2020 के परमाणु संधि सम्मेलन में समझौते पर अमेरिका ने जताया संशय

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: May 11 2019 5:35PM
2020 के परमाणु संधि सम्मेलन में समझौते पर अमेरिका ने जताया संशय
Image Source: Google

संधि में शामिल सभी सदस्य हर पांच साल पर इसकी समीक्षा करते हैं। सदस्य देश संधि को अद्यतन नहीं करते क्योंकि ऐसा करना कठिन है। लेकिन वे समस्याओं के बारे में नए दृष्टिकोणों पर सहमत होने का प्रयास करते हैं।

संयुक्त राष्ट्र। परमाणु अप्रसार संधि (एनपीटी) की अगले साल होने वाली समीक्षा की तैयारी के लिए आखिरी बैठक शुक्रवार को गहरे मतभेदों के बीच समाप्त हुयी और अमेरिकी राजदूत राबर्ट वुड ने कहा कि 2020 के सम्मेलन में किसी समझौते पर पहुंचना काफी कठिन होगा। हालांकि, उन्होंने दो सप्ताह तक चले सम्मेलन के आखिरी सत्र में कहा, ‘‘यह ऐसा कार्य है जिसे हम छोड़ नहीं सकते।’’ परमाणु अप्रसार संधि परमाणु हथियारों के संबंध में दुनिया का सबसे महत्वपूर्ण समझौता है और इसका मकसद परमाणु हथियारों के प्रसार को रोकना है।

भाजपा को जिताए

इसे भी पढ़ें: ईरान के तनाव के बीच अमेरिका ने पैट्रियाट मिसाइल सिस्टम पश्चिम एशिया में भेजा

इसके लिए वे सर्वसम्मति बनाने की कोशिश करते हैं। संयुक्त राष्ट्र में मलेशिया के राजदूत सैयद मोहम्मद हसरीन तेंगकु हुसैन तैयारियों से जुड़े तीसरे सम्मेलन के अध्यक्ष थे। उन्होंने शुक्रवार को संवाददाताओं से कहा कि सदस्य देशों के प्रतिनिधि ‘कुछ बातों पर सहमत नहीं हैं लेकिन वे संधि के पूर्ण कार्यान्वयन के लिए प्रतिबद्ध हैं। 

 


रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video