बंद की वजह से पाकिस्तान में फंसे 248 भारतीय नागरिक स्वदेश लौटे

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जून 25, 2020   20:52
बंद की वजह से पाकिस्तान में फंसे 248 भारतीय नागरिक स्वदेश लौटे

अधिकारी ने बताया कि फंसे भारतीय नागरिकों की वापसी के लिए 25-27 जून तक बाघा बॉर्डर खुला रहेगा। उन्होंने बताया कि फंसे भारतीय नागरिकों में से 300 सिंध में हैं, 80 लाहौर, 15 ननकाना साहिब, 12 इस्लामाबाद और अन्य पाकिस्तान के अन्य हिस्सों में हैं। ये नागरिक अपने रिश्तेदारों से मिलने या धार्मिक यात्रा के लिए गए थे।

लाहौर। कोरोना वायरस महामारी रोकने के लिए लागू लॉकडाउन की वजह से पाकिस्तान में फंसे 248 भारतीय नागरिक बाघा बॉर्डर से स्वदेश लौट आए हैं। विदेश मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि फंसे करीब 500 भारतीय नगारिक अगले दो दिन में स्वेदश लौट आएंगे। बृहस्पतिवार को लौटे ज्यादातर लोग गुजरात, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, पंजाब और मध्य प्रदेश के हैं। अधिकारी ने बताया, ‘‘248 भारतीय नागरिक आज (बृहस्पतिवार) बाघा बॉर्डर के रास्ते स्वदेश रवाना हो गए।’’

इसे भी पढ़ें: ‘फेयर एंड लवली’ से ‘फेयर’ शब्द हटाएगी हिंदुस्तान यूनिलीवर

भारतीय नागरिक सुबह में बाघा बॉर्डर पर पहुंचे लेकिन आव्रजन और सीमाशुल्क अधिकारियों ने आव्रजन प्रक्रिया पूरा करने में कई घंटे लगा दिए। विदेश मंत्रालय ने नागरिकों के लौटने की निगरानी की। अधिकारी ने बताया कि फंसे भारतीय नागरिकों की वापसी के लिए 25-27 जून तक बाघा बॉर्डर खुला रहेगा। उन्होंने बताया कि फंसे भारतीय नागरिकों में से 300 सिंध में हैं, 80 लाहौर, 15 ननकाना साहिब, 12 इस्लामाबाद और अन्य पाकिस्तान के अन्य हिस्सों में हैं। ये नागरिक अपने रिश्तेदारों से मिलने या धार्मिक यात्रा के लिए गए थे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।