प्रेगनेंसी में रख रही हैं नवरात्रि का व्रत तो इन बातों का रखें ख़ास ख्याल

प्रेगनेंसी में रख रही हैं नवरात्रि का व्रत तो इन बातों का रखें ख़ास ख्याल

डॉक्टर्स प्रेगनेंसी में बिना खाए-पिए व्रत रखने की सलाह नहीं देते हैं। डॉक्टर्स के मुताबिक प्रेगनेंसी में ज्यादा देर बिना खाए-पिए रहने से गर्भवती महिला और शिशु की सेहत पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है। प्रेगनेंसी में दिनभर भूखे-प्यासे रहने से आपको डीहाइड्रेशन और शुगर लेवल कम होने जैसी दिक्क्तें हो सकती हैं।

नवरात्रि व्रत में लोग नौ दिनों तक माँ दुर्गा के नौ रूपों की पूजा करते हैं और व्रत रखते हैं। कुछ लोग नवरात्रि में पहले और आखिरी दिन व्रत रखते हैं तो कुछ लोग पूरे नौ दिनों तक व्रत करते हैं। ऐसे में गर्भवती महिलाऐं अक्सर इस बात को लेकर चिंता में रहती हैं कि वे नवरात्रि का व्रत कैसे रखें क्योंकि हिन्दू धर्म के अनुसार एक बार कोई भी व्रत शुरू कर दिया तो बीच में छोड़ना सही नहीं माना जाता है। लेकिन डॉक्टर्स प्रेगनेंसी में बिना खाए-पिए व्रत रखने की सलाह नहीं देते हैं। डॉक्टर्स के मुताबिक प्रेगनेंसी में ज्यादा देर बिना खाए-पिए रहने से गर्भवती महिला और शिशु की सेहत पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है। प्रेगनेंसी में दिनभर भूखे-प्यासे रहने से आपको डीहाइड्रेशन और शुगर लेवल कम होने जैसी दिक्क्तें हो सकती हैं। तो अगर आप भी इस बात को लेकर चिंतित हैं कि प्रेगनेंसी में नवरात्रि व्रत कैसे रखें तो आज का हमारा लेख आपके लिए है। आज हम आपको ऐसी कुछ टिप्स बता रहे हैं, जिन्हें आपको प्रेगनेंसी में नवरात्रि व्रत रखते समय ध्यान में रखना चाहिए−

इसे भी पढ़ें: जूस पीने का भी होता है सही समय, जानिए इस लेख में

खाएँ पौष्टिक आहार

अगर आप प्रेगनेंट हैं तो व्रत में पौष्टिक आहार लें जिससे आपको दिनभर व्रत रखने की ऊर्जा मिलती रहे। ऐसे में आप दूध, फल, ड्राई फ्रूट्स, जूस, आलू या खीरा और लौकी जैसी सब्जियाँ आदि लें जिससे आपको दिनभर कमजोरी महसूस ना हो। इसके अलावा आप दिनभर में फ्रूट्स या जूस ले सकती हैं।  

पानी पीती रहें

अगर आप प्रेगनेंट हैं तो व्रत में दिभर पर्याप्त मात्रा में पानी पीती रहें। अक्सर लोग व्रत में पानी कम पीते हैं जिससे शरीर में पानी की कमी होने का खतरा रहता है। इससे आपके और आपके शिशु के स्वास्थ्य पर बुरा असर हो सकता है। आप व्रत में थोड़ी-थोड़ी देर में पानी पीती रहें जिससे आपको पानी की कमी ना हो।

नमक का सेवन करें 

कई महिलाएँ नवरात्रि व्रत में नमक नहीं खाती हैं। लेकिन प्रेगनेंट महिलाओं को व्रत में नमक का सेवन नहीं करना चाहिए। नमक ना खाने से आपका बीपी लो हो सकता है जिससे चक्कर, कमजोरी और मितली जैसी समस्याएँ पैदा हो सकती हैं।

इसे भी पढ़ें: किन कारणों से होता है स्लिप डिस्क? जानें लक्षण और बचाव के उपाय

आराम करें

नवरात्रि व्रत में अक्सर महिलाओं को कमजोरी महसूस होने लगती है। ऐसे में अगर आप प्रेगनेंट हैं तो व्रत रखने से आपको ज्यादा परेशानी हो सकती है। कमजोरी या चक्कर से बचने के लिए किसी भी तरह का भारी काम करने से बचें। आप खुद को व्यस्त रखने की कोशिश करें और जितना हो सके आराम करें।

डॉक्टर की सलाह लें 

अगर आपको पहले से ही शुगर और बीपी जैसी समस्याएं हैं तो व्रत रखने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें। इसके अलावा अगर आपको व्रत के दौरान कोई परेशानी हो रही है तो अपनी सेहत को नज़रअंदाज़ ना करें और डॉक्टर से सलाह लें।

- प्रिया मिश्रा





डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

लाइफस्टाइल

झरोखे से...