तालिबान से लड़ने के लिए अमेरिका से और मदद चाहता है अफगान

[email protected] । Mar 22 2017 11:12AM

अफगानिस्तान चाहता है कि अमेरिका तालिबान और इस्लामिक स्टेट के खिलाफ लड़ाई में सैन्य बलों की कमी को पूरा करने के लिए और बल अफगानिस्तान में भेजे।

वाशिंगटन। अफगानिस्तान चाहता है कि अमेरिका तालिबान और इस्लामिक स्टेट के खिलाफ लड़ाई में सैन्य बलों की कमी को पूरा करने के लिए और बल अफगानिस्तान में भेजे। अफगानिस्तान के विदेश मंत्री सलाहुद्दीन रब्बानी ने अफगानिस्तान में अमेरिका के शीर्ष कमांडर जॉन निकोल्सन की उस बात का स्वागत किया, जिसमें उन्होंने अमेरिका या गठबंधन के अन्य पक्षों से और कुछ हजार सैनिक युद्ध से प्रभावित इस देश में भेजने की बात कही थी।

ट्रंप प्रशासन ने अब तक यह नहीं बताया है कि वह निकोल्सन की टिप्पणी की प्रतिक्रिया में और अधिक सैन्य बल अफगानिस्तान भेजेगा या नहीं। अफगानिस्तान में अभी 8,400 अमेरिकी सैनिक तनात हैं। यहां अमेरिकी सैनिक आतंकवादियों से मुकाबला करने के लिए अभियान चला रहे हैं और अफगानिस्तान के सैनिकों को प्रशिक्षण दे रहे हैं। अफगानिस्तान में 16 साल से युद्ध चल रहा है। काबुल के एक सैन्य अस्पताल पर इस महीने हुए भीषण हमले का हवाला देते हुए रब्बानी ने कहा कि अफगानिस्तान अपने सैन्य बलों की कमी को पूरा करने के लिए अमेरिका की मदद चाहता है। रब्बानी ने कहा, ‘‘हमें विश्वास है कि राष्ट्रपति ट्रंप के नेतृत्व वाला अमेरिकी प्रशासन रणनीतिक रूप से इस मामले से जुड़ा रहेगा और अपना सहायता जारी रखेगा।’’

Tags

    All the updates here:

    अन्य न्यूज़