दुनिया की सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्म Avatar की एक बार फिर वापसी, इस दिन होगी सिनेमाघरों में रिलीज

Avatar
Avatar Twitter
रेनू तिवारी । Aug 24, 2022 9:32AM
फिल्म को रिलीज करने का मकसद यह है कि अगर आपने पहला पार्ट न होता हो या भव्य वीएफएक्स के साथ फिल्म को एक बार फिर से सिनेमाघरों में देखना चाहते हैं तो फिल्म को आप सिनेमाघरों में देख सकते हैं। फिल्म आईमैक्स, 4के / एचडीआर, और निश्चित रूप से- 3डी सहित "सभी प्रारूपों" में दिखाई जाएगी।

साल 2009 में  जेम्स कैमरून की अकादमी पुरस्कार विजेता फिल्म 'अवतार' रिलीज हुई थी। सिनेमा के इतिहास में अवतार अब तक सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्म हैं। 23.7 करोड़ अमरीकी डॉलर में बनीं फिल्म ने 284.74 करोड़ अमरीकी डॉलर कमाये थे। फिल्म को भारत में भी जबरदस्त ओपनिंग मिली थी। अब 13 साल बाद फिल्म का दूसरा पार्ट यानी की सीक्वल 'अवतार: द वे ऑफ वॉटर' आने वाला है। फिल्म भारत में दिसंबर 2022 में रिलीज होगी लेकिन रिलीज से पहले अवतार के पहले पार्ट को सिमेनाघरों में यादों को ताजा करने के लिए रिलीज किया जा रहा है। फिल्म 23 सितंबर को सिनेमाघरों में लौटने के लिए तैयार है। 

इसे भी पढ़ें: बेस्ट एक्ट्रेस की नोमिनेशन लिस्ट से फिल्मफेयर ने कंगना रनौत को किया बाहर, पहले किया गया था फंक्शन में आने का अनुरोध

फिल्म को रिलीज करने का मकसद यह है कि अगर आपने पहला पार्ट न होता हो या भव्य वीएफएक्स के साथ फिल्म को एक बार फिर से सिनेमाघरों में देखना चाहते हैं तो फिल्म को आप सिनेमाघरों में देख सकते हैं। फिल्म आईमैक्स, 4के / एचडीआर, और निश्चित रूप से- 3डी सहित "सभी प्रारूपों" में दिखाई जाएगी। 

इसे भी पढ़ें: ट्विटर पर ट्रेंड हुआ #BoycottLiger तो Vijay Devarakonda का फूटा गुस्सा, बोले- मैं किसी से नहीं डरता...

फिल्म का दूसरा भाग  'अवतार: द वे ऑफ वॉटर' 16 दिसंबर, 2022 को विश्व स्तर पर थियेटर में प्रदर्शित होगा। दूसरी किस्त - 'अवतार: द वे ऑफ वॉटर' 20वीं सदी के स्टूडियो द्वारा अंग्रेजी, हिंदी, तमिल, तेलुगु, कन्नड़ और मलयालम में रिलीज की जाएगी। निर्माताओं ने इस साल मई में फिल्म के टीज़र का अनावरण किया। पहली फिल्म की घटनाओं के एक दशक से भी अधिक समय के बाद सेट, 'अवतार: द वे ऑफ वॉटर' सुली परिवार (जेक, नेयतिरी और उनके बच्चों) की कहानी बताती है, जो परेशानी उनके बाद आती है, वे कितनी लंबाई रखते हैं एक-दूसरे को सुरक्षित रखते हैं, जिंदा रहने के लिए वे जो लड़ाई लड़ते हैं, और जिन त्रासदियों को सहते हैं। 

अन्य न्यूज़