत्व पाएं जाते हैं। इसके सेवन की सलाह इसलिए भी दी जाती है, क्योंकि यह ओमेगा 3 फैटी एसिड के भरपूर है। वैसे तो अलसी के बीजों का सेवन हर किसी के द्वारा किया जा सकता है, लेकिन महिलाओं के लिए इसे विशेष रूप से लाभकारी माना गया है। हालांकि कभी−कभी अलसी का सेवन सेहत पर भारी भी पड़ सकता है। अब आप यह सोच रहे होंगे कि ऐसा कैसे संभव है। दरअसल, कुछ विशेष स्थितियों या स्वास्थ्य समस्या होने पर अलसी के बीजों से परहेज करना चाहिए। तो चलिए जानते हैं कि किन स्थितियों में व किन लोगों को अलसी के बीज का सेवन नहीं करना चाहिए−

इसे भी पढ़ें: हर महिला को अपनी डाइट में जरूर शामिल करने चाहिए यह विटामिन

दस्त

आहार विशेषज्ञों का कहना है कि अलसी के बीज कब्ज से राहत दिलाने में काफी ज्यादा फायदेमंद है। यदि इसे ज्यादा मात्रा में लिया जाए, तो मल काफी ज्यादा पतला हो सकता है। इसलिए कब्ज होने की स्थिति में सीमित मात्रा में ही इसका सेवन किया जाना चाहिए। यदि पहले से ही आपका पेट खराब है या दस्ते लगे हुए हैं, तो इससे दूर रहें। दस्त के मरीज के लिए अलसी के बीज सही नहीं है। कुछ मामलों में इसका अतिरिक्त सेवन करने से व्यक्ति को डायरिया भी हो सकता है। पेट खराब है, तो अलसी के बीज से कुछ दिनों की दूरी बना लें। स्वस्थ होने पर सीमित मात्रा में इसका सेवन करें।

आंतों में रुकावट

आंतों में रुकावट तरल पदार्थ की कमी के कारण होता है। विशेषज्ञों का कहना है कि यदि आंतों को स्वस्थ रखना है कि तरल पदार्थों का सेवन करते रहें। अगर आप तरल पदार्थ के बिना अलसी बीज का सेवन करते हैं, तो यह आपके स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचा सकता है। जिन लोगों को पहले से ही आंतों की समस्या है, उन्हें इसका सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।

एलर्जी

कुछ लोग बहुत ज्यादा अलसी के बीज का सेवन करते हैं। कई बार उन्हें पता नहीं चलता है और उन्हें अलसी के बीज से एलर्जी हो जाती है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार एलर्जी होने पर रक्त चाप का स्तर बिगड़ना, सांस लेने में तकलीफ आदि समस्याएं होने लगती हैं। यदि आपको अलसी के बीज खाने पर इस तरह कोई भी समस्या दिखे या अन्य लक्षण भी नजर आएं, तो तुरंत इसे खाना बंद कर दें। यदि अलसी के बीज खाना आपको पसंद है, तो एक बार विशेषज्ञ से सलाह ले लें।

इसे भी पढ़ें: वजन बढ़ाने के लिए बड़े काम की हैं ये 5 चमत्कारी जड़ी बूटियां, जानिए...

गर्भावस्था

हेल्थ एक्सपर्ट बताते हैं कि अलसी के बीज मासिक धर्म को प्रभावित करते हैं। इसलिए यदि कोई महिला गर्भधारण करने की मन बना रही है, तो उन्हें इसका सेवन नहीं करना चाहिए। इसी तरह जो महिलाएं गर्भवती हैं, उन्हें भी इसके सेवन से दूर रहना चाहिए। मासिक धर्म को प्रभावित करने के कारण यह गर्भ में पल रहे शिशु को नुकसान पहुंचा सकती है।

मिताली जैन

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

अन्य न्यूज़