ब्रिटिश युद्धपोत को ईरानी बलों ने टैंकर जब्त करते समय दी थी चेतावनी, ऑडियो आया सामने

british-warship-was-given-by-iranian-forces-while-seizing-the-tanker
ईरान के सशस्त्र बलों ने इस महीने एक टैंकर जब्त करते समय ब्रिटिश युद्धपोत के चालक दल के सदस्यों को चेतावनी देते हुये कहा था कि ‘‘जीवन खतरे में’’ न डालें।

तेहरान। ईरान के सशस्त्र बलों ने इस महीने एक टैंकर जब्त करते समय ब्रिटिश युद्धपोत के चालक दल के सदस्यों को चेतावनी देते हुये कहा था कि ‘‘जीवन खतरे में’’ न डालें। सोमवार को इस घटना से संबंधित एक नई रिकॉर्डिंग जारी की गई। यह ऑडियो संदेश एक युद्धपोत के हवाई वीडियो फुटेज के साथ जारी किया गया है।

इसे भी पढ़ें: ब्रिटेन द्वारा ईरानी तेल टैंकर को पकड़ना 2015 के परमाणु समझौते का उल्लंघन है: ईरान

समझा जाता है कि यह युद्धपोत एचएमएस मॉनट्रोस है। जिसके बारे में ब्रिटेन के रक्षा मंत्री ने कहा था कि खाड़ी के इलाके में एक युद्धपोत को एक अन्य सैन्यपोत एचएमएस डंकन का साथ देने के लिए भेजा गया था। ईरान की इस्लामिक रिवोल्यूशनरी गार्ड कोर ने ब्रिटिश झंडा लगे टैंकर ‘‘स्टेना इम्पेरो’’ को 19 जुलाई को जब्त कर लिया था।

इसे भी पढ़ें: बोरिस ने संसद में कहा, ब्रिटेन के ‘नये स्वर्ण युग’ के लिए करेंगे काम

सरकारी टीवी पर जारी इस रिकार्डिंग में नौसेना के एक ईरानी अधिकारी को यह कहते सुना जा सकता है कि ब्रिटिश युद्धपोत फॉक्सट्रोट 236, आपसे अनुरोध है कि इस मामले में हस्तक्षेप न करें। इस पर युद्धपोत पर तैनात एक अधिकारी उत्तर देता है कि वह अंतरराष्ट्रीय रूप से स्वीकृत खाड़ी में है और वह व्यापारिक पोत के पास है जो कि वहां से गुजर रहा है। इस पर ईरानी अधिकारी कहता है कि ब्रिटिश युद्धपोत फॉक्सट्रोट 236, अपने जीवन को खतरे में मत डालो।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़