• किम के ऐलान से बाइडेन परेशान, अब क्या करने जा रहा उत्तर कोरियाई तानाशाह?

अभिनय आकाश Oct 12, 2021 19:32

किम ने कहा कि नॉर्थ कोरिया अपने पड़ोसी देश साउथ कोरिया से नहीं लड़ना चाहता। उन्होंने कहा कि हम किसी के साथ युद्ध की चर्चा नहीं कर रहे हैं बल्कि असल में युद्ध रोकने के लिए ऐसा कर रहे हैं।

उत्तर कोरिया के सनकी तानाशाह किम जोंग उन ने घोषणा की है कि वो अमेरिका की प्रतिकूल नीतियों के बावजूद अपनी देश की सेना को अजेय बनाएंगे। उत्तर कोरिया की सरकारी मीडिया के अनुसार किम जोंग ने ये भी कहा कि वे देश में जो भी हथियार विकसित कर रहे हैं वो आत्मरक्षा के लिए हैं न कि युद्ध शुरू करने के लिए। किम जोंग ने ये बयान रक्षा प्रदर्शनी में दिया जहां वो अलग-अलग तरह के मिसाइलों से घिरे नजर आए। इस प्रदर्शनी में टैंक, मिसाइलें जैसे कई तरह के सैन्य उपकरण शामिल थे। किम ने कहा कि नॉर्थ कोरिया अपने पड़ोसी देश साउथ कोरिया से नहीं लड़ना चाहता। उन्होंने कहा कि हम किसी के साथ युद्ध की चर्चा नहीं कर रहे हैं बल्कि असल में युद्ध रोकने के लिए ऐसा कर रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: गंभीर स्थिति में उत्तर कोरिया के हालात, खुद नेता किम जोंग ने की अपने नागरिकों से यह अपील

अमेरिका की कथनी करनी में फर्क

किम ने उत्तर कोरिया और दक्षिण कोरिया के तनाव के लिए अमेरिका को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा कि अमेरिका कोरियाई प्रयाद्वीप पर अस्थिरता की जड़ है। अमेरिका अक्‍सर संकेत देता रहता है कि वह उत्‍तर कोरिया के प्रति शत्रुत्रापूर्ण व्‍यवहार नहीं रखता है लेकिन जमीन पर उसका व्‍यवहार देखकर अमेरिका की कथनी पर भरोसा नहीं होता है।

हथियारों का प्रदर्शन 

उत्तर कोरिया ने हाल ही में एक हाइपरसोनिक और एक एंटी-एयरक्राफ़्ट मिसाइल के परीक्षण का दावा किया था। किम जोंग उन जब यह बयान दे रहे थे, उनके ठीक बगल में Hwasong-16 अंतरमहाद्वीपीय परमाणु मिसाइल और अन्‍य महाविनाशक हथियारों की तस्‍वीर लगी हुई थी। इस महाविनाशक मिसाइल का उत्‍तर कोरिया ने अक्‍टूबर 2020 के मिलिट्री परेड में प्रदर्शन किया था।