पेट से जुड़े इन लक्षणों को ना करें नज़रअंदाज़, हो सकता है ओमिक्रॉन संक्रमण का संकेत

पेट से जुड़े इन लक्षणों को ना करें नज़रअंदाज़, हो सकता है ओमिक्रॉन संक्रमण का संकेत

डॉक्टरों के मुताबिक ओमीक्रॉन के कुछ नए लक्षण सामने आए हैं, जो पेट से जुड़े हैं। हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक, अगर आप बिना बुखार के भी मतली या पेट दर्द से पीड़ित हैं, तो ये ओमिक्रॉन संक्रमण के कारण हो सकता है।

देशभर में ओमिक्रॉन  से संक्रमित लोगों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। डॉक्टरों के मुताबिक ओमिक्रॉन के लक्षण कुछ मायनों में डेल्टा से अलग हैं। ओमिक्रॉन  से पीड़ित लोगों में हल्का बुखार, गले में खराश, नाक बहना, खांसी आदि जैसे हल्के लक्षण होते हैं। इसके अलावा डॉक्टरों के मुताबिक ओमीक्रॉन के कुछ नए लक्षण सामने आए हैं, जो पेट से जुड़े हैं। हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक, अगर आप बिना बुखार के भी मतली या पेट दर्द से पीड़ित हैं, तो ये ओमिक्रॉन  संक्रमण के कारण हो सकता है। डॉक्टरों का कहना है कि अगर बुखार, जुकाम-खांसी या सांस लेने में तकलीफ के अलावा पेट में अचानक ऐंठन होने लगे तो कोविड की जांच करा लेनी चाहिए।

इसे भी पढ़ें: एक्सरसाइज करते हुए अक्सर लोग कर बैठते हैं यह चार गलतियां

पेट को प्रभावित कर रहा है ओमीक्रॉन 

ओमिक्रॉन  आपके श्वसन तंत्र को प्रभावित कर सकता है और साथ ही पेट खराब भी कर सकता है। ओमिक्रॉन  के नए लक्षणों में जी मिचलाना, पेट में दर्द, जी मिचलाना, भूख ना लगना और दस्त शामिल हैं। यहां तक ​​​​कि कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज़ ले चुके लोगों में भी ये लक्षण देखने को मिले हैं। हालांकि, डॉक्टरों का कहना है कि चूंकि अधिकांश रोगियों को दो बार टीका लगाया जा चुका है इसलिए ये नए लक्षण चिंता का कारण नहीं होंगे।

इन लक्षणों को ना करें नज़रअंदाज़

बहुत से लोग बुखार, जुकाम-खांसी या पेट खराब होने को बहुत हल्के में लेते हैं। लेकिन हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक सामान्य सर्दी के मामले में पेट में दर्द, मतली, भूख ना लगना आदि जैसे कोई लक्षण दिखाई नहीं देते हैं। इसलिए अगर आपको ऐसे लक्षण हैं तो कोरोना जांच अवश्य कराएं। इसके साथ ही पेट में दर्द या मतली की समस्या होने पर स्वस्थ और हल्का भोजन करें और पानी भी ज्यादा पिएँ। ऐसी स्थिति में मसालेदार भोजन और शराब के सेवन से बचें।

इसे भी पढ़ें: कई बीमारियों में रामबाण इलाज है पादहस्तासन, जानें इसे करने का तरीका और फायदे

लक्षण दिखने पर करें ये काम 

साफ-सफाई का पूरा ध्यान रखें। खाना बनाने या खाने से पहले अपने हाथों को साबुन से अच्छी तरह धोएं। 

आधा पका हुआ खाना ना खाएं। अच्छे से पकने के बाद ही खाएं।

फल खाने से पहले उसे कुछ देर के लिए पानी में भिगो दें, फिर उसे अच्छे से धोकर खाएं। 

इस समय बाहर के खाने से बिल्कुल परहेज करें।

कोविड प्रोटोकॉल का पूरी तरह पालन करें। 

आइसोलेशन अवधि पूरी हो जाने के बाद ही अपने कमरे से बाहर निकलें।

 

- प्रिया मिश्रा





डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।