रूस की अध्यक्षता में ब्रिक्स देशों ने की आतंकवाद की कड़ी निंदा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 27, 2019   13:02
रूस की अध्यक्षता में ब्रिक्स देशों ने की आतंकवाद की कड़ी निंदा

इसके अनुसार मंत्रियों ने अंतरराष्ट्रीय कानून और संयुक्त राष्ट्र के तत्वावधान में पुख्ता प्रयास का आह्वान किया तथा सीसीआईटी को जल्द से जल्द स्वीकार किये जाने की आवश्यकता पर जोर दिया।

न्यूयॉर्क। ब्रिक्स देशों ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका ने हर रूप में आतंकवाद की कड़ी निंदा की और अंतरराष्ट्रीय आतंकवाद पर व्यापक संधि (सीसीआईटी) को जल्द से जल्द अपनाने का आह्वान किया। ब्रिक्स देशों के विदेश/अंतरराष्ट्रीय संबंध मामलों के मंत्रियों ने संयुक्त राष्ट्र महासभा के 74वें सत्र से इतर बृहस्पतिवार को अपनी सालाना बैठक की। 2020 के आगामी अध्यक्ष के नाते रूस ने बैठक की अध्यक्षता की।

इसे भी पढ़ें: पोम्पिओ रूस के शीर्ष राजनयिक सेर्गेई लावरोव से करेंगे मुलाकात

यहां जारी आधिकारिक विज्ञप्ति के अनुसार, ‘‘मंत्रियों ने हर रूप में आतंकवाद और उसके स्वरूप की निंदा की, चाहे इसे जो भी जहां कहीं भी अंजाम दे। उन्होंने इस बात पर पूरा विश्वास जताया कि आतंकवाद के खिलाफ प्रभावी लड़ाई सुनिश्चित करने के लिये व्यापक दृष्टिकोण आवश्यक है।’’

इसे भी पढ़ें: मास्को में रूसी अधिकारियों के साथ तालिबान की बैठक

इसके अनुसार मंत्रियों ने अंतरराष्ट्रीय कानून और संयुक्त राष्ट्र के तत्वावधान में पुख्ता प्रयास का आह्वान किया तथा सीसीआईटी को जल्द से जल्द स्वीकार किये जाने की आवश्यकता पर जोर दिया। राजनीतिक, सुरक्षा, आर्थिक, वित्तीय और टिकाऊ विकास के क्षेत्र में संयुक्त राष्ट्र के एजेंडा में शामिल प्रमुख वैश्विक एवं क्षेत्रीय मुद्दों पर विचारों के आदान-प्रदान के साथ अंतर-ब्रिक्स गतिविधियों पर भी चर्चा हुई। उन्होंने जोर दिया कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के कार्य में 2019-2020 के लिये चयनित सदस्य दक्षिण अफ्रीका समेत ब्रिक्स देशों की भागीदारी शांति एवं सुरक्षा के मुद्दे पर निरंतर संवाद तथा सहयोग बनाये रखने का एक मूल्यवान अवसर है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।