पीरियड्स में सेक्स करने से होते हैं कई जबरदस्त फायदे, जानकर आप भी हो जाएंगे दंग

पीरियड्स में सेक्स करने से होते हैं कई जबरदस्त फायदे, जानकर आप भी हो जाएंगे दंग

पीरियड्स के दौरान सेक्स करने को लेकर कई तरह के सवाल होते हैं। कुछ लोगों इस बात को लेकर दुविधा में रहते हैं कि पीरियड्स के दौरान सेक्स करना चाहिए या नहीं। तो वहीं कुछ महिलाओं को लगता है कि पीरियड के दौरान सेक्स करना सिर्फ नहीं है और इससे उनके स्वास्थ्य पर बुरा असर होगा।

हमारे समाज में पीरियड्स के दौरान महिलाओं को कई चीजों की मनाही होती है। जहां कुछ लोग पीरियड्स के दौरान मंदिर जाना या कोई पवित्र काम करना सही नहीं मानते हैं। वहीं, कुछ कपल्स इस दौरान यौन संबंधों से भी दूर रहते हैं। लोगों के मन में पीरियड्स के दौरान सेक्स करने को लेकर कई तरह के सवाल होते हैं। कुछ लोगों इस बात को लेकर दुविधा में रहते हैं कि पीरियड्स के दौरान सेक्स करना चाहिए या नहीं। तो वहीं कुछ महिलाओं को लगता है कि पीरियड के दौरान सेक्स करना सिर्फ नहीं है और इससे उनके स्वास्थ्य पर बुरा असर होगा। हालांकि आपको जानकर हैरानी होगी कि पीरियड्स के दौरान सेक्स करने से कई फायदे होते हैं। आज के इस लेख में हम आपको पीरियड्स के दौरान सेक्स करने के फायदे बताएंगे- 

इसे भी पढ़ें: कोरोना बना रहा है नपुंसक? रिकवर होने के बाद युवक के पेनिस की लंबाई 1.5 इंच हुई कम

पीरियड्स पेन से राहत

कई महिलाओं को पीरियड्स के दौरान तेज दर्द होता है। ऐसे में सेक्स करने से मैन्स्ट्रयुअल पेन में राहत मिलती है। डॉक्टर्स के मुताबिक पीरियड्स में सेक्स करने से शरीर में ऑक्सीटोसिन, डोपामाइन हार्मोन्स और ऐंडोरफिंस का स्तर बढ़ता है जिससे पीरियड्स के दौरान होने वाले दर्द में राहत मिलती है।  


प्रेगनेंसी के कम चांस 

आम दिनों की तुलना पीरियड्स में सेक्स करने से गर्भ ठहरने की संभावना काफी कम होती है।  डॉक्टर्स के मुताबिक पीरियड्स के दौरान प्रेगनेंट होने के सिर्फ 15 प्रतिशत ही संभावना होती है। पीरियड्स के दौरान आप प्रेगनेंसी के डर के बिना अपने पार्टनर के साथ सेक्स एंजॉय कर सकते हैं।  हालाँकि, अगर आप प्रेगनेंट नहीं होना चाहती हैं तो पीरियड्स के दौरान भी प्रोटेक्शन लेना बेहतर रहेगा।  


मूड स्विंग कम होता है

पीरियड्स में मूड स्विंग होना आम बात है।  पीरियड्स शुरू होने से कुछ दिनों पहले से ही महिलाओं के स्वभाव में बदलाव आ जाता है। पीरियड्स के दौरान महिलाओं में गुस्सा या चिड़चिड़ापन बढ़ जाता है।  ऐसे में पीरियड्स में सेक्स करने से मूड स्विंग से राहत मिलती है।  सेक्स के दौरान निकलने वाले ऐंडोरफिंस और ऑक्सीटोसिन हार्मोन्स मूड अच्छा बनाते हैं और तनाव कम करते हैं।  जो महिलाएं पीरियड्स के दौरान चिड़चिड़ापन महसूस करती हैं उन्हें पीरियड्स में सेक्स से काफी आराम मिलता है।

इसे भी पढ़ें: किडनी को पूरी तरह डैमेज कर सकती हैं आपकी ये 8 आदतें, आज ही छोड़ दें

सेक्स ड्राइव बढ़ती है

पीरियड्स के दौरान हार्मोनल बदलाव के कारण महिला की लिबिडो साइकिल बदलती रहती है। कुछ लोगों के मुताबिक उन्हें ओव्यूलेशन के समय या पीरियड्स से 2 हफ्ते पहले सेक्स ड्राइव बढ़ जाती है, वहीं कुछ रिपोर्ट्स के मुताबिक कई लोगों ने बताया कि पीरियड्स के दौरान उनकी सेक्स ड्राइव बढ़ जाती है।  

सिरदर्द से राहत

अधिकतर महिलाओं को पीरियड्स के दौरान सिरदर्द की समस्या होती है। हालाँकि, कुछ महिलाएँ सिरदर्द में पीरियड्स में सेक्स करने से कतराती हैं।  लेकिन इस दौरान सेक्स करने से सिरदर्द या माइग्रेन में राहत मिलती है।  


ल्युब्रिकेंट की जरुरत नहीं  

कई महिलाओं को सेक्स के दौरान आर्टिफिशल ल्युब्रिकेंट की जरूरत पड़ती है। हालाँकि, पीरियड्स के दौरान निकलने वाला ब्लड एक नेचुरल ल्युब्रिकेंट की तरह काम करता है। कुछ लोग पीरियड्स के दौरान सेक्स करने से हिचकिचाते हैं लेकिन पीरियड्स में सेक्स करने के कई फायदे हैं।

- प्रिया मिश्रा





डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।