त्वचा पर नज़र आ रहे इन बदलावों को भूलकर भी न करें नज़रअंदाज़, डैमेज होती किडनी के हैं संकेत

kidney damage
google creative
प्रिया मिश्रा । May 19, 2022 12:53PM
अगर किडनी सही ढंग से काम ना करे तो हमारे शरीर में टॉक्सिंस जमा होने लगेंगे जिसका सीधा असर हमारे दिल और लिवर पर पड़ेगा। हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक, जब किडनी ठीक ढंग से काम नहीं करती है तो इसके लक्षण हमारी त्वचा पर दिखाई देते हैं।

किडनी हमारे शरीर का एक अहम अंग है और इसके बिना हमारे शरीर के काम करने की क्षमता ना के बराबर हो जाती है। किडनी हमारे शरीर में बनने वाले जहरीले पदार्थों को फिल्टर करके यूरिन के जरिए बाहर निकालती है। अगर किडनी सही ढंग से काम ना करे तो हमारे शरीर में टॉक्सिंस जमा होने लगेंगे जिसका सीधा असर हमारे दिल और लिवर पर पड़ेगा। हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक, जब किडनी ठीक ढंग से काम नहीं करती है तो इसके लक्षण हमारी त्वचा पर दिखाई देते हैं। ऐसे में इन लक्षणों को पहचान कर आप किडनी को डैमेज होने से बचा सकते हैं - 

इसे भी पढ़ें: Men's Health: इस फल का सेवन करने से बेहतर होगा पुरुषों का यौन स्वास्थ्य, इन समस्याओं से मिलेगी राहत

जरूरत से ज्यादा ड्राई स्किन

सर्दियों में ड्राई स्किन होना आम बात है। कई लोगों को गर्मियों में भी ड्राई स्किन की समस्या का सामना करना पड़ सकता हैं। लेकिन अगर आपकी स्किन जरूरत से ज्यादा ड्राई है तो यह किडनी की बीमारी होने का संकेत हो सकता है। जयपुर मारी किडनी ठीक तरह से काम नहीं कर पाती है तो इसका असर हमारी स्किन पर दिखने लगता है। ऐसे में स्किन जरूरत से ज्यादा ड्राईजे, खुरदुरी और फ्लेकी हो जाती है। इससे आपकी स्किन टाइटल खींची हुई महसूस हो सकती है और त्वचा पर क्रैक्स आ सकते हैं।

खुजली

अगर आपकी त्वचा पर बहुत ज्यादा खुजली होती है तो यह भी किडनी की बीमारी का एक लक्षण हो सकता है। आपको स्किन में लगातार खुजली हो सकती है जिससे आपको परेशानी हो सकती है।

खरोंच के निशान

किडनी की बीमारी में खरोंच के निशान और अन्य लक्षण भी देखने को मिल सकते हैं। ऐसी स्थिति में त्वचा मोटी और कठोर हो जाती है। त्वचा पर बहुत ज्यादा खुजली करने से खरोच के निशान और खुजली वाली गांठें बन सकती हैं।

इसे भी पढ़ें: ऑफिस की इन गलत आदतों के कारण बढ़ सकता है आपका वजन, आज ही छोड़ दें

त्वचा के रंग में बदलाव

जब किडनी ठीक तरह से काम नहीं कर पाती है तो इससे शरीर में विषाक्त पदार्थों का जमाव होने लगता है। इसके कारण त्वचा के रंग में बदलाव आ सकता है। किडनी की बीमारी होने पर त्वचा का रंग पीला या ग्रे नजर आ सकता है। इसके साथ ही त्वचा पर कुछ हिस्सों में गहरी रेखाओं के साथ पीली मोटी स्किन डेवलप हो सकती है।

नाखूनों में बदलाव 

किडनी की बीमारी में पैर की उंगलियों या नाखूनों में भी बदलाव लगता है। जिन लोगों के गुर्दे ठीक तरह से काम नहीं करते हैं उनके नाखून पूरी तरह से पीले हो सकते हैं। इसके अलावा नाखूनों पर सफेद कलर की धारियां नजर आ सकती हैं।

सूजन

किडनी हमारे शरीर से एक्स्ट्रा तरल पदार्थ और नमक को निकल देती है। लेकिन जब तक नहीं ठीक तरह से काम नहीं कर पाती है तो इससे शरीर में फ्लुएड और नमक जमा होने लगता है। इसके कारण हाथ, पैर और शरीर में अन्य हिस्सों में सूजन हो सकती है।

स्किन पर फफोले

किडनी डिजीज से गंभीर रूप से पीड़ित लोगों की स्किन पर फफोले हो सकते हैं। ये फफोले हाथ, चेहरे या पैर, कहीं भी हो सकते हैं। इसके अलावा किडनी डिजीज में त्वचा पर रैशेज भी हो सकते हैं।

- प्रिया मिश्रा 

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

अन्य न्यूज़